edvertise

edvertise
barmer



बाड़मेर  युवा स्ंवय सेवक सुन्दर एंवम स्मार्ट गांव बनाने में आगे आये -प्रियंका मेघवाल
राष्ट्ीय युवा स्ंवय सेवको का पन्द्रह दिवसीय प्रशिक्षण शिविर सम्पन्न

बाड़मेर  19 जुलाई गांव को स्वच्छ एंवम सुन्दर बनाने में राष्ट्ीय युवा स्ंवय सेवक स्वच्छता प्रहरी बनकर स्मार्ट गांव बनाने में अपनी महत्ती भूमिका निभा कर गांव को ना केवल जिला बल्कि राज्य एंवम राष्ट्ीय स्तर पर पहचान दिलाने के प्रयासो को अमलीजामा पहनाने के लिये संकल्प लेने की अपील की ।

ये अपील भारत सरकार के नेहरू युवा केन्द्र द्वारा क्षेत्रीय प्रचार कार्यालय के सहयोग से स्थानीय जाट चेरिटिबल ट्स्ट में राष्ट्ीय युवा स्ंवय सेवक के पन्द्रह दिवसीय प्रशिक्षण के समापन समारोह को सम्बोन्धित करती कार्यक्रम की मुख्य अतिथि जिला प्रमुख प्रियंका मेघवाल ने व्यक्त किये ।

उन्होने कहा कि ग्रामीण क्षेत्र में अस्सी प्रतिशत बीमारियो का मुख्य कारण गंदगी है इसके निजात दिलाने में सरकार द्वारा घर-घर शोचालय बनाने का कार्य हो रहा है । युवाओ को गांव में बिना शोचालय का कोई घर हो तो उसको समझाईश करके शोचालय बनाने में सरकारी योजनाओ से जोडने की पहल करने के साथ शोचालय का उपयोग सभी लोग करें ऐसे प्रयासो को गति देने की जरूरत बतायी ।

उन्होने बताया कि आज के समय में बेटियो किसी भी क्षेत्र में बेटो से कम नही है । जिले में बेटियो को बचाने एंवम पढाने मे अभिभावको को भूमिका सराहनीय है । उसी का परिणाम है कि जिले के हर क्षेत्र में बेटीया अपना नाम रोशन कर रही है । उन्होने बताया कि बेटी के पढने से दो घरो में शिक्षा की रोशनी फैलती है ।

कार्यक्रम की अध्यक्षता करते बाडमेर के उपखण्ड अधिकारी चेतन कुमार त्रिपाठी ने कहा कि समाज सेवा करने वाले को शुरूआत में दिक्कतो एंवम उलाहनो का सामना करना पडता है । परन्तु जो युवा इनका सामना करते हुये अपने काम में लगा रहता है बाद में वही लोग उनका नेतृत्व स्वीकार करने लगते है ।

उन्होने कहा कि आप भाग्यशाली युवा है आपको नेहरू युवा केन्द्र के माध्यम से समाज सेवा ओर समुदाय को नजदीक से जानने का अवसर मिला है । आपलोग इस अवसर का पूरा फायदा उठाकर स्वंय जागरूक होकर लोगो को भी जागरूक बनाकर लोक कल्याणकारी योजनाओ से जोडने की अपील की ।

कार्यक्रम के विशिष्ट अतिथि के पद से बोलते हुये शिक्षाविद हुकमाराम चैधरी ने युवाओ को संस्कार एंवम नैतिक मूल्यो पर विस्तृत जानकारी प्रदान करते हुये बालिकाओ को कहा कि आपके अभिभावको ने आप पर विश्वास करके पन्द्रह दिवसीय आवासीय शिविर में भेजा है जिसके लिये वो धन्यवाद के पात्र है । आपसे मेरी अपेक्षा रहेगी आप हमेशा उनके विश्वास को कायम रखेगी ।

समापन अवसर पर जोघपुर से आयी प्रतिभागी दिव्या चैधरी,माधव,मधुसुदनरतनू ने कहा कि मैने इस शिविर में आकर अपने व्यसनो का त्याग किया है । बीकानेर से आये प्रतिभागी अनुरूध्द,महावीर,सुनीलमेघवाल ने अपने अनुभव बांटते हुये कहा िकइस शिविर से पूर्व वो कभी भी मंच पर अपनी बात रखने से धबराते थे । यहां मिले प्रोत्साहन से मंच से अपनी बात करना सीखा हे । नेहरू युवा केन्द्र जैसलमेर के प्रतिभागी दिलीप,सुरेश,पेपसिंह ने अपने विचार रखते हुये कहा िकइस शिविर के माध्यम से जीवन कोशल एंवम व्यक्तित्व विकास के हुनर के साथ नेहरू युवा केन्द्र की गतिविधियो को नजदीकी से जाना है । शिविर प्रतिवेदन प्रस्तुत करते शिविर प्रभारी एंवम जिला युवा समन्वयक ओमप्रकाश जोशी ने बताया कि शिविर में प्रातः छ बजे से रात्रि दस बजे तक योग,श्रमदान,खेलकूद,प्रतिवेदनलेखन,संगीत,विषय विशेषज्ञो की वार्ताऐं कृषि विज्ञान केन्द्र दांता एंवम सीमा का भ्रमण ऐतिहासिक पुरातन महत्व के किराडू मन्दिरो के अवलोकन के साथ विभिन्न गतिविधियो शिविरार्थीयो की सहभागिता से सम्पन्न हुयी । भारत सरकार के क्षेत्रीय प्रचार अधिकारी नरेन्द्र कुमार ने प्रशिक्षण शिविर की व्यवस्थाओ का फीड बैक लिया ओर प्रशिक्षणर्थियो के साथ उसकी समूह चर्चा की । समापन समारोह का संचालन नेहरू युवा केन्द्र के राजेन्द्र पुरोहित ने किया । कार्यक्रम के नेहरू युवा केन्द्र के कल्पेश जोशी,श्रीराम ने सहयोग दिया । प्रांरभ में विवेकानन्द के चित्र पर माल्र्यापण एंवम दीपक प्रज्वलित किया । साथ नेहरू युवा केन्द द्वारा अतिथियो का स्वागत किया गया । इस अवसर पर अतिथियो द्वारा सभी प्रतिभागियो को प्रमाण-पत्र प्रदान किया गया । प्रतिभागियो ने भी सफल प्रशिक्षण के आभार स्वरूप् शिविर प्रभारी एंवम प्रशिक्षको अपनी ओर से स्मृति चिन्ह भंेट किये ।

0 टिप्पणियाँ:

Post a Comment

 
Top