edvertise

edvertise
barmer



स्वच्छता भारत अभियान एवं मरू महोत्सव के अवसर पर स्वर्णनगरी को स्वच्छ
एवं साफ सुथरा बनाने के लिए सोनार दुर्ग से स्वच्छता अभियान का आगाज
जैसलमेर विधायक, जिला कलक्टर, उप महानिरीक्षक बीएसएफ

एवं सभापति ने सफाई कर की अभियान की शुरूआत


जैसलमेर, 31 जनवरी। स्वच्छ भारत एवं स्वच्छ राजस्थान अभियान की कडी व मरू महोत्सव 2017 के अवसर पर स्वर्णनगरी को स्वच्छ एवं साफ सुथरा बनाने के लिए आई लव जैसलमेर, नगरपरिषद, सीमा सुरक्षा बल, पुलिस, स्काउट विभाग के संयुक्त तत्वाधान में सोनार दुर्ग में स्वच्छता अभियान का कार्यक्रम रखा गया। जैसलमेर विधायक छोटूसिंह भाटी, नगरपरिषद सभापति कविता खत्री, जिला कलक्टर मातादीन शर्मा, उप महानिरीक्षक सीमा सुरक्षा बल मुख्यालय जैसलमेर अमित लोढा ने दुर्ग के दषहरा चैक से श्रमदान कर स्वच्छता अभियान का आगाज किया एवं सफाई कर दुर्गवासियों को स्वच्छता का संदेष दिया कि वे सोनार दुर्ग को सदैव स्वच्छ एवं साफ सुथरा बनाएं रखें।

इस दौरान अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक भवानीषंकर, उप वन संरक्षक डाॅ.ख्याति माथुर, सहायक निदेषक (जन सम्पर्क) श्रवण चैधरी, उप समादेष्टा 116 बटालियन रणजीतसिंह, आई लव जैसलमेर के संस्थापक अध्यक्ष मानवेन्द्रसिंह, सहायक अभियंता नगरपरिषद राजीव कष्यप, आई लव जैसलमेर के विमल गोपा, प्रदीप व्यास के साथ दुर्गवासी उपस्थित थे।

जिला प्रषासन के मार्गदर्षन पर स्वच्छता अभियान में आई लव जैसलमेर के स्वंय सेवकों, सीमा सुरक्षा बल के अधिकारियों, जवानों, पुलिस जवानों, स्काउट व नगरपरिषद के सफाई कर्मचारियों ने दुर्ग के दषहरा चैक, जैन मन्दिर, लक्ष्मीनाथ मन्दिर के साथ ही विभिन्न चैगानों, मोरियों में अलग- अलग दल बनाकर अपने हाथों से झाडू निकालकर तन-मन से श्रमदान किया एवं पूरे क्षेत्र की सफाई कर उनको स्वच्छ एवं साथ सुथरा बनाया।

इस मौके पर क्षेत्रीय विधायक भाटी एवं जिला कलक्टर मातादीन शर्मा ने कहा कि जग विख्यात मरू महोत्सव को ध्यान में रखते हुए इस स्वच्छता अभियान की शुरूआत की गई है जो आगामी दो-तीन दिन में बाजार एवं अन्य क्षेत्रों में भी सफाई अभियान चलाकर स्वर्णनगरी को एकदम साफ सुथरा बनायेगें ताकि मरू महोत्सव में आने वाले हजारों देषी-विदेषी सैलानी यहां की स्वच्छता एवं सुन्दरता से प्रभावित हो। उन्होंनें स्वच्छता अभियान में सहयोग देने वाले सभी सहयोगियों को आभार जताया एवं कहा कि सच्चे मन से इस अभियान में श्रमदान कर नगर को सुन्दर एवं स्वच्छ बनावें।

----000----

जैसलमेर में मरू महोत्सव 2017 का आयोजन 8 से 10 फरवरी तक
महोत्सव में आयोजित प्रतियोगिताओं के लिए आवेदन पत्र आमंत्रित-अन्तिम तिथि 3 फरवरी

जैसलमेर, 31 जनवरी। जैसलमेर में आयोजित विश्व विख्यात तीन दिवसीय मरू महोत्सव का आयोजन 8 से 10 फरवरी, 2017 को पर्यटन विभाग एवं जिला प्रषासन, जैसलमेर के संयुक्त तत्वावधान में किया जा रहा है।

उप निदेषक पयर्टक स्वागत केन्द्र भानुप्रताप ने बताया कि मरू महोत्सव के दौरान विभिन्न सांस्कृतिक कार्यक्रमों व साहसिक गतिविधियों आदि के साथ ही विभिन्न प्रतियोगिताओं का आयोजन किया जाता है। इसमें मरू श्री, मिस मूमल, मूॅछ प्रतियोगिता, साफा बांध, मूमल महिन्द्रा, ऊॅट श्रृंगार, शान-ए-मरूधरा, पणिहारी मटका रेस आदि प्रतियोगिता का आयोजन रखा गया है। उन्होंनें बताया कि इन प्रतियोगिताओं की प्रविष्टियाॅ के लिए फाॅर्म पयर्टक स्वागत केन्द्र जैसलमेर से प्राप्त किये जा सकते है। उन्होंने बताया कि प्रतियोगिताओं में भाग लेने के इच्छुक प्रार्थी आवेदन फाॅर्म कार्यालय उप निदेषक पर्यटक स्वागत केन्द्र जैसलमेर से प्राप्त कर सकते है। आवेदन फाॅर्म जमा करवाने की अन्तिम तिथि 3 फरवरी को सांय 5 बजे तक रखी गई है।

-----000-----

लाईट्स पोर्टल की समीक्षा बैठक 2 फरवरी को
जैसलमेर, 31 जनवरी। लाईट्स पोर्टल पर न्यायिक प्रकरणांे को दर्ज करने की प्रगति के लिए 2 फरवरी, गुरूवार को अपरान्ह् 3 बजे जिला कलक्टर सभागार में रखी गई है। प्रभारी अधिकारी न्यायिक(ए.डी.एम) के.एल.स्वामी ने यह जानकारी दी।

----000----

कृषि में सौर उर्जा विषय पर आयोजित दो दिवसीय कार्यषाला का
जैसलमेर, 31 जनवरी। चैखी ढाणी, द पैलेस होटल में 30 फरवरी 31 फरवरी को राज्य कृषि प्रबन्धन संस्थान दुर्गापुरा, जयपुर कृषि विभाग द्वारा कृषि में सौर उर्जा विषय पर आयोजित दो दिवसीय कार्यषाला का समापन 31 फरवरी को जिला कलक्टर जैसलमेर मातादीन शर्मा के मुख्य आतिथ्य में हुआ। इस कार्यषाला में सौर उर्जा के क्षेत्र में कार्य कर रहे जिलों के कृषि एवं उद्यान विभाग के अधिकारी, प्रगतिषील कृषक, सौर उर्जा संयंत्र निर्माता कम्पनियों के प्रतिनिधि एवं भारतीय कृषि अनुसंधान परिषद् के वैज्ञानिकों ने भाग लिया। कार्यषाला में सौर उर्जा संयंत्र परिचालन में आ रही समस्याओं एवं उनके व्यावहारिक समाधान पर चर्चा की गई। कृषकों द्वारा बतायी गयी समस्याओं के समाधान हेतु कार्यषाला के माध्यम से वैज्ञानिकों तक पहुंचाकर समाधान की दिषा में कार्य करने का निर्णय लिया गया। कृषकों द्वारा खेती में काम आने वाले अन्य संयंत्रों एवं उपकरणों जो सौर उर्जा से संचालित हो के निर्माण की दिषा में कार्य करने हेतु निर्माता कम्पनी प्रतिनिधियों एवं वैज्ञानिकों से आग्रह किया गया। समापन समारोह को सम्बोधित करते हुए श्रीमान जिला कलक्टर महोदय ने विभागीय अधिकारीयों को सौर उर्जा के क्षेत्र में केन्द्र एवं राज्य सरकार द्वारा कृषकों को उपलब्ध करवायी जा रही सहायता को प्रचार प्रसार के माध्यम से संवेदनषीलतापूर्वक समय पर कृषकों को पहुचाने का कहा गया जिसमें जिला कलक्टर महोदय ने पूर्ण आष्वस्त किया कि जिला प्रषासन द्वारा इसमें जिस भी स्तर पर अपेक्षित हो पूर्ण सहयोग प्रदान किया जायेगा। कार्यषाला आयोजक राज्य कृषि प्रबन्धन संस्थान दुर्गापुरा जयपुर के निदेषक डाॅ. शीतल प्रसाद शर्मा ने कार्यषाला के विषय कृषि में सौर उर्जा के वर्तमान परिप्रेक्ष्य में महता पर प्रकार डाला। अन्त में कार्यक्रम के पाठ्यक्रम प्रभारी उपनिदेषक श्री घनष्याम कुलदीप ने सभी प्रतिभागियों का धन्यवाद ज्ञापन किया। कार्यषाला में स्थानीय विभागीय अधिकारी एवं जिले के प्रगतिषील कृषक सक्रिय रूप से उपस्थित रहे।

----000----

0 टिप्पणियाँ:

Post a Comment

 
Top