edvertise

edvertise
barmer




अजमेर दो लड़कियों की मौजूदगी से किशनगढ़ के नगर परिषद के एक अधिकारी के सरकारी आवास पर हंगामा।
======================

1 अप्रैल को अजमेर जिले की किशनगढ़ नगर परिषद के एक अधिकारी के सिटी रोड स्थित सरकारी आवास पर प्रात: 11 बजे उस समय हंगामा हो गया, जब दो लड़कियों को देखा गया। अधिकारी और दो लड़कियों की मौजूदगी की जानकारी लगते ही पार्षद हमीदा बानो, अनिल दायमा, पूर्व पार्षद जगदीश जीनगर आदि मौके पर पहुंच गए। थोड़ी ही देर में मीडिया कर्मी और तमाशबीन भी आ गए। सरकारी बंगले के बाहर हंगामे को देखते हुए अधिकारी बाहर आए और बंगले पर ताला लगा कर निकल गए। अधिकारी का कहना था कि अंदर कोई नहीं है। उनकी पत्नी और बच्चे तो अजमेर में रहते हैं। लेकिन हमीदा बानो अपने समर्थकों के साथ अधिकारी के बंगले के बाहर हंगामा जारी रखा। हंगामे को देखते हुए किशनगढ़ के एसडीएम अशोक कुमार और डीएसपी मोटाराम बेनीवाल भी मौके पर आ गए। बाद में पुलिस ने जब घर के अंदर प्रवेश किया तो वहां दो लड़कियां मिलीं। इन दोनों ने माना कि वे अधिकारी के बुलाने पर आई हंै। लेकिन उनके आने का मकसद कोई गलत नहीं है। अधिकारी तो उनके अंकल लगते हैं। इस पर पार्षद हमीदा बानो ने कहा कि मैं आपकी आंटी (अधिकारी की पत्नी) से बात करवाती हंू, लेकिन लड़कियों ने अधिकारी की पत्नी से बात करने से साफ मना कर दिया। मामले की गंभीरता को देखते हुए पुलिस देानों लड़कियों को जीप में बैठा कर थाने ले गई। पार्षद हमीदा बानो ने कहा है कि इस पूरे घटनाक्रम की जांच करवाई जाए। लड़कियों के बारे में भी पता लगाया जाए कि वे कहां से आई हैं। मालूम हो कि अधिकारी अजमेर नगर निगम में सचिव के पद पर भी कार्य कर चुके हैं। इस संबंध में जब संबंधित अधिकारी का पक्ष जानने का प्रयास किया गया तो मोबाइल ऑफ मिला। वहीं पुलिस का कहना है कि कोई गंभीर बात नहीं है। न ही इस मामले में कोई लिखित शिकायत प्राप्त हुई है।

0 टिप्पणियाँ:

Post a Comment

 
Top