BNT

BNT

:बाड़मेर  ऊंची आवाज व्यक्ति का वर्चस्व खत्म कर देता है---आज़ाद 




बाड़मेर जो व्यक्ति धैर्य और संयम रखता है वो ही जिंदगी में आगे बढ़ता हैं ।जो व्यक्ति ऊंची आवाज में बात करता है उनका वर्चव जल्दी खत्म होता हैं।।युवाओ को अपनी भाषा और वाणी पर संयम रखना चाहिए।।यह बात युवा उद्ध्यमि ग्रुप फ़ॉर पीपल के अध्यक्ष आज़ाद सिंह राठौड़ ने ग्रुप फ़ॉर पीपल द्वारा राणा राजपूत छात्रावास में आयोजित एक दिवसीय एज्यूकेशनल एवम बिजनेश मोटिवेशन शिविर के दौरान मुख्य वक्ता के रूप में कही।।उन्होंने कहा कि युवा वर्ग अपना लक्ष्य निर्धारित कर केरियर चुने।उन्होंने उदाहरण देते हुए कहा कि आपकीं सफलता में आपकीं वाणी और चरित्र महत्वपूर्ण भूमिका निभाता हैं। लक्ष्य हासिल करने के लिए खुदको समर्पित करना होगा।।उन्होंने कहा कि व्यापार में उतरने से पहले जो बिजनेश आप करना चाहते है उसके भविष्य की संभावना सर्प्रथम देखे।।उस व्यापार को पहले समझने का कार्य करे।।फिर मैदान में उतरे।।राठौड़ ने युवाओ को बिजनेश और राजनीति में सफल होने के कई टिप्स बताये।।इस अवसर पर कार्यक्रम की अध्यक्षता करते हुए प्रो निम्ब सिंह पंवार ने कहा कि युवा अक्सर दशवी पास करते केरियर चुनाव के दौरान रास्ता भटक जाते हैं।उन्होंने कहा कि युवा पहले अपना लक्ष्य निर्धारित कर गुरुजनों और अभिभावकों से चर्चा कर सलाह अवश्य ले।।ये महत्वपूर्ण टर्निंग पॉइंट साबित हो सकता हैं।उन्होंने कहा कि प्रशासनिक सेवाओं में जाने के लिए आपको कमरकस तैयारी करनी होगी।।पढ़ाई को अपना दोस्त बना के रखना होगा।।उन्होंने कहा कि आपको अपने ज्ञान का दायरा बढ़ाना होगा तभी सफल हो पाएंगे।।इस अवसर पर ग्रुप संयोजक चन्दन सिंह भाटी ने कहा कि युवा वर्ग आगे बढ़ना चाहते है तो पहली शर्त आत्म विश्वास होना बेहद जरूरी ।जो युवा आत्मविश्वास के साथ लक्ष्य हासिल कर सकते हैं।साथ ही शिक्षा अर्जन के समय दुसरो पे निर्भर होना छोड़ना होगा।।दुसरो पे निर्भर रहने वाले कभी सफल नही होते।।उन्होंने कहा कि युवा वर्ग को अब अपने आदर्श बदलने होंगे।।अब वक्त महात्मा गांधी या नेहरू को आदर्श रख लक्ष्य हासिल करने का नही हैं।उन्होंने कहा अब युवा मदन सिंह इन्दा,गंगा सिंह पुरोहित,देव कुमार भादू जेसे सफल युवाओ को अपना आदर्श बना कर तैयारी करे।।सफलता आपके कदम चूमेगी।।विशिष्ट अतिथि संजय शर्मा ने कहा कि युवाओ को भेड़चाल से बचकर सुरक्षित केरियर का चुनाव करना चाहिए।।लक्ज़हय निर्धारि करने के बाद आने आपको लक्ष्य हासिल करने के लिए खुद को झोंकना ह्योग।।शिक्षा सीखने से मतलब रखती हैं।जितना सीखो उतना ज्ञान बढ़ेगा।।महोने छात्रावास की व्यवस्थाओ की तारीफ करते हुए कहा कि युवा को छात्रावास में पढ़ रहे है उनका भविज़हय उज्ज्वल हैं।।इस अवसर पर छात्रावास अधीक्षक सुरेंद्र सिंह दैया ने कहा कि राणा राजपूत समाज शिक्षा की दृष्टि से अभी पिछड़ा हैं। फिर भी इस वर्ष मदन सिंह इन्दा ने विषम परिस्थितयो से लड़ आईएएस तक का सफर तय करने में सफल रहे।।उन्होंने कहा कि छात्रावास में अध्ययन रत छात्रों के मोटीवेशन के लिए विशेष सत्र चलाये जा रहे हैं। उन्होंने छात्रावास की प्रगति का प्रतिवेदन पेश किया।।इस अवसर पर गुलाब सिंह,डॉ हरपाल सिंह राव,दुर्जन सिंह गुडिसर,नरेंद्र खत्री,छोटू सिंह पंवार,जय परमार,प्रेम सिंह निर्मोही,छगन सिंह चौहान,जगदीश परमार अमर सिंह नगर,रतन सिंह तामलोर,मदन सिंह राठौड़,भीम सिंह देवलगढ़,प्रवीण सिंह चुली,मोती सिंह परिहार, सहित कई मौजिज लोग उपस्थित थे।।।छात्र मोती सिंह परिहार,भवानी सिंह तामलोर ने भी अपने विचार रखे।। अतिथियों का छात्रावास द्वारा साफा और मला पहना कर अभिनन्दन किया ,कार्यक्रम का संचालन सुरेंद्र सिंह दहिया ने किया

इन्दा का किया सम्मान

छात्रावास में अध्ययनरत छात्र योगेंद्र सिंह इन्दा के दशवी बोर्ड में बरणवे फीसदी अंक हासिल करने पर अतिथियों द्वारा सम्मानित किया गया।।
 रक्तदाता पुस्तिका का विमोचन

इस अवसर पर अतिथियों द्वारा समाज के रक्तदाताओं की सूची मय नाम पत्ते की प्रेम सिंह निर्मोही द्वारा प्रकाशित पुस्तिका का विमोचन भी किया गया।।रक्तदान के इस सेवा कार्य मे समाज की भागीदारी की प्रसंशा की ।

0 टिप्पणियाँ:

Post a Comment

Note: Only a member of this blog may post a comment.

 
Top