edvertise

edvertise
barmer



बाडमेर,थार दस्तकार एवं उद्योग मेला 2017 का आयोजन 25 से स्थानीय दस्तकारों को आमन्त्रित करने के निर्देश
बाडमेर, 17 मार्च। जिले के दस्तकारों, हस्तशिल्पियों, बुनकरों एवं लघु उद्यमियों के उत्पादों को बढावा देने के उद्धेश्य से थार दस्तकार एवं उद्योग मेला 2017 का आयोजन 25 से 30 मार्च तक राजकीय सीनियर सैकण्डरी स्कूल स्टेशन रोड बाडमेर में किया जाएगा। शुक्रवार को मुख्य कार्यकारी अधिकारी एम.एल. नेहरा की अध्यक्षता में आयोजित बैठक में मेला आयोजन से जुडी विभिन्न व्यवस्थाओं की समीक्षा की गई।

इस अवसर पर नेहरा ने संबंधित अधिकारियों को मेला आयोजन के संबंध में समस्त व्यवस्थाएं पुख्ता रखने के निर्देश दिए। उन्होने नगर परिषद के अधिकारियों को मेला मैदान की समुचित सफाई व्यवस्था के साथ मेला परिसर में अग्निशमन वाहन की उपलब्धता सुिनश्चित करने के निर्देश दिए। इसी प्रकार उन्होने मेले के दौरान पर्याप्त पुलिस जाब्ता लगाने तथा विद्युत एवं पेयजल की व्यवस्था करने के निर्देश दिए। उन्होने मेले का व्यापक प्रचार प्रसार करने के निर्देश दिए। नेहरा ने कहा कि मेले में अधिकाधिक स्थानीय दस्तकारों, हस्तशिल्पियों, बुनकरों, लघु उद्यमियों एवं व्यवसायियों को आमन्त्रित किया जाए ताकि उनके उत्पादों को बढावा मिल सकें।

बैठक में लघु उद्योग भारती बाडमेर के अध्यक्ष कैलाश कोटडिया, व्यवसायी पुरूषोतम खत्री ने मेला आयोजन से जुडे महत्वपूर्ण सुझाव रखे। उन्होने मेले में स्थानीय हस्तशिल्प उत्पादों के साथ केर, सागरी, कुमठी, नमकीन, पापड, बडी इत्यादि की स्टॉले लगाने का सुझाव रखा ताकि स्थानीय लोगों को प्रोत्साहन मिल सकें। उन्होने मेले के दौरान मनोरंजक एवं सांस्कृतिक कार्यक्रमों का आयोजन करने का सुझाव रखा ताकि अधिकाधिक लोगों की उपस्थिति हो सकें।

बैठक में जिला उद्योग केन्द्र के महाप्रबन्धक धनश्याम गुप्ता ने मेला आयोजन के संबंध में विस्तार के साथ जानकारी कराई। उन्होने बताया कि मेले में हैण्डीक्राफ्ट, लकडी, कांच, पीतल पर नक्शी, रेडिमेड गारमेन्ट, होजरी वस्त्र, दरी पट्टी, आचार मुरब्बे, ऊनी कम्बल, पट्टू शॉल, हैण्डलूम व खादी वस्त्र, बाडमेर प्रिन्ट की चदरे, औषधियां, लाख की चूडिया, घरेलू दैनिक उपयोगी आईटम इत्यादि की लगभग 50 स्टॉले लगाई जाएगी।

बैठक में उपखण्ड अधिकारी चेतन कुमार त्रिपाठी, पुलिस उप अधीक्षक ओ.पी. उज्जवल, क्षेत्रीय प्रबन्धक रीको पी.सी. सालवी, ग्रामीण विकास एवं चेतना संस्थान के रूमा देवी, विक्रमसिंह, नरपत राज, श्योर संस्थान की लता कच्छवाह सहित विभागीय अधिकारी एवं व्यवसायी उपस्थित थे।

-0-




अतिरिक्त जिला कलक्टर बिश्नोई ने लीलसर में लगाई रात्रि चौपाल

निर्मित शौचालयों का सात दिवस में भुगतान करने के निर्देश

बाड़मेर, 17 मार्च। अतिरिक्त जिला कलक्टर ओ.पी. बिश्नोई ने गुरूवार को चौहटन तहसील के लीलसर ग्राम पंचायत मुख्यालय पर रात्रि चौपाल की। इस दौरान उन्होने ग्रामीणों द्वारा प्रस्तुत जन समस्याओं की सुनवाई कीे तथा संबधित अधिकारियों को समस्याओं के शीघ्र निराकरण के निर्देश दिए।

लीलसर ग्राम पंचायत मुख्यालय पर आयोजित रात्रि चौपाल एवं जन सुनवाई के दौरान उन्होने विकास अधिकारी पंचायत समिति धनाऊ को स्वच्छ भारत मिशन अभियान के तहत निर्मित शौचालयों जिनके उपयोगिता प्रमाण पत्र प्रस्तुत हो चुके है, उनका सात दिवस में भुगतान करने के निर्देश दिए। इसी प्रकार उन्होने निर्मित शौचालयों के बकाया उपयोगिता

प्रमाण पत्र 31 मार्च, 2017 तक जारी करने के निर्देश दिए। उन्होने बकाया पेंशन धारियों की पेंशन सीडिंग का कार्य 31 मार्च तक पूर्ण करने के निर्देश दिए।

अतिरिक्त जिला कलक्टर बिश्नोई ने सार्वजनिक निर्माण विभाग के अधिकारियों को सडकों के रैन कट भरवाने तथा क्षतिग्रस्त सडकों के पेचवर्क का कार्य शीध्र कराने के निर्देश दिए। इसी प्रकार डिस्कॉम के अधिकारियों को खराब विद्युत मीटर जून माह तक बदलने के निर्देश दिए। उन्होने जलदाय विभाग के अधिकारियों को पेयजल के बन्द स्त्रोतों को अविलम्ब चालू कराने के निर्देश दिए। साथ ही उन्होने पेयजल की पाईप लाईनों से अवैध जल कनेक्शन शीध्र हटाने के निर्देश दिए ताकि अन्तिम छोर तक पेयजल की आपूर्ति की जा सकें।

रात्रि चौपाल के दौरान उन्होने राज्य सरकार की विभिन्न योजनाओं की जानकारी देते हुए योजनाओं का लाभ उठाने को कहा। उन्होने स्वच्छ भारत मिशन के तहत ग्राम पंचायतों को खुले में शौच से मुक्त कराने तथा प्रत्येक घर में शौचालय का निर्माण करवाकर परिवार के सभी सदस्यों द्वारा शौचालय का इस्तेमाल करने को कहा। उन्होने पं0 दीनदयाल उपाध्याय ग्रामीण विद्युतिकरण योजना की विस्तार के साथ जानकारी कराई तथा योजना का लाभ उठाने को कहा।

-0-




सत्र 2015-16 के गार्गी पुरूस्कार प्राप्त करने की अन्तिम तिथि 25 मार्च तक

बाडमेर, 17 मार्च। पंचायत समिति बाडमेर के कक्षा दसवी एवं बारहवीं की शेष रही छात्राओं के गार्गी पुरूस्कार एवं बालिका प्रोत्साहन पुरूस्कार 25 मार्च, 2017 तक अन्तरी देवी रा.बा.उ.मा.वि. बाडमेर में दिए जाएगें।

संस्था प्रघान राजेश महरवाल ने बताया कि बाडमेर पंचायत समिति की 415 बालिकाओं को गार्गी पुरूस्कार दिए जाने थे, जिनमें से कुछ बालिकाएं अभी भी पुरूस्कार लेने नहीं आयी है। उन्होने बताया कि शेष रही बालिकाओं को पुरूस्कार लेने के लिए 25 मार्च तक अन्तिम अवसर दिया जा रहा है, इसके पश्चात् शेष राशि बालिका शिक्षा फाउण्डेशन को लौटा दी जाएगी। अतः शेष रही बालिकाएं अपने विद्यालय का अध्ययनरत होने का प्रमाण पत्र अनिवार्य रूप से साथ लाकर 25 मार्च तक अन्तरी देवी रा.बा.उ.मा.वि. बाडमेर से पुरूस्कार प्राप्त कर लेंवे।

0 टिप्पणियाँ:

Post a Comment

 
Top