edvertise

edvertise
barmer



जैसलमेर शहर में मुख्यमंत्री जल स्वावलंबन अभियान का आगाज

जैसलमेर विधायक भाटी एवं प्रभारी सचिव सुबीर कुमार ने अभियान की शुरूआत की

उत्साह एवं उमंग के साथ जिला स्तरीय समारोह का आयोजन


जैसलमेर, 7 दिसम्बर। मुख्यमंत्री जन स्वावलंबन अभियान शहरी के अन्तर्गत स्वर्णनगरी नगरी जैसलमेर में श्रीमती किषनीदेवी मगनीराम राजकीय बालिका उच्च माध्यमिक विद्यालय में जिला स्तरीय समारोह का भव्य आयोजन हुआ। जैसलमेर विधायक श्री छोटूसिंह भाटी, नगरपरिषद सभापति श्रीमती कविता खत्री, जिले के प्रभारी सचिव सुबीर कुमार ने बालिका विद्यालय में रूफटाॅप रैन वाटर हार्वेस्टिंग के निर्माण कार्य के षिलान्यास पट्टिका का अनावरण कर इस शहरी मुख्यमंत्री जल स्वावलंबन का विधिवत् आगाज किया। इस दौरान नगरविकास न्यास के अध्यक्ष डाॅ.जितेन्द्रसिंह, जिला कलक्टर मातादीन शर्मा, पुलिस अधीक्षक गौरव यादव, समाजसेवी जुगलकिषोर व्यास,उपसभापति रमेष जीनगर के साथ ही पार्षदगण एवं नगरवासी उपस्थित थें।

जैसलमेर विधायक छोटूसिंह भाटी ने कहा कि मुख्यमंत्री महोदय ने मुख्यमंत्री जल स्वावलंबन अभियान(ग्रामीण)के प्रथम चरण की सफलता को देखते हुए शहरों में भी इस अभियान की शुरूआत की है। उन्होंनें कहा कि शहरी क्षेत्र में वर्षाती जल के संग्रहण के लिए यह अनूठी पहल है एवं इससे राजकीय भवनों के साथ ही घरों में भी टांकों का निर्माण कर उसे छत से जोड कर वर्षाती जल को संग्रहित किया जाएगा। उन्होंनंे कहा कि वर्षाती जल संग्रहण के इस पावन अभियान में सभी नगरवासी तन-मन एवं धन के साथ पूरा सहयोग देकर इसमें सहभागी बनें ताकि यह अभियान जल के रूप में वरदान साबित हों। उन्होंनें कहा कि इस अभियान की मुख्य विषेषता वर्षाती जल का संचय कर पानी के रूप में आत्मनिर्भर बनना है। उन्होंनें प्रत्येक नगरवासी को इस अभियान में श्रमदान कर सहयोग देने की बात कही वहीं प्राचीन जल स्त्रोतों में भी श्रमदान कर उसे भी विकसित करें ताकि आने वाले समय में इन जल स्त्रोतों में वर्षात का अधिक से अधिक पानी संग्रहित हो जिससे हमारा भू-जल स्तर बढें। उन्होंनें बेटी की शादी में दहेज न देकर उसके घर में टांका निर्माण कराने की सीख दी।

जिले के प्रभारी सचिव सुबीर कुमार ने कहा कि हमारा कर्तव्य है कि मुख्यमंत्री के पावन जल के इस अभियान में हम सहभागी बनकर जल के संचय की प्रवृति जीवन में डालें। उन्होंनें कहा कि 1984 में 225 ब्लाॅक में से 174 ब्लाॅक सेफ थे जो वर्ष 2011 तक यह स्थिति 25 तक आ गई। उन्होंनें कहा कि मुख्यमंत्री जल स्वावलंबन अभियान प्रथम चरण में वर्षाती जल के संग्रहण से अब यह स्थिति 25 से बढकर 53 ब्लाॅक सुरक्षित हो गए है। उन्होंनें कहा कि वर्ष 2020 तक सभी गांवांे को इस अभियान में कवरेज कर दिया जाएगा। उन्होंनें कहा कि अभियान के प्रथम चरण में लोगों ने बढ-चढ कर हिस्सा लिया एवं लगभग 60 करोड रूपये सहयोग प्रदान कर इस अभियान के सहभागी बनें।

नगरपरिषद सभापति श्रीमती कविता खत्री ने कहा कि मुख्यमंत्री महोदय ने शहरी क्ष़्ोत्र में मुख्यमंत्री जल स्वावलंबन अभियान की शुरूआत की वह वास्तव में अनुकरणीय है। उन्होंनें कहा कि इस अभियान के प्रारम्भ होने से शहर मंे रैन वाटर हार्वेस्टिंग संरचनाएं निर्मित होगी जिससे वर्षाती जल संग्रहण होगा जो आने वाली पीढी के लिए लाभदायी रहेगा। उन्होंनें नगरवासियों को इस अभियान में सहयोग देकर सफल बनाने का आहवान् किया एवं साथ ही पानी को बचाने एवं उसको व्यर्थ नहीं बहाने का संकल्प लेने की बात कही।

नगरविकास न्यास के अध्यक्ष के अध्यक्ष डाॅ.जितेन्द्रसिंह ने कहा कि जल का जीवन में विषेष महत्व है एवं जैसलमेर के वासी तो प्राचीन काल से ही वर्षाती जल संचय को बहुत महत्व देते थे। उन्होंनंे कहा कि हमंे पूर्वजों की परम्परा को पुनः अपने जीवन में उतारनी होगी एवं प्राचीन जल स्त्रोतों को विकसित कर उसमें जल संग्रहण के क्षेत्र में बढावा देना होगा। उन्होंनें कहा कि यह अभियान पशुधन के पीने के पानी के लिए तो वरदान साबित हो रहा है।

समाजसेवी जुगलकिषोर व्यास ने कहा कि इस अभियान के सफल परिणाम आने से शहरों के साथ ही ग्रामीण क्षेत्रों में द्वितीय चरण की शुरूआत मुख्यमंत्री महोदया द्वारा की गई है। उन्होंनें कहा कि सभापति ने बालिका विद्यालय से इस अभियान की शुरूआत की इसके लिए वह बधाई के पात्र है। उन्होंनें शहरवासियों को धार्मिक तिथियांे पर परम्परागत जल स्त्रोतों में श्रमदान करने एवं जल संचय की प्रवृति को जीवन का अंग बनाने की आवष्यकता जताई।

मुख्य कार्यकारी अधिकारी नारायणसिंह चारण ने मुख्यमंत्री जल स्वावलंबन अभियान शहरी के बारे में विस्तार से जानकारी दी एवं कहा कि शहर में शुरूआती दौर में राजकीय आवासों में वाटर हार्वेस्टिंग संरचनाओं को निर्मित कर उन्हें छत के पानी से जोडा जाएगा।

अभियान के प्रारम्भ में पुजारी ने विधि-विधान से पूजा-अर्चना अतिथियों से करवाई। अतिथियांे ने बालिका स्कूल में 2 लाख 50 हजार रूपये की लागत से रूफटाॅप वाटर हार्वेस्टिंग संरचना के लोकार्पण पट्टिका का षिलान्यास किया एवं भूमिपूजन व भूमि खुदाई कर इसकी विधिवत् शुरूआत की।

अतिथियों का पार्षद इंद्रसिंह उज्जवल, मोहन परिहार, हरीसिंह भाटी, सूरजपाल सिंह,बाबूलाल ओड, नाथूराम भील, हाकमदान, पुखराज सोनी, बालिका विद्यालय की संस्था प्रधान सरोज गर्ग ने हार्दिक स्वागत किया। इस अवसर पर उपवन संरक्षक इगानप श्रीमती सुदीप कौर, उपखंड अधिकारी कैलाषचन्द्र शर्मा, नगरविकास न्यास के सचिव,तहसीलदार वीरेन्द्रसिंह, नगरपरिषद के सहायक अभियंता राजीव कष्यप भी उपस्थित थे। कार्यक्रम का संचालन डाईट व्याख्याता बराईदीन सांवरा ने किया।

----000-----

0 टिप्पणियाँ:

Post a Comment

 
Top