edvertise

edvertise
barmer



बाड़मेर  जिला महिला सहायता समिति की बैठक आयोजित
बाड़मेर, 19 जुलाई। जिला महिला सहायता समिति की बैठक बुधवार को जिला कलक्टर शिवप्रसाद मदन नकाते की अध्यक्षता मंे आयोजित हुई। इस दौरान महिला सहायता से जुड़े विभिन्न प्रकरणांे पर विचार-विमर्श के साथ विभागीय अधिकारियांे को आवश्यक दिशा-निर्देश दिए गए।

जिला मुख्यालय पर आयोजित बैठक के दौरान महिला अधिकारिता विभाग के सहायक निदेशक प्रहलादसिंह राजपुरोहित ने गत बैठक कार्यवाही विवरण प्रस्तुत किया। इस दौरान जिले में संचालित महिला सुरक्षा एवं सलाह केन्द्र के कार्यो की समीक्षा की गई। इस दौरान महिला सुरक्षा सलाह केन्द्र की परामर्शदाता श्रीमती शोभा गौड ने बताया कि केन्द्र को कुल 38 प्रकरण प्राप्त हुए, जिनमे से 35 प्रकरणों को निस्तारित किया गया। जबकि 20 प्रकरणों में एफआईआर दर्ज हुई है एवं 03 प्रकरण अधिशेष है। इस दौरान एफआईआर दर्ज प्रकरणों में एफआईआर की प्रतिलिपि प्राप्त करने के लिए परामर्शदाता को निर्देशित किया गया,ताकि अपराध में लगाई गई धाराओं को जाना जा सकें। जिले का क्षेत्रफल अधिक होने से दूरदराज के गांवो में घरेलू हिंसा से पीडि़त महिलाओं के परामर्श के लिए ज्यादा से ज्यादा जागरूक करने के निर्देश दिए गए। बैठक के दौरान जिला परिषद के मुख्य कार्यकारी अधिकारी एम.एल.नेहरा,महिला एवं बाल विकास विभाग के उप निदेशक जीतेन्द्रसिंह नरूका, सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता विभाग के सहायक निदेशक सुरेन्द्र कुमार पूनिया, स्वयंसेवी संस्था की प्रतिनिधि श्रीमती सराना, महिला सुरक्षा सलाह केन्द्र की परामर्शदाता श्रीमती शोभा गौड़ उपस्थित रहे। बैठक के दौरान जिला महिला सहायता समिति ने जिले में आत्म-हत्याओं के मामलों को रोकने के लिए व्यापक परामर्श एवं बाल विवाह के प्रति जागरूकता प्रदान करने के लिए विभाग की कार्यकर्ताओें एवं स्वयं सेवी संस्थाओें के प्रतिनिधियों के माध्यम से चेतना जाग्रत करने का निर्णय लिया। टांके में गिरकर आत्म-हत्या होने की घटनाओं को ध्यान में रखते हुए सभी पानी के टांको में लोहे की चैन लगाने संबंधित आदेश का अधिकाधिक प्रचार-प्रसार करने के निर्देश मुख्य कार्यकारी अधिकारी दिए गए। साथ ही घरेलू हिंसा से पीडि़त महिलाओं के लिए एक टोल फ्री नंबर प्राप्त करने व परामर्शदाताओं के नम्बरों सहित जागरूकता फैलाने वाले पेम्पलेट वितरित करने के लिए निर्देशित किया। ताकि पीडि़त महिलाएं अपनी भावना मानसिक दबाव, घुटन आदि की अभिव्यक्ति कर सके। पेम्पलेट में सास-ससुर को अपील के जरिए घरेलू हिंसा की घटनाओं को रोकने का आहवान करने पर विचार-विमर्श हुआ। बैठक के अंत में समिति सदस्य सचिव प्रहलादसिंह राजपुरोहित ने आभार जताया।

उपखंड स्तरीय साप्ताहिक समीक्षा बैठक आयोजित
बाड़मेर, 19 जुलाई। उपखंड स्तरीय साप्ताहिक समीक्षा बैठक उपखंड अधिकारी चेतन कुमार त्रिपाठी की अध्यक्षता मंे आयोजित हुई। इस दौरान संबंधित विभागीय अधिकारियांे को समुचित व्यवस्थाएं सुनिश्चित करने एवं जन कल्याणकारी योजनाआंे का प्रभावी क्रियान्वयन करने के निर्देश दिए गए।

बैठक के दौरान बाड़मेर पंचायत समिति के विकास अधिकारी नवलाराम चौधरी ने बताया कि स्वच्छ भारत मिशन के तहत आमजन की भागीदारी सुनिश्चित करने के लिए मोर्निग फालोअप कार्यक्रम चलाया जा रहा है। बाड़मेर तहसीलदार गोपालसिंह मीणा ने अवैध खनन गतिविधियां रोकने के लिए कार्रवाई करने एवं ब्लाक प्रारंभिक शिक्षा अधिकारी ने मौसमी बीमारियांे की रोकथाम के लिए विद्यालयांे मंे विद्यार्थियांे के जरिए जागरूकता गतिविधियां आयोजित करने की बात कही। बैठक के दौरान विभिन्न विभागीय अधिकारी उपस्थित रहे।

अधिकृत एजेंसी बैंक की किसी भी शाखा मंे जमा कराई जा सकेगी राजस्व की राशि

बाड़मेर, 19 जुलाई। मुख्यमन्त्री की बजट घोषणा अनुसार राज्य सरकार की राजस्व जमा को जिले के लिए अधिकृत एजेन्सी बैंक की राज्य की किसी भी शाखा में नकद,डिमाण्ड ड्राफ्ट अथवा बैंकर चैक से जमा करवाया जा सकेगा।

कोषाधिकारी दिनेश बारहठ ने बताया कि बाड़मेर जिले के लिए अधिकृत एजेन्सी बैंक स्टेट बैंक ऑफ इण्डिया की शाखाओं को 1 अगस्त 2017 से सिस्टम जनरेटेड मैनुअल चालानों के आधार पर राजस्व संग्रहण के लिए विŸा विभाग राजस्थान की ओर से अधिकृत किया गया है। उनके मुताबिक राज्य सरकार की ओर से मैनुअल चालानों के माध्यम से संग्रहित राजस्व को ई-मोड पर ऑटोमेटेड किए जाने की प्रक्रिया आरम्भ किए जाने के कारण अब जमाकर्Ÿाा की ओर से राजस्व के रूप में जमा की जाने वाली राषि नकद,चैक अथवा डी.डी.के रूप में हो सकती है, को सिस्टम जनरेटेड मैनुअल चालान के माध्यम से बाड़मेर जिले के कोष, उपकोष से सम्बद्ध एजेन्सी बैक स्टेट बैंक ऑफ इण्डिया की राज्य में स्थित किसी भी शाखा में जमा कराया जा सकेगा। उनके मुताबिक पीडी खातांे एवं माइंस एक्सपेंडीसर से सम्बन्धित चालान केवल कोषालय एवं उपकोषालय से सम्बद्ध एजेन्सी बैंक में पूर्व प्रक्रिया के अनुसार ही जमा किए जाएंगे।

0 टिप्पणियाँ:

Post a Comment

 
Top