edvertise

edvertise
barmer



स्कूल मैनेजमेंट कमेटी करेगी विद्यालयों का विकास- प्रो. देवनानी
जिले के उत्कृष्ट विद्यालयों की स्कूल मैनेजमेंट कमेटी का एक दिवसीय सम्मेलन
अजमेर, 25 जनवरी। शिक्षा राज्य मंत्राी प्रो. वासुदेव देवनानी ने कहा कि राज्य सरकार ने स्कूल मैनेजमेंट कमेटी को विद्यालयों के विकास के लिए सशक्त बनाया है। कमेटियों को विद्यालय के विकास के सतत प्रयत्नशील रहना चाहिए।

शिक्षा राज्यमंत्राी प्रो. देवनानी ने आज तोपदड़ा स्कूल में जिले के उत्कृष्ट विद्यालयों की स्कूल मैनेजमेंट कमेटी के अध्यक्ष व सचिवों के एक दिवसीय सम्मेलन को संबोधित किया। उन्होंने कहा कि राज्य सरकार ने स्कूलों को सशक्त बनाने के लिए स्कूल मैनेजमेंट कमेटी को भी ताकतवर बनाया है। एसएमसी को स्कूल विकास में पूरा सहयोग देना चाहिए। विद्यालय के विकास के लिए सरकार द्वारा प्राप्त राशि जो विद्यालय की एसएमसी को स्थानान्तरित होती है। उसका भरपुर सदुपयोग करने के लिए एवं कार्यों की माॅनिटरिंग की जाए। एसएमसी से संबंधित किसी भी समस्या के लिए जिला स्तर के अधिकारियों से सम्पर्क कर समाधान करवाया जाए।

शिक्षा एवं पंचायतीराज राज्य मंत्राी प्रो. वासुदेव देवनानी ने कहा कि राजस्थान की शिक्षा अब एक नए प्रगति पथ पर चल पड़ी है। प्रदेश के सरकारी स्कूलों के बच्चे निजी स्कूलों से बेहतर प्रदर्शन कर रहे हैं। अभिभावक भी अपने बच्चों को सरकारी स्कूलों में पढ़ाने की ओर अग्रसर हो रहे हैं। यह बच्चे राजस्थान माध्यमिक शिक्षा बोर्ड की दसवीं एवं बारहवीं कक्षा की मेरिट में भी स्थान बनाएंगे।

उन्होंने कहा कि राजस्थान की शिक्षा सकारात्मक परिवर्तन के दौर से गुजर रही है। पिछले तीन सालों में राज्य सरकार ने शिक्षा को नई ऊंचाइयों तक पहुंचाया है। शिक्षकों की ज्यादातर समस्याओं का समाधान कर उन्हें राहत प्रदान की गई है। अब शिक्षक भी पूरे मनोयोग के साथ बच्चों को पढ़ाएं और आगे बढ़ाएं। कार्यक्रम को जिला प्रमुख सुश्री वंदना नोगिया ने भी संबोधित किया।




अजमेर राष्ट्रीय मतदाता दिवस का राज्य स्तरीय समारोह ओटीएस जयपुर में

जिला कलक्टर श्री गौरव गोयल राज्य स्तरीय पुरस्कार से सम्मानित


अजमेर, 25 जनवरी। सातवें राष्ट्रीय मतदाता दिवस के अवसर पर जयपुर में आयोजित राज्य स्तरीय समारोह में जिला निर्वाचन अधिकारी एवं कलक्टर श्री गौरव गोयल को निर्वाचन संबंधी कार्य निष्ठा एवं समर्पण के साथ कराये जाने पर राज्य स्तरीय पुरस्कार से सम्मानित किया गया।

जयपुर में हरिशचन्द्र माथुर लोक प्रशासन संस्थान में बुधवार को आयोजित समारोह में निर्वाचन संबंधी कार्य समय पर कराये जाने वाले जिला निर्वाचन अधिकारियों एवं रिटर्निग अधिकारियों को भी प्रशस्ति पत्रा एवं प्रतीक चिन्ह देकर सम्मानित किया गया। राज्य स्तरीय समारोह में राज्य निर्वाचन आयुक्त श्री रामलुभाया, मुख्य निर्वाचन अधिकारी श्री अश्विनी भगत, अतिरिक्त मुख्य सचिव एवं पदेन महानिदेशक एचसीएम रीपा सुश्री गुरजोत कौर, संभागीय आयुक्त जयपुर श्री राजेश्वर सिंह एवं जिला कलक्टर जयपुर श्री सिद्धार्थ महाजन उपस्थित रहे।

जिला कलक्टर श्री गौरव गोयल ने बताया कि राज्य स्तर पर मिले इस सम्मान के हकदार चुनाव से जुड़े समस्त अधिकारी, कर्मचारी जिनमें समस्त ब्लाॅक लेवल आॅफिसर, उपखण्ड अधिकारी, तहसीलदार, समस्त स्टाफ तथा विशेष रूप से समस्त मतदाता हैं। उन्होंने बताया कि मतदाता सूचियों में गत 3 माह के दौरान गुणात्मक दृष्टि से काफी सुधार हुआ है ताकि प्रत्येक योग्य मतदाता का नाम मतदाता सूची में हो तथा व अपने मताधिकार का उपयोग कर सके। ये अभियान निरंतर जारी रहेगा।

इन आधारों पर किया गया श्री गोयल को सम्मानित

- भारत निर्वाचन आयोग द्वारा जिले में कुल 376438 डेमोग्राफिक सिमीलर एन्ट्री चिन्हित की गई थी। इनमें शत प्रतिशत फोटो मैचिंग का कार्य पूर्ण कर पोर्टल पर अपडेट कराया गया।

- जिले में 77.32 प्रतिशत त्राुटियों का सुधार कार्य पूरा कर लिया गया। शेष त्राुटियां फोटो पहचान पत्रा से संबंधित है।

-संक्षिप्त पुनरीक्षण कार्यक्रम के तहत जिले में 13771 एएसडी मतदाता थे जिनका ईआरएमएस पर संबंधित ईआरओ द्वारा निस्तारण किया गया।

- मतदान केन्द्र की फ्रन्ट फोटो, गुगल मेप व्यू एवं अन्य सूचनाएं भी इसीआईएनईटी पर अपलोड की गई। जिले के सभी 1860 मतदान केन्द्रों के फोटो अपलोड करने का कार्य पूर्ण किया जा चुका है।

- जिले में नियुक्त सभी 1860 बीएलओ एवं 172 सुपरवाइजर की फीडिंग का कार्य पूर्ण किया जा चुका है।

- समस्त 1860 मतदान केन्द्रों की केएमएल फाईल पोर्टल पर अपलोड की गई तथा एएमएफ फीडिंग का कार्य पूर्ण किया गया।

- मतदान केन्द्रो के युक्तिकरण कार्य के तहत भारत निर्वाचन आयोग के निर्देश के अनुसार 172 मतदान केन्द्र नव सृजित किए गए।

- भारत निर्वाचन आयोग द्वारा अनुमोदित नए मतदान केन्द्रों के अनुसार मतदाता सूचियों की चैक लिस्ट अनुबंधित फर्म के माध्यम से मुद्रित करवाई गई। इसकी जांच निर्धारित समय में करवाकर प्रारूप मतदाता सूची 2017 का सैट प्राप्त किया गया।

- मतदाता सूचियों का विशेष संक्षिप्त अभियान 2017 के तहत भारत निर्वाचन आयोग के निर्देशानुसार दिनांक 18.11.2016 को प्रारूप प्रकाशन करवाया गया एवं प्राप्त दावें-आपत्तियों का निस्तारण ईआरएमएस साॅफ्टवेयर के माध्यम से करवाकर मतदाता सूचियों का अन्तिम प्रकाशन दिनांक 16.01.2017 को करवाया गया।

0 टिप्पणियाँ:

Post a Comment

 
Top