नई दिल्ली एक ज़माना था जब अनपढ़ को 'अंगूठा छाप' कहते थे, अब आपका अंगूठा ही बन गया आपका बैंक: PM मोदी


तालकटोरा स्टेडियम में आयोजित डिजिधन मेले में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने BHIM ऐप लॉन्च किया। ऐप की मदद से खादी ग्रामोद्योग के खाते में पैसे ट्रांसफर किए। इस मौके पर प्रधानमंत्री मोदी ने डिजिटल पेमेंट को बढ़ावा देने वाले लोगों और कलेक्टरों को सम्मानित किया।




लकी ग्राहक योजना के तहत जीतने वाले अपने इनाम का पता करने के लिए digidhan.mygov.in पर जा सकते हैं। 14 अप्रैल को बाबा साहेब आंबेडकर की जयंती पर मेगा ड्रॉ निकाला जाएगा और करोड़ों रुपयों के इनाम बांटे जाएंगे।




डिजिधन मेले में संबोधित करते हुए पीएम मोदी ने कहा कि क्रिसमस के बाद से 100 दिन तक कई परिवारों को लकी ड्रॉ की मदद से पुरस्कार दिए जा रहे हैं। मोदी ने कहा कि हमारे संविधान निमार्ता बाबा साहेब आंबेडकर के नाम पर डिजिटल पेमेंट ऐप का नाम 'भीम' रखा गया है।




मोदी ने कहा कि 100 दिन में कुल 340 करोड़ रुपए के इनाम दिए जाने हैं। उन्होंने कहा कि तकनीक की सबसे बड़ी ताकत है कि यह गरीबों को शक्तिशाली बना सकती है। PM ने कहा कि आने वाले समय में भीम ऐप पूरी दुनिया के लिए एक अजूबा होगा। एक जमाना था जब अंगूठा लगाने वाले को अनपढ़ कहा जाता था, लेकिन अब अंगूठा ही आपकी पहचान बन गया है।




इससे पहले अपने संबोधन में केंद्रीय मंत्री रविशंकर प्रसाद ने कहा कि मोदी एक नया भारत बना रहे हैं। उन्होंने कहा कि नोटबंदी से महिलाओं और बच्चों की तस्करी करने वालों के धंधे पर भी लगी लगाम लगेगी।




मेले के दौरान होने वाले लक्की ड्रॉ में डिजिटल माध्यम से भुगतान करने वाले 15 हजार भाग्यशाली विजेताओं का चयन होगा। इन सभी के बैंक खातों में एक हजार रुपए का पुरस्कार जमा होगा।




इस ड्रॉ का लक्ष्य लोगों को ज्यादा से ज्यादा डिजिटल भुगतान की ओर आकर्षित करना है। इससे पहले यह मेला गोआ के पणजी, हरियाणा के गुरूग्राम और पंजाब के लुधियाना में आयोजित किया जा चुका है। अगले साल 14 अप्रैल तक देशभर में ऐसे एक 100 मेले आयोजित किये जाएंगे।

पीएम मोदी के संबोधन के HIGHLIGHTS

- क्रिसमस के दिन भारत सरकार ने डिजिटल भुगतान करने वाले छोटे व्यापारियों और ग्राहकों को पुरस्कृत करने के लिए स्कीम्स की घोषणा की थी।

- लकी ग्राहक योजना और डीजी धन व्यापार योजना देश को क्रिसमस गिफ्ट है।

- डॉ.भीमराव अंबेडकर की जयंती पर 14 अप्रैल को निकलेगा मेगा ड्रॉ।

- BHIM एप का इस्तेमाल बहुत आसान, आपका अंगूठा आपके बैंक की तरह काम करेगा, आने वाले दिनों में BHIM एप से चलेगा कारोबार।

- एक ज़माना था जब अनपढ़ को 'अंगूठा छाप' कहा जाता था, वक्त बदल चुका है, आप ही का अंगूठा आपकी बैंक, आपकी पहचान है।

- ये सब पढ़े लिखे अमीरों का नहीं गरीब का खज़ाना है, ये गरीब, छोटे व्यापारी, आदिवासी और किसान को ताकत देने वाला है।

- जिस देश को अनपढ़ कहा जाता है वो गर्व कर सकता है कि इलेक्ट्रॉनिक वोटिंग में हमने रेवोल्यूशन लाया है।, वो भी सफलतापूर्वक।




- कुछ लोग अब भी निराश हैं, ऐसे निराशावादी लोगों के लिए अभी कोई औषधि नहीं है। ऐसे लोगों को उनकी निराशा मुबारक। लेकिन आशावादी लोगों के पास मेरे लिए अवसर हैं।

- कुछ लोग ही होते हैं जिनकी सुबह निराशा से ही शुरू होती है।

- लुछ लोग बोलते हैं ये कुछ नया लाया है मोदी, कुछ गड़बड़ है। फिर बड़े लोग लुछ सॉफ्टली बोलते हैं ये कैसे होगा? मोबाइल कहाँ हैं?

- बीएचआईएम ऐप के रूप में देश की जनता को साल 2017 का उत्तम नज़ारा दे रहा हूं।

- पहले खबर रहती थी कि कोयले में कितना गया, 2 जी में कितना गया, आज खबर होती है कि कितना आया।

- आने वाले दिनों में मीडिया बहुत सेवा कर सकता है, मीडिया 2017 में पूछेगा कि दो-दो मोबाइल फ़ोन्स लेकर घूम रहे हो, और कैशलेस नहीं हो?

-ये देश अपने अंदर की बुराई को ख़त्म करने के लिए एक हुआ है, इतना कष्ट झेलने के लिए आगे आये, यही हमारे देश की ताकत है।

- इस देश के धन पर इस देश के गरीबों का अधिकार सबसे पहले होना चाहिए।

-जो पैसा आ रहा है, गरीब के नाम आने वाला है। देश को बदलना है दोस्तों।

- जो भी आ रहा है, अब जा नहीं रहा, जो भी आने वाला है वो गरीब के नाम आने वाला है।

0 टिप्पणियाँ:

Post a Comment

 
Top