edvertise

edvertise
barmer

समदडी। कम हुआ लूनी नदी का जलस्तर, प्रशासन जुटा राहत-बचाव कार्य में 

रिपोर्ट :- सुनील दवे / समदड़ी 


समदडी। बीते दिनों बारिश के चलते लूनी  नदी अपने पूरे उफान पर थी लेकिन अब बताया जा रहा है कि नदी का जलस्तर कुछ कम हुआ है। जलस्तर के कम होने से प्रशासन ने जरूर थोड़ी राहत की सांच ली , पर लोगों की मुसीबतें अभी कम नहीं हुई हैं। 

Image may contain: 1 person, sitting, outdoor, water and nature

पिछले दिनों क्षेत्र में जमकर हुई बारिश के बाद लूनी नदी अपने पूरे उफान पर थी जिसके कारण कई गांवों का संपर्क पिछले कई दिनों से टूट चुका था कहीं कस्बे ढाणिया जलमग्न हो गई थी, मानो जैसे बाढ़ जैसे हालात बन गए हो, वही सुकड़ी नदी भी पिछले कई दिनों से उफान पर थी जिसके चलते लोगों से संपर्क नहीं हो पा रहा था, नाहीं राहत कार्य की सामग्री पहुंचाई जा रही थी, जैसे ही लूणी नदी का वेग कम हुआ प्रशासन ने और स्थानीय जनप्रतिनिधियों व मेडिकल टीम ने नाव के जरिए पहुंचकर लोगों की कुशल से पूछि एवं मेडिकल सुविधाएं खाद्य सामग्री सहित अन्य सुविधा या लेकर वहां पर पहुंचे और लोगों को सुरक्षित स्थानों पर लाया गया। 

Image may contain: 13 people, people standing

लूणी नदी एवं सुकड़ी नदी के बढे जलस्तर के कारण पिछले 6 से 7 दिनों तक कोटडी गांव कस्बे मोतीसरा कस्बे को पूरी तरह से जलमग्न कर दिया था और एक टापू के रूप में तब्दील कर दिया था ना बिजली की व्यवस्था कि नहीं यातायात सुचारु था जिसके चलते लोग जहां रुके हुए थे वहीं फंस गए थे लेकिन अब हालात सामान्य हो गए हैं और प्रशासन ने भी सब जगह जाकर लोगों को सुविधाएं मुहैया करवा रहे हैं, करमावास ,लालिया ,कोटड़ी, ढिड्स, सामुजा, का ले रहे जायजा तहसीलदार सुरेन्द्र सिंह खंगारोत, विकास अधिकारी समदड़ी अतुल सोलंकी ,समाज सेवी पदमा राम चौधरी मोके पर पहुच कर ग्रामीणों से जाने दुख दर्द, कल 3:00 बजे के बाद से प्रशासन पूरी तरह से जुटा हुआ है गांव ढाणियों में जाकर लोगों को सुविधाएं दे रहे हैं वही कई जगहों पर पशुधन भी फंसे हुए हैं उनको भी निकालने की कोशिश की जा रही है,

0 टिप्पणियाँ:

Post a Comment

 
Top