edvertise

edvertise
barmer



बाड़मेर अनुसूचित जाति के प्रकरणांे का प्राथमिकता से निस्तारण करेंःखोलिया
-बाड़मेर जिला मुख्यालय पर कलेक्ट्रेट कांफ्रेस हाल मंे राजस्थान अनुसूचित जाति आयोग के उपाध्यक्ष विकेश खोलिया ने जन सुनवाई के दौरान समस्याएं सुनी।

बाड़मेर, 16 जनवरी। अनुसुचित जाति से जुड़े प्रकरणांे को प्राथमिकता से निस्तारित किया जाए। इस तबके लिए राज्य सरकार की ओर से संचालित विभिन्न जन कल्याणकारी योजनाओं को जमीनी स्तर पर बेहतर तरीके से लागू करने के लिए अधिकारी संवेदनशील होकर कार्य करें। राजस्थान अनुसूचित जाति आयोग के उपाध्यक्ष विकेश खोलिया ने सोमवार को बाड़मेर जिला मुख्यालय पर कलेक्ट्रेट कांफ्रेस हाल मंे जन सुनवाई के दौरान यह बात कही।

उन्हांेने कहा कि राज्य सरकार अनुसूचित जाति के कल्याण के लिए बेहद गंभीर है। उन्हांेने अनुसूचित जाति से संबंधित अत्याचार निवारण के प्रकरणों में पीडि़त को तत्काल आर्थिक सहायता देने तथा उसकी सुनवाई कर मौके पर राहत पहुंचाने के प्रयास करने के निर्देश दिए। उन्होंने उत्तर मैट्रिक छात्रवृति योजनान्तर्गत विद्यार्थियों को समय पर भुगतान करने एवं छात्रवासों में अनुसूचित जाति वर्ग की क्षमता के अनुसार प्रवेश देने एवं छात्रावासों में गुणवत्तायुवक्त खाद्य सामग्री उपलब्ध कराने के निर्देश देते हुए कहा कि गरीब तबकों के बच्चों को सरकार की ओर से दी जा रही समस्त सुविधाएं समय पर उपलब्ध कराना सुनिश्चित किया जाए। राजस्थान अनुसूचित जाति आयोग के उपाध्यक्ष विकेश खोलिया ने जन सुनवाई मंे उपस्थित अधिकारियों को अनुसूचित जाति वर्ग के लिए सरकार की ओर से संचालित कल्याणकारी योजनाओं का लाभ देने के निर्देश दिए। इस दौरान सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता विभाग के सहायक निदेशक ने अनुसूचित जाति वर्ग के छात्रों को दी जा रही उत्तर मैट्रिक छात्रवृति के भुगतान एवं छात्रवासों में दी जा रही सुविधाओं के बारे मंे जानकारी दी। इस दौरान सम्बल ग्राम योजना की भी समीक्षा की गई। इस दौरान खोलिया ने जिला कलक्टर सुधीर शर्मा एवं पुलिस अधीक्षक डा.गगनदीप सिंगला से आयोग मंे पूर्व मंे दर्ज एवं जन सुनवाई के दौरान प्रस्तुत किए गए परिवादांे पर आवश्यक कार्यवाही कर पीडि़त पक्ष को राहत पहुंचाने के निर्देश दिए। आयोग के उपाध्यक्ष खोलिया ने अनुसूचित जाति वर्ग के लिए संचालित योजनाओं की समीक्षा कर योजनाओं का व्यापक प्रचार-प्रसार कराने के लिए कहा।

नसुनवाई के बाद खोलिया ने आयोग में दर्ज प्रकरणों की समीक्षा की। उन्होंने दर्ज प्रकरणों पर उपस्थित अधिकारियों से चर्चा की और उनके त्वरित समाधान के निर्देश दिए। इस दौरान अनुसूचित जाति की जमीन के एक प्रकरण मंे आयोग के उपाध्यक्ष ने जन सुनवाई के दौरान नगर परिषद के आयुक्त को पत्रावलियां पेश करने के निर्देश दिए। उन्हांेने इस प्रकरण से संबंधित पत्रावलियां आगामी 3 दिन मंे संभागीय आयुक्त को भिजवाने के निर्देश दिए।

जन सुनवाई के दौरान अनुसूचित जाति के प्रकरणांे मंे आरोपियांे के खिलाफ प्रभावी कार्रवाई करने, भूमि आवंटन कराने, खातेदारी भूमि से अवैध अतिक्रमण हटाने, अत्याचार के प्रकरणांे मंे पीडि़त पक्षांे को आर्थिक सहायता दिलवाने, सफाईकर्मियांे की भर्ती करवाने,छात्रवृति दिलवाने, बंद रास्ता खुलवाने, प्रधानमंत्री आवास योजना मंे नाम जुड़वाने समेत विभिन्न तरह के प्रकरण परिवादियांे की ओर से पेश किए गए। आयोग के उपाध्यक्ष विकेश खोलिया ने प्रत्येक प्रकरण की व्यक्तिशः सुनवाई करते हुए संबंधित अधिकारियांे को आवश्यक कार्रवाई कर पीडि़त पक्ष को राहत पहुंचाने के निर्देश दिए। जन सुनवाई के दौरान राजस्थान उर्दू एकेडमी बोर्ड के अध्यक्ष असरफ अली, जिला परिषद के मुख्य कार्यकारी अधिकारी एम.एल.नेहरा, अतिरिक्त जिला कलक्टर ओ.पी.बिश्नोई समेत विभिन्न विभागीय अधिकारी उपस्थित रहे। इस दौरान पूर्व प्रधान उदाराम मेघवाल, लक्ष्मण वडेरा समेत विभिन्न लोगांे ने अनुसूचित जाति से जुड़े प्रकरणांे के बारे मंे आयोग उपाध्यक्ष विकेश खोलिया को अवगत कराया।

गणतन्त्र दिवस समारोह

तैयारियों की समीक्षा बैठक आज


बाडमेर, 16जनवरी। गणतन्त्र दिवस समारोह (26 जनवरी, 2017) के अवसर पर जिला मुख्यालय पर आयोजित होने वाले विभिन्न कार्यक्रमों की तैयारियों की समीक्षा बैठक जिला कलक्टर सुधीर शर्मा की अध्यक्षता में 17 जनवरी को प्रातः 11.30 बजे कलक्ट्रेट कांफ्रेन्स हॉल में आयोजित की जाएगी।

अतिरिक्त जिला कलक्टर ओ.पी. बिश्नोई ने संबंधित विभागीय अधिकारियों को कार्यक्रमों की तैयारियांे की प्रगति रिपोर्ट के साथ निर्धारित समय पर बैठक में उपस्थित होने के निर्देश दिए है।

0 टिप्पणियाँ:

Post a Comment

 
Top