edvertise

edvertise
barmer



अजमेर दिव्यांग भी होतें हैं अनूठी प्रतिभा के धनी - डॉ लाल थदानी
सी आर पी एफ जी सी 2 में दिव्यांग बच्चो और अभिभावकों के लिए मोटिवेशनल सेमीनार का आयोजन रखा गया । मुख्य अतिथि और उप मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ लाल थदानी ने कहा कि दिव्यांग बच्चे भी होतें हैं अनूठी प्रतिभा के धनी । कई लोग हादसे के शिकार होने के कारण अपना कोई अंग गवां देते हैं। कुछ लोगों में जन्मजात ही कोई क्षति रह जाती है।मगर ईश्वर उनकी भरपाई भी करता है । अगर दिव्यांग बच्चो के साथ भेदभाव /उपेक्षित नही रखे उनमें अंदर की प्रतिभा को निखारते हुए अभिभावक और शिक्षक प्रोत्साहन देंगे तो कोई न कोई इनमें से ही शिक्षा, स्वास्थ्य, संगीत ,नृत्य, खेल , पेंटिंग आदि में देश का नाम रोशन करते नजर आएंगे ।डॉ थदानी ने वीडियो मूवी के माद्यम से ऐसे नामी गिरामी शक्षियतों के कई उदहारण दिए जिन्होंने अपंगता पर विजय पाते हुए देश विदेश में मिसाल बने ।

समाज कल्याण विभाग के उपनिदेशक संजय सांवलानी ने दिव्यांगों के लिए केन्द्र सरकार एवं राज्य सरकार की कल्याणकारी योजनाओं की जानकारी देते हुए बताया क़ि उनके लिए 2017 में यूनिवर्सल आईडी कार्ड जारी किया जाएगा। इसके जरिए देश के किसी भी हिस्से में दिव्यांग चिकित्सा, प्रशिक्षण, सरकारी नौकरियों में तय आरक्षण के मुताबिक प्राथमिकता, स्वरोजगार के लिए सस्ते लोन के अलावा तमाम सुविधाएं हासिल कर सकेंगे जो उन्हें अब तक जिले या फिर सूबे स्तर पर ही मिलती रही हैं। उक्त सेमीनार में डॉ रंजीता राठौड़, सी ई ओ अरुण मीणा , डॉ हरिदत्त लेफ्टिनेंट बी एल मीणा, डॉ महिमा अग्रवाल, डॉ जीतेन्द्र सिंह , सोशल वेलफेयर सोसाइटी अध्यक्ष विनीता डूडीडियाल , संस्कार स्कूल की प्राचार्य ऋचा सिंह आदि उपस्थित थे ।

0 टिप्पणियाँ:

Post a Comment

 
Top