edvertise

edvertise
barmer


बाड़मेर राजस्थान पुलिस  शक के चलते फिल्मी अन्दाज में पति ने की पत्नि की रहस्यपूर्ण हत्या का पर्दाफाष

बाड़मेर दिनांक 18.11.2016 को प्रार्थी श्री देवेन्द्र नेण पुत्र रामाराम जाति जाट निवासी पोसाल पुलिस थाना बीजराड़ जिला बाड़मेर ने उपस्थित थाना होकर एक लिखित रिपोर्ट इस आषय की पेष की कि मेरी बहिन भावना पुत्री रामाराम जाति जाट उम्र 22 साल जो कि साढे तीन वर्ष पूर्व राजेन्द्र पुत्र तगाराम जाति जाट उम्र 25 साल निवासी कूम्पलिया हाल नेहरू नगर के साथ हुआ था। उनके एक वर्ष बाद परिवार के लोगों द्वारा परेषान करने पर मोजिज लोगों की समझाईष के बाद पति पत्नी दोनों सारण नगर जालिपा किराये के मकान में रहने लगे। दिनांक 10.11.16 की रात्रि 11 बजे तक पड़ोसियों के अनुसार यहीं थे लेकिन सुबह 6 बजे ताला लगा हुआ था उसके बाद से फोन भी बन्द आ रहा हैं। उक्त दिन के बाद से मेरी बहिन का इधर उधर पता करने के बाद भी कहीं सुराग नहीं लगा। अतः आपसे निवेदन हैं कि मेरी बहिन की गुमसुदगी दर्ज कर पता लगाने का कष्ट करें। वगैरा रिपोर्ट पर पुलिस थाना ग्रामिण पर एमपीआर दर्ज कर जांच व तलाष पतारसी गुमसुदा की शुरू की गयी। श्रीमति भावना के पीहर पक्ष को भी भावना के साथ किसी प्रकार की अनहोनी होने की संभावना होने से श्रीमान पुलिस अधीक्षक महोदय बाड़मेर के समक्ष रिपोर्ट भी पेष की।
प्रकरण की गंभीरता को देखते हुए श्रीमान पुलिस अधीक्षक महोदय बाड़मेर डा0 गगनदीप ंिसंगला ने अति0 पुलिस अधीक्षक महोदय बाड़मेर रामेष्वरलाल मेघवाल के निकटतम सुपरिवजन में व श्री ओमप्रकाष उज्जवल वृताधिकारी बाड़मेर के निर्देषन में धन्नापुरी गोस्वामी नि0 पु0 थानाधिकारी पुलिस थाना बाड़मेर ग्रामीण के नेतृत्व श्री जयराम सीआई थानाधिकारी सदर, श्री रूपाराम एएसआई, पदमपुरी कानि0, धर्मपाल कानि0, कंवराराम कानि0 व कम्प्यूटर ब्रांच से प्रेमाराम कानि0, मेहाराम मूंढ कानि0, की टीम गठित की। उक्त टीम द्वारा समय-समय पर लोगों से सघन व कड़ी पूछताछ की गयी। श्रीमति भावना उसके पति राजेन्द्र व अन्य रिस्तेदारों के मोबाईल नम्बरों की काल डिटेल प्राप्त की व संदिग्धों से मनोवैज्ञानिक तरीके से व तकनिकी सहायता से पूछताछ की जिसमें स्पेषल सैल के श्री प्रेमाराम व मेहाराम मूंढ कानि0 का विषेष सहयोग रहा।
टीम द्वारा समय-समय पर प्रत्येक बिन्दू पर जांच की गयी। जांच से शक की सुई भावना के पति पर जाने से राजेन्द्र पुत्र तगाराम जाति जाट सांई निवासी कूम्पलिया हाल नेहरू नगर बाड़मेर जो विधुत वितरण निगम लिमिटेड में तकनीकी हेल्पर के पद पर नवातला तैनात हैं उससे गहनता से पूछताछ की गयी। पूछताछ के दौराने राजेन्द्र ने बताया कि मेरी पत्नी भावना को मैं चाहता नहीं था वह झगड़ा करती रहती थी व राजेन्द्र को उसके चरित्र पर भी शक था वह किसी भी तरीके से भावना को मारना चाहता था। काफी दिनों तक मौके की तलाष की व घटना कारित करने हेतु विचार किये। भावना को ऐसी जगह पर ले जाकर मारना चाहता था जिससे किसी को पता नहीं चले व खुद गिरफ्तारी से बच सक़े। राजेन्द्र ने भावना को घूमने के लिये बहाने से चलने का कहा तो भावना के राजी होने पर राजेन्द्र ने अपने पूर्व प्लान अनुसार अपनी रणवीर नाम से व अपनी पत्नी भावना की मोनिका नाम से फर्जी आईडी बनायी व दिनांक 10.11.2016 की रात को अपनी पत्नी भावना को साथ लेकर लोकल ट्रेन से जोधपुर गया व जोधपुर से अपनी फर्जी आईडी से रिजर्वेषन करवाकर दिल्ली पहुंचा व दिल्ली से अमृतसर गया। रात को होटल में रूके व दूसरे दिन अमृतसर स्वर्ण मंदिर में घूमे व दिन को होटल में आये व होटल के कमरा के अन्दर राजेन्द्र ने अपनी पत्नि भावना को प्यार से शराब पिलाई बाद में हाथ बांध कर मुंह व गला दबाकर हत्या कर दी। भावना का चेहरा पहचान में न आने के लिये चेहरे पर हथोड़े से वार किये व मुंह चाकू से कुचल दिया व खुद अपना हुलिया बदल कर होटल का कमरा बन्द कर चाबी लेकर अमृतसर से रवाना होकर दिल्ली होते हुऐ बाड़मेर आ गया। बाड़मेर में आकर कहने लगा कि भावना अपने पीहर गयी होगी। जिस पर भावना के भाई देवेन्द्र ने पुलिस थाना पर गुमसुदगी रिपोर्ट पेष की। 
गुमसुदगी के बाद बाड़मेर पुलिस की उक्त टीम ने अथक प्रयास कर पूछताछ की, तकनिकी एवं मनोवैज्ञानिक पद्वतियों का प्रयोग कर भावना का पता लगाने में सफल रही।
भावना की अमृतसर (पंजाब) में अज्ञात व्यक्ति द्वारा हत्या करने पर पुलिस थाना डिविजन ए (अमृतसर सीटी) में हत्या का प्रकरण दर्ज हुआ हैं। जिस पर बाड़मेर पुलिस द्वारा पंजाब पुलिस से सम्पर्क कर फिल्मी अन्दाज में की गयी इस रहस्यपूर्ण हत्या के सम्बन्ध में जानकारी उपलब्ध कराई जिस पर अमृतसर (पंजाब) की जांच टीम बाड़मेर पहुंच रही हैं, जो आगामी कानूनी कार्यवाही करेगी।










0 टिप्पणियाँ:

Post a Comment

 
Top