edvertise

edvertise
barmer



जोधपुर पंजाब का हार्डकोर क्रिमिनल लॉरेंस बिश्नोई आठ दिन रिमाण्ड पर, अब जोधपुर में हुई गैंगवार का हो सकेगा खुलासा


चिकित्सक व ट्रैवल्स मालिक के मकान पर फायरिंग के मामले में मुख्य सूत्रधार पंजाब के हार्डकोर लॉरेंस बिश्नोई को कोर्ट ने गुरुवार को रिमाण्ड पर भेज दिया। अब आरोपी से रंगदारी के लिए हमला करवाने वाले स्थानीय व्यक्ति तथा हमलावरों के संबंध में पूछताछ की जाएगी।




पुलिस के अनुसार प्रकरण में आरोपी पंजाब के फाजिल्का में अबोहर तहसील के दुतारवली निवासी लॉरेंस बिश्नोई को कड़ी सुरक्षा के बीच बासनी थाने से सुबह कोर्ट लाया गया, जहां उसे महानगर मजिस्ट्रेट संख्या-7 में पेश किया गया। पुलिस ने अनुसंधान के लिए उसका दस दिन का रिमाण्ड मांगा, लेकिन कोर्ट ने आठ दिन का रिमाण्ड मंजूर किया। पुलिस उसे कड़ी सुरक्षा में बासनी थाने लेकर लौट गई।गौरतलब है कि गत चार मार्च को जैन ट्रैवल्स के ऑफिस में एक नकाबपोश युवक हथियार लेकर घुसा था। फायर न कर पाने के बाद वह साथी के साथ भाग निकला था। इसके तेरह दिन बाद यानि सत्रह मार्च की सुबह छह से साढ़े छह बजे के बीच समन्वय नगर निवासी डॉ सुनील चाण्डक तथा सेक्टर सात निवासी मनीष जैन के मकान पर छह युवकों ने अंधाधुंध फायरिंग की थी। साथ ही मनीष जैन के घर के बाहर खड़ी मर्सडीज को भी जला दिया था। प्रतापनगर व शास्त्रीनगर थाने में जानलेवा हमले के मामले दर्ज किए गए थे।




रंगदारी के लिए करवाए हमले

जांच में सामने आया कि पंजाब की फरीदकोट जेल में बंद लॉरेंस ने इंटरनेट कॉल करके दोनों को वसूली यानि रंगदारी के लिए धमकाया था। वह दोनों से मोटी राशि एेंठने की फिराक में था। पुलिस छह हमलावरों में से तीन की पहचान कर पाई है। जिसमें जोधपुर के झंवर थानान्तर्गत खुडाला गांव निवासी विष्णु बिश्नोई तथा दो युवक हरियाणा के बताए जाते हैं। अभी तक एक भी हमलावर पकड़ में नहीं आया है।

0 टिप्पणियाँ:

Post a Comment

 
Top