edvertise

edvertise
barmer



पूर्व केन्द्रीय मंत्राी,सांसद और राजस्थान किसान आय¨ग के अध्यक्ष

प्र¨.सांवर लाल जाट का नई दिल्ली म­ देहांत


प्रधानमंत्राी सहित कई नेताओं और सांसद¨ं ने गहरा श¨क व्यक्त किया

अजमेर/नई दिल्ली,09 अगस्त। पूर्व केंद्रीय मंत्राी,अजमेर के सांसद और राजस्थान किसान आय¨ग के अध्यक्ष प्र¨. सांवरलाल जाट का बुधवार क¨ प्रातः नई दिल्ली के अखिल भारतीय आयु£वज्ञान संस्थान (एम्स) म­ देहांत ह¨ गया। उन्ह­ पिछले माह 22 जुलाई क¨ जयपुर के सवाई मानसिंह मेडिकल कालेज से एयर एम्बुल­स द्वारा एम्स म­ भर्ती करवाया गया था।

प्रधानमंत्राी श्री नरेन्द्र म¨दी, मुख्यमंत्राी श्रीमती वसुन्धरा राजे, केंद्रीय मंत्राी परिषद के सदस्य¨ं, श्री अमित शाह व अन्य कई नेताओं और राज्य के सांसदगण ने जाट के देहांत पर गहरा श¨क व्यक्त किया है और उनके निधन क¨ देश और राज्य के किसान¨ं के लिए एक अपूरणीय क्षति बताया है।

प्रधानमंत्राी श्री नरेन्द्र म¨दी की ओर से केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्राी श्री जे.पी. नड्डा ने एम्स पहुच कर श्री जाट के पा£थव शरीर पर पुष्प चक्र अ£पत किया।

केंद्रीय विधि और न्याय, इलेक्ट्राॅनिक्स और सूचना प्र©द्य¨गिकी राज्य मंत्राी श्री पी पी च©धरी ने भी एम्स पहुँच कर दिवंगत नेता क¨ श्रðांजलि अ£पत की और कहा कि वे गांव व गरीब¨ के एक बड़े कद्दावर किसान नेता थे। हमेशा किसान परिवेश म­ रहने वाले प्र¨. जाट पिछड़े व गरीब ल¨ग¨ं के हमदर्द थे। राजस्थान म­ पानी की समस्या का स्थायी निराकरण करने के प्रयास¨ं के लिए सदैव प्रयत्नशील रहे। उनके सार्वजनिक जीवन के लंबे अनुभव की कमी सभी क¨ हमेशा खलेगी। उन्ह¨ंने श¨क संतप्त परिजन¨ं क¨ ढांढस बँधवाया।

वरिष्ठ सांसद श्री दुष्यंत सिंह ने अपने श¨क संदेश म­ कहा कि प्र¨.जाट जमीन से जुड़े एक ल¨कप्रिय किसान नेता थे। उन्ह¨ंने विधानसभा और ल¨कसभा के किसान¨ं के हित से जुड़े मुद्द¨ं की हमेशा चिंता की व उनका समुचित हल निकालने के गंभीर प्रयास भी किए। उनकी कमी क¨ कभी भुलाया नही जा सकेगा।

श्री जाट के देहांत की खबर मिलते ही नई दिल्ली म­ राज्य के कई सांसद श्री ओम माथुर,श्री ओम बिरला, श्री निहाल चंद, डा. मन¨ज राज¨रिया, श्री गज­द्र सिंह शेखावत,श्री बहादुर सिंह क¨ली, श्री सी.पी. ज¨शी, सांसद श्री नारायणलाल पंचारिया, श्री राम नारायण डूडी,श्री राहुल कस्वां आदि तत्काल एम्स पहुचे और दिवंगत नेता क¨ श्रðांजलि अ£पत की और जाट के परिजन¨ं से मिल कर अपनी सांत्वना प्रकट की।

दिवगंत प्र¨. जाट की पार्थिव देह क¨ सड़क मार्ग से जयपुर रवाना किया गया। उनका अन्तिम संस्कार गुरुवार क¨ उनके पैतृक गांव अजमेर जिलेे के ग¨पालपुरा म­ किया जाएगा। इससे पूर्व उनकी पार्थिव देह क¨ जयपुर म­ दर्शनार्थ रखा जाएगा।







राज्य किसान आयोग अध्यक्ष प्रो. सांवरलाल जाट के निधन पर मंत्रिपरिषद का शोक प्रस्ताव

गुरुवार को राजकीय शोक की घोषणा,

राजकीय सम्मान से होगी अंत्येष्टि


अजमेर/जयपुर, 9 अगस्त। मुख्यमंत्राी श्रीमती वसुन्धरा राजे की अध्यक्षता म­ बुधवार को मुख्यमंत्राी निवास पर राज्य मंत्रिपरिषद की बैठक हुई, जिसम­ मंत्रिपरिषद ने सांसद एवं राज्य किसान आयोग के अध्यक्ष प्रो. सांवरलाल जाट के निधन पर शोक प्रस्ताव पारित किया। मंत्रिपरिषद ने गुरुवार (10 अगस्त) के राजकीय शोक की घोषणा की है।

संसदीय कार्य मंत्राी श्री राजेन्द्र राठौड़ ने बताया कि मंत्रिपरिषद ने यह निर्णय भी लिया कि राजकीय शोक की अवधि म­ सरकारी कार्यालयों म­ राष्ट्रीय ध्वज आधे झुके (हाफ मास्ट) रह­गे एवं राजकीय समारोह आयोजित नह° किए जाएंगे। श्री जाट की अंत्येष्टि राजकीय सम्मान (पुलिस आॅनर) के साथ की जाएगी।

मंत्रिपरिषद द्वारा पारित शोक प्रस्ताव अविकल रूप से इस प्रकार है -

“श्री सांवरलाल जाट का जन्म 01 जनवरी, 1955 को अजमेर जिले के गोपालपुरा गांव मंे हुआ। आपने वाणिज्य म­ स्नातकोत्तर करने के बाद राजस्थान विश्वविद्यालय म­ प्रोफेसर पद पर कार्य किया।

आप छात्रा जीवन से ही राष्ट्रीय भावना और देश प्रेम से प्रेरित रहे और शुरू से ही किसान हितैषी रहे। किसानों के दर्द को आपने हमेशा अपना दर्द समझा।

आप 9व°, 10व°, 11व°, 12व° और 14व° विधानसभा के सदस्य रहे। आपने 1993, 2003 और 2013 म­ राज्य सरकार म­ मंत्राी पद का दायित्व सफलतापूर्वक निभाया।

आप 16व° लोकसभा म­ संसद सदस्य रहे। आपने केन्द्रीय जल संसाधन, नदी विकास और गंगा पुनरुद्धार विभाग के राज्यमंत्राी का भी सफल दायित्व निभाया।

आपके किसान हितों के प्रति समर्पण भाव को देखते हुए आपको राज्य किसान आयोग अध्यक्ष जैसे महत्वपूर्ण पद की जिम्मेदारी सौंपी गई। जिसका आपने ईमानदारी, निष्ठा और कुशलतापूर्वक निर्वहन किया।

आपके निधन से प्रदेश को अपूरणीय क्षति हुई है। ईश्वर दिवंगत आत्मा को चिर-शांति और शोक संतप्त परिवार को इस दुःख की घड़ी म­ धैर्य एवं साहस प्रदान करे।


मुख्यमंत्राी की श्री सांवरलाल जाट के निधन पर संवेदना

अजमेर/जयपुर, 9 अगस्त। मुख्यमंत्राी श्रीमती वसुन्धरा राजे ने पूर्व केन्द्रीय मंत्राी, सांसद एवं राज्य किसान आयोग के चेयरमेन प्रो. सांवरलाल जाट के निधन पर शोक व्यक्त किया है।

श्रीमती राजे ने अपने संवेदना संदेश में कहा कि स्व. सांवरलाल जी एक सजग जनप्रतिनिधि और प्रदेश के बड़े किसान नेता थे। जीवन पर्यन्त उन्होंने किसानों, पशुपालकों, गरीब एवं पिछड़े सहित समाज के विभिन्न वर्गों के कल्याण के लिए समर्पित रहकर कार्य किया। उनके निधन से हम सभी को अपूरणीय क्षति हुई है।

मुख्यमंत्राी ने ईश्वर से दिवंगत की आत्मा की शांति तथा शोक संतप्त परिजनों को यह आघात सहन करने की शक्ति प्रदान करने की प्रार्थना की है।



शिक्षा राज्य मंत्राी श्री देवनानी ने स्व. जाट के निधन पर शोक जताया

अजमेर, 9 अगस्त। शिक्षा राज्य मंत्राी श्री वासुदेव देवनानी ने पूर्व केन्द्रीय मंत्राी और राजस्थान किसान आयोग के अध्यक्ष प्रो. सांवरलाल जाट के निधन पर गहरा शोक व्यक्त किया है।

आज यहां जारी अपनी शोकाभिव्यक्ति में श्री देवनानी ने कहा कि स्व. जाट ऐसे जन प्रतिनिधि थे जिन्होंने सदा ही किसानों और पशुपालकों के हितों के लिए काम किया। उन्होंने कहा कि उनका निधन अपूरणीय क्षति है।

श्री देवनानी ने ईश्वर से उनके शोक संतप्त परिवार को यह दुःख सहन करने की शक्ति प्रदान करने की कामना की है।

अजमेर के जनप्रतिनिधियों ने भी व्यक्त की संवेदना
अजमेर, 9 अगस्त। प्रो. जाट के निधन पर अजमेर जिले के जनप्रतिनिधियों ने भी शोक संवेदना व्यक्त की है। शिक्षा एवं पंचायतीराज राज्यमंत्राी श्री वासुदेव देवनानी, महिला एवं बाल विकास राज्यमंत्राी श्रीमती अनिता भदेल, राजस्थान धरोहर संरक्षण एवं प्रोन्नति प्राधिकरण के अध्यक्ष श्री ओंकार सिंह लखावत, संसदीय सचिव श्री शत्राुघ्न गौतम, श्री सुरेश सिंह रावत, विधायक श्री शंकर सिंह रावत, श्री भागीरथ चैधरी, श्रीमती सुशील कंवर पलाड़ा, श्री भंवर सिंह पलाड़ा, जिला प्रमुख सुश्री वंदना नोगिया, महापौर श्री धर्मेन्द्र गहलोत, एडीए के अध्यक्ष श्री शिव शंकर हेड़ा, अध्यक्ष प्रो. बी.पी.सारस्वत, श्री अरविंद यादव, उप महापौर श्री संपत सांखला, अजमेर डेयरी अध्यक्ष श्री रामचंद्र चैधरी, पूर्व जिला प्रमुख श्रीमती सरिता गेना सहित जिले के समस्त प्रधान, उप प्रधान, नगर परिषद सभापति व उप सभापति, पार्षदगण, सरपंच, वार्डपंच एवं अन्य जनप्रतिनिधियों ने शोक व्यक्त किया है।

कल होगा अन्तिम संस्कार
प्रो. जाट का अन्तिम संस्कार कल उनके पैतृक गंाव गोपालपुरा में किया जाएगा। आज दिल्ली से उनका पार्थिव शरीर जयपुर लाया गया। जहां मुख्यमंत्राी श्रीमती वसुन्धरा राजे सहित राज्य सरकार के मंत्रियों, आयोग व बोर्डों के अध्यक्ष तथा विधायकों ने उन्हें श्रद्धांजलि अर्पित की। कल प्रातः उनका पार्थिव शरीर जयपुर के शिप्रा पथ मानसरोवर स्थित निवास से रवाना होकर अजमेर लाया जाएगा। मार्ग में महापुरा रोड, बगरू पुलिया, मेहला, दूदू, हरमाड़ा, बांदरसिंदरी, किशनगढ़, यूनिवर्सिटी तिराहा अजमेर, आजाद पार्क अजमेर, शहीद स्मारक, नसीराबाद, बांदनवाड़ा चैराहा, भिनाय में उन्हें श्रद्धांजलि दी जाएगी। इसके पश्चात पैतृक गांव गोपालपुरा में उनका अन्तिम संस्कार होगा।







राज्य सरकार ने 21.66 लाख रूपये राशि का दिया सहयोग

शिक्षा मंत्राी ने बालिका के उज्ज्वल भविष्य के लिए दी शुभकामनाएं

कुमारी आफरीन छीपा का विदेश यात्रा के लिए चयन

अजमेर, 9 अगस्त। माध्यमिक शिक्षा बोर्ड अजमेर द्वारा आयोजित कक्षा 10 वीं की परीक्षा में 94.83 प्रतिशत लाकर राज्य में प्रथम स्थान प्राप्त करने वाली भीलवाड़ा की कुमारी आफरीन छीपा का चयन राज्य सरकार ने विदेश में अध्ययन योजना के अन्तर्गत किया है।

षिक्षा राज्य मंत्राी श्री वासुदेव देवनानी ने कुमारी आफरीन को बधाई देते हुए उसके उज्ज्वल भविष्य की कामना की है। उन्होंने बताया कि बालिका शिक्षा को प्रोत्साहन के तहत इस प्रतिभावान छात्रा को राज्य सरकार द्वारा बालिका फाउण्डेशन से इक्कीस लाख छियासठ हजार नौ सौ अठहत्तर रूपये राषि का सहयोग प्रदान किया गया है।

श्री देवनानी ने बताया कि सत्रा 2017-18 में कुमारी आफरीन का प्रवेश कम्प्यूटर विज्ञान में बी.टेक करने हेतु केलिफोर्निया स्टेट यूनिवर्सिटी, फ्रोन्सो में हुआ है। उन्होंने बताया कि माध्यमिक शिक्षा विभाग के अन्तर्गत राजकीय विधालयो में अध्ययनरत कक्षा 10 की माध्यमिक शिक्षा बोर्ड की मेरिट लिस्ट में आने वाली प्रथम 3 बालिकाओं को विदेश में स्नातक स्तर की शिक्षा प्राप्त करने का अवसर प्रदान किया जाता है। इस योजना में बालिकाओं की शिक्षा पर होने वाला सम्पूर्ण व्यय (25 लाख रूपये प्रति वर्ष की सीमा में ) बालिका शिक्षा फाउण्डेशन द्वारा वहन किया जाता है।

उल्लेखनीय है कि कुमारी आफरीन का सत्रा 2015-16 में मुख्यमंत्राी हमारी बेटियाॅ योजना के अन्तर्गत भी चयन किया गया। इसके अन्तर्गत बालिका को सत्रा 2015-16 एवं 2016-17 में 2.30 लाख रूपये की आर्थिक सहायता भी दी गयी है।




सतर्कता समिति की बैठक स्थिगित
अजमेर 09 अगस्त । सांसद एवं राज्य किसान आयोग के अध्यक्ष प्रो. सांवर लाल जाट के निधन के कारण कल हाने वाली जिला जन अभियोग एवं सतर्कता समिति की बैठक स्थगित कर दी गई है। यह जानकारी जिला कलक्टर श्री गौरव गोयल ने दी।


मेडिकल लाइसेंस निरस्त
अजमेर 09 अगस्त । पंकज मार्केट में स्थित मैसर्स हरीश मेडिकल एजेंसी का मेडिकल लाइसेंस निरस्त किया गया है।

सहायक औषधी नियंत्राक एवं अनुज्ञापन प्राधिकारी श्री ईश्वर सिंह ने बताया कि औषधी एवं प्रसाधन सामग्री अधिनियम के अन्तर्गत पंकज मार्केट के फस्र्ट फ्लोर पर स्थित मैसर्स हरीश मेडिकल एजेंसी को जारी समस्त औषधी अनुज्ञा पत्रा निरस्त किया गया है। फर्म की मालकिन श्रीमती रितु चंचलानी पत्नी श्री हरीश चंचलानी द्वारा मूल लाइसेंस कार्यालय में जमा कराया जाएगा। फर्म के स्टाॅक की औषधियों का निस्तारण नियमानुसार किया जाएगा। निस्तारण के लिए औषधियों की स्टाॅक की सूची, बैच नम्बर, मात्रा एवं निर्माता के नाम के साथ आवेदन करना होगा। साथ ही अन्तिम विक्रय बिल एवं क्रय बिल की सत्यापित छाया प्रतियां भी जमा करवानी होगी।

उन्होंने बताया कि गत 27 फरवरी को औषधी नियंत्राण अधिकारी श्री नरेन्द्र कुमार रेगर, मनीष कुमार मोदी एवं श्री ओमप्रकाश बगड़िया द्वारा सहायक औषधी नियंत्राक श्री महेन्द्र सिंह शेखावत के साथ किया गया था। निरीक्षण के दौरान हरीश मेडिकल एजेंसी के द्वारा बिना क्रय बिल के औषधी विक्रय पाया गया। बाद में बिल प्रस्तुत किए गए। प्रस्तुत बिलों की जांच करने पर संबंधित फर्म ने औषधी विक्रय नहीं करने से अवगत कराया। मेडिकल एजेंसी को इस संबंध में स्पष्टीकरण प्रस्तुत करने एवं अपना पक्ष रखने के लिए पर्याप्त समय दिया गया। स्पष्टीकरण में क्रय बिल के अनुसार भुगतान का बैंक स्टेटमेंट कूट रचित एवं छद्म पाया गया। समस्त दस्तावेजों की जांच करने के उपरान्त फर्म का औषधी अनुज्ञा पत्रा निरस्त किया गया।
दो दिनों में दिव्यांग पंजीयन में जिला पंहुचा तीसरे स्थान पर

तीसरे दिन भी जारी रहेगा शिविरों में पंजीयन

अजमेर, 09 अगस्त। पं.दीनदयाल उपाध्याय विशेष योग्यजन शिविर 2017 के अन्तर्गत मंगलवार एवं बुधवार को आयोजित पंजीयन शिविरों में दिव्यांगों के द्वारा जबरदस्त उत्साह दिखाया गया। इससे अजमेर जिला राज्य में तीसरे स्थान पर आ गया। शिविर में उत्साहजनक परिणामों को देखते हुए पंजीयन शिविर गुरूवार को भी आयोजित किए जाएंगे।

सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता विभाग के उप निदेशक श्री संजय सावलानी ने बताया कि विशेष योग्यजनों को योजनाओं के समस्त लाभ प्रदान करने के लिए सरकार द्वारा पं.दीनदयाल उपाध्याय विशेष योग्यजन शिविर आयोजित किए जा रहे है। इसके अन्तर्गत मंगलवार एवं बुधवार को दिव्यांगों का पंजीयन युद्ध स्तर पर किया गया। इसके परिणाम स्वरूप अजमेर जिले की उपलब्धि राज्य में हनुमानगढ़ एवं झालावाड़ के बाद तीसरे स्थान पर आ गई। दिव्यांगों को अधिकतम लाभ प्रदान करने के लिए गुरूवार को भी पंजीयन करवाए जाने के लिए प्रशासन द्वारा आदेश जारी किए गए है।

उन्होंने बताया कि ग्रामीण क्षेत्रा के समस्त अटल सेवा केन्द्रों तथा शहरी क्षेत्रा की राजकीय डिस्पेंसरियों पर सुविधाएं उपलब्ध करवायी गई है। जिले के समस्त दिव्यांग अपने निकटम स्थल पर जाकर पंजीयन करवा सकते है। शिविरों पर प्रभावी माॅनिटरिंग के लिए उपखण्ड स्तर पर नियंत्राण केन्द्र स्थापित किए गए है। स्थानीय राजस्व कार्मिकों, आंगनबाड़ी केन्द्र के कार्मिकों एवं चिकित्सा विभाग के अधिकारियों एवं जनप्रतिनिधियों का विशेष सहयोग रहेगा।

अन्य दस्तावेजांे से भी हो सकेगा विशेष योग्यजन का पंजीकरण

उन्होंने बताया कि पंडित दीनदयाल उपाध्याय विशेष योग्यजन शिविर 2017 के दौरान पंजीकरण के लिए जाति एवं विवाह प्रमाण पत्रा तथा ब्लड गु्रप की जानकारी की अनिवार्यता मंे शिथिलता प्रदान की गई है। प्रदेश मंे नवीन प्रकार की निःशक्कतता को सम्मिलित करते हुए विश्ेाष योग्यजनांे का चिन्हीकरण, पंजीयन, प्रमाणीकरण एवं कृत्रिम अंग, उपकरणांे से लाभांवित करने के लिए पंडित दीनदयाल उपाध्याय विशेष योग्यजन शिविर का आयोजन तीन चरणांे मंे किया जा रहा है।

उन्हांेने बताया कि विशेष योग्यजन के पंजीकरण के दौरान जाति प्रमाण पत्रा, विवाह प्रमाण पत्रा, मूल निवास प्रमाण पत्रा, आय प्रमाण पत्रा एवं ब्लड ग्रुुप की जानकारी की अनिवार्यता मंे शिथिलता प्रदान की गई है। ऐसे मंे अब जाति, विवाह एवं ब्लड ग्रुप के दस्तावेजांे के अलावा अन्य दस्तावेज मूल निवास प्रमाण पत्रा, दंपति मंे से किसी एक का प्रमाण पत्रा विशेष योग्यजन की ओर से पंजीकरण के दौरान मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी को उपलब्ध कराया जाता है तो उनको भी पंजीयन मंे शामिल कर लिया जाएगा। इसी तरह आय प्रमाण पत्रा के रूप मंे राज्य सरकार की ओर से निर्धारित स्वयं की घोषणा आधारित आय प्रमाण पत्रा अपलोड कराना होगा। संबंधित विभागीय अधिकारियांे को नए निर्देशांे की पालना सुनिश्चित करने के निर्देश दिए गए है। इन शिविरांे मंे विशेष योग्यजन स्ंवय अथवा अभिभावक के साथ आय प्रमाण पत्र,निःशक्त प्रमाण पत्रा, आधार कार्ड भामाशाह कार्ड,राशनकार्ड संबंधित दस्तावेज लेकर अपना पंजीयन करा सकते है। मूल निवास प्रमाण पत्रा के स्थान पर राशन कार्ड, फोटो परिचय पत्रा जैसे दस्तावेज मान्य होंगे।

उन्होंने बताया कि अजमेर शहर में कोटड़ा, वैशाली नगर, रामनगर, पुलिस लाइन, कस्तूरबा मदार गेट, डिग्गी बाजार, श्रीनगर रोड, गुलाबबाड़ी, जेपी नगर, गड़ी मालियान, रामगंज, अन्दरकोट, अजय नगर, पंचशील एवं पहाड़गंज की राजकीय डिस्पेंसरियों में शिविर आयोजित होंगे। अजमेर के उपखण्ड स्तरीय नियंत्राण केन्द्र के नम्बर 0145-2627143 हैं।



अजमेर जिले में वर्षा
अजमेर 09 अगस्त । जल संसाधन विभाग के अनुसार एक जून से अब तक अजमेर में 325, श्रीनगर 290, गेगल में 181, पुष्कर में 263, गोविन्दगढ़ में 205, बूढ़ा पुष्कर में 158, नसीराबाद में 480, पीसांगन में 294, मांगलियावास में 423, किशनगढ़ में 279, बांदरसिदरी में 251.5, रूपनगढ़ में 396, अराई मंे 448, ब्यावर में 683 एम.एम. वर्षा रिकाॅर्ड की गई है।

इसी प्रकार जवाजा में 371, टाॅटगढ़ में 541, सरवाड़ में 318, केकड़ी में 454, सावर में 293, भिनाय में 390, मसूदा में 404.5, बिजयनगर में 484, नारायणसागर में 356 एम.एम. वर्षा दर्ज की गई। जिले में अब तक 368.44 एम. एम. औसत वर्षा रिकार्ड की गई है।




बांधो में पानी की स्थिति
अजमेर 09 अगस्त । जल संसाधन विभाग के अनुसार अजमेर के आनासागर में 13.4, फाॅयसागर में 9.5, रामसर में 2.1, शिविसागर न्यारा 9.9, पुष्कर में 6.6, राजियावास में 2, मकरेड़ा मे 11, अजगरा में 1.10, ताज सरोवर अरनिया में 5.4, मदन सरोवर घानवा में 4.6, पारा में 5.11, नारायण सागर खारी में 1.9, देह सागर बडली में 8.6 तथा मान सागर जोताया में 3.6 फीट पानी है।

इसी तरह भीम सागर तिहारी में 4.5, खानपुरा तालाब 2, चैरसियावास में 1.5, खीरसमंद रामसर में 1.11, लाकोलाव टैंक हनौतिया में 4, पुराना तालाब बलाड़ मे 3.9, जवाजा तालाब में 3.6, काली शंकर तालाब मे 2.8, देलवाड़ा तालाब मे 3.7, छोटा तालाब चाट में 6, बूढ़ा पुष्कर में 5.1, कोड़िया सागर अरांई में 3.9, जवाहर सागर सिरोंज में 3.2, सुरखेली सागर अरांई में 2.11, बिजयसागर लाम्बा में 4, विजयसागर फतेहगढ़ 3.6, बांके सागर सरवाड़ में 6.8 फीट, सावर सागर दोथली में 1.10 तथा नया सागर मोठी में 1.15 फीट पानी है।

0 टिप्पणियाँ:

Post a Comment

 
Top