edvertise

edvertise
barmer

मुख्यमंत्री जल स्वावलंबन अभियान के जिलास्तरीय महोत्सव काभव्य आयोजन, सिटी फोरेस्ट कराहजोढ जेठवाई एवं मोडरडी में हुआ पौधारोपण
अधिक से अधिक पौधे लगाकर मरूधरा को हरा-भरा बनावें एवं वर्षाती जल संरक्षण पर विषेष जोर दें- प्रभारी मंत्री चौधरी


जैसलमेर, 10 जुलाई। मुख्यमंत्री जल स्वावलंबन अभियान(नगरीय) का सिटी फोरेस्ट कराहजोड जेठवाई रोड जैसलमेर एवं मुख्यमंत्री जल स्वावलंबन अभियान द्वितीय चरण ग्रामीण का राजकीय उच्च माध्यमिक विद्यालय मोडरडी में वन विभाग एवं जिला प्रषासन के संयुक्त तत्वावधान में भव्य जिला स्तरीय महोत्सव का आयोजन हुआ। जिलास्तरीय महोत्सव में जिले के प्रभारी मंत्री एवं राजस्व उप निवेषन राज्यमंत्री अमराराम चौधरी मुख्य अतिथि थंे एवं समारोह की अध्यक्षता जैसलमेर विधायक छोटूसिंह भाटी, मोडरडी में पोकरण विधायक शैतानसिंह राठौड ने की एवं जिले के प्रभारी सचिव एवं शासन सचिव सहायता हेमन्त गेरा, जिला कलक्टर कैलाष चन्द मीना, पुलिस अधीक्षक गौरव यादव, जिला प्रमुख श्रीमती अंजना मेघवाल, नगर परिषद सभापति श्रीमती कविता खत्री, नगर विकास न्यास के अध्यक्ष डॉ.जितेन्द्रसिंह, पोकरण नगर पालिका अध्यक्ष आनन्दीलाल गुचिया, मुख्य कार्यकारी अधिकारी नारायणसिंह चारण, उप वन संरक्षक डॉ.ख्याति माथुर, श्रीमती सुदीप कौर विषिष्ठ अतिथि के रूप में उपस्थित थें।
अतिथियों ने किया पौधारोपण
जिला स्तरीय महोत्सव के दौरान जिले के प्रभारी मंत्री अमराराम चौधरी ने बड व प्रभारी सचिव गेरा ने पीपल का पेड लगाकर सावन के पहले सोमवार के पावन पर्व पर पौधा लगाकर वन महोत्सव की शुरूआत की इस दौरान जैसलमेर विधायक छोटूसिंह भाटी, मोडरडी में पोकरण विधायक शैतानसिंह राठौड, जिला प्रमुख श्रीमती अंजना मेघवाल, नगर परिषद सभापति श्रीमती कविता खत्री, नगर विकास न्यास के अध्यक्ष डॉ.जितेन्द्रसिंह, पोकरण नगर पालिका अध्यक्ष आनन्दीलाल गुचिया, मुख्य कार्यकारी अधिकारी नारायणसिंह चारण, उप वन संरक्षक डॉ.ख्याति माथुर, श्रीमती सुदीप कौर के साथ ही उपाध्यक्ष नगर परिषद रमेष जीनगर, सरपंच बडाबाग चेतनराम, समाजसेवी कंवराज सिंह चौहान के साथ ही पार्षदांे ने पौधारोपण कर मुख्यमंत्री जल स्वावलंबन संरचना पर हरियाली की शुरूआत की।
वर्षाती जल के संरक्षण पर विषेष ध्यान दें
जिले के प्रभारी मंत्री श्री चौधरी ने जिलास्तरीय वन महोत्सव के दौरान जनसभा को संबोधित करते हुए कहा कि माननीया मुख्यमंत्री महोदय के ड्रीम प्रोजेक्ट ‘‘ मुख्यमंत्री जल स्वावलंबन अभियान ‘‘ में निर्मित वर्षाती जल स्त्रोतों से भू-जल स्तर में सुधार हुआ है वहीं आमजन की सहभागिता मिलने से इस अभियान में वाटर हार्वेस्टिग के ऐतिहासिक कार्य हुए है। उन्होंनंे कहा कि इस अनूठे अभियान की प्रदेष ही नहीं बल्कि राष्ट्र एवं अन्तर्राष्ट्रीय स्तर पर भी सराहना हुई है। उन्हांेनें जल के मानव जीवन के लिए जल के महत्व के बारे में बताया एवं लोगों से आह्वान किया कि वे वर्षाती जल के बूंद-बूंद का सही उपयोग करें एवं पानी के लिए आत्मनिर्भर बनें।
हर घर के आगे पौधा लगाने का लें संकल्प
प्रभारी मंत्री चौधरी ने जिला कलक्टर जैसलमेर द्वारा नये अभिनव के रूप में प्रारम्भ किए गए हरित जैसलमेर अभियान- ‘‘ एक घर-एक पेड ‘‘ की तारीफ की एवं लोगों से कहा कि वे हर घर के आगे एक-एक वृक्ष लगाकर उसकी रखवाली कर उसे वटवृक्ष का रूप बनाएं एवं जैसलमेर को हर-भरा बनावें। उन्होंनें कहा कि धरती का श्रृंगार वृक्ष है इसलिए हमे अधिक से अधिक पौधे लगाने का संकल्प लेना है।
जैसलमेर विधायक छोटूसिंह भाटी ने कहा कि मुख्यमंत्री जल स्वावलंबन अभियान से जैसलमेर जिले में वर्षाती जल के संग्रहण एवं संरक्षण को बढावा मिला है एवं प्राचीन जल स्त्रोतों में वर्षाती जल संग्रहण होने से जहां लोगों को पीने के पानी की उपलब्धता हुई वहीं पषुधन के लिए तो वरदान ही साबित हुआ है। उन्होंनें कहा कि प्राचीन समय से ही पूर्वजों की ओरण की व्यवस्था थी उसको भी हमें संरक्षित बनाएं रखना है। उन्हानें वन विभाग के अधिकारियों को स्थानीय जलवायु के अनुरूप नीम, खेजडी, बेर के पेड अधिक से अधिक लगाने पर जोर दिया।
पोकरण विधायक शैतानसिंह राठौड ने मोडरडी में सभा को संबोधित करते हुए कहा कि मुख्यमंत्री जल स्वालंबन अभियान ने प्रदेष में वर्षाती जल के संरक्षण एवं संग्रहण के क्षेत्र में नया किर्तीमान स्थापित किया है। उन्होंनें कहा कि पंचायत के हर परिवारको 2-2 पेड उपलब्ध कराएगें ताकि वे उन पौधों को अपने घर के बाहर लगाकर हरित जैसलमेर अभियान मे ंसहभागिता दर्ज करावें ताकि आने वाली पीढी उन वृक्षों से शुद्व पर्यावरण का आनन्द लें।
जिला कलक्टर कैलाष चन्द मीना ने कहा कि पेडों ने मरूस्थल को रोकने से बचाया है वहीं पानी का जलस्तर भी बढा है तथा पर्यावरण भी शुद्व हुआ है लेकिन अभी भी जैसलमेर जिले में बहुत कम वृक्षारोपण है इसलिए हरित जैसलमेर अभियान एवं मुख्यमंत्री जल स्वावलंबन की संरचनाओं पर हमें अधिक से अधिक पेड-पौधे लगाने है वहीं हर परिवार के घर के आगे पौधा लगें इसका संकल्प लेना है एवं साथ ही यह भी निष्चित करना है कि हम उस पौधे को अपने बच्चे की तरह पाल-पोसकर बडा वृक्ष बनाएगें। उन्होंनें आषा जताई कि हरियाली के इस मुहिम में आम आदमी मन से जुडेगें एवं आने वाले दिनों में यह जैसलमेर मरूस्थलीय न होकर हरा-भरा जिला हो।
जिला प्रमुख श्रीमती अंजना मेघवाल ने कहा कि श्रावण मास के पहले सोमवार पर जिलास्तरीय वन महोत्सव का आयोजन हुआ है जिसमें अवष्य ही सफलता मिलेगी एवं सभी लोग जुडकर अधिक से अधिक पौधे लगावें। उन्होंनंे पूर्व में लगाए गए पौधों का अवलोकन कराने की भी आवष्यकता जताई।
सभापति नगर परिषद जैसलमेर श्रीमती कविता खत्री ने कहा कि प्राचीन जल स्त्रोतोे के जीर्णोद्वार होने से वर्षाती जल संग्रहण में बढोतरी हुई है। उन्होंनें शुद्व पर्यावरण के लिए अधिक से अधिक पौधे लगाने का आह्वान किया। नगर विकास न्यास के अध्यक्ष डॉ.जितेन्द्रसिंह ने कहा कि वनो के परिणामस्वरूप ही जैसलमेर में वर्षात में बढोतरी हुई है। उन्होंनें कहा कि वन विभाग ने अधिक से अधिक पौधे लगाकर सराहनीय कार्य किया है। उन्होंनें कहा कि मुख्यमंत्री जल स्वावलंबन अभियान की सफलता से ही हम पानी के लिए आत्मनिर्भर बन सकते है।
मुख्य कार्यकारी अधिकारी नारायणसिंह चारण ने बताया कि मुख्यमंत्री जल स्वावलंबन अभियान नगरीय के अन्तर्गत पोकरण व जैसलमेर नगरीय क्षेत्र में वाटर हार्वेस्टिंग एवं वर्षारोपण के कार्य करवाएं गए है वहीं मुख्यमंत्री जल स्वालंबन अभियान ग्रामीण द्वितीय चरण के अन्तर्गत चयनित 9 पंचायतों के 19 गांवों में 504 वाटर हार्वेस्टिंग की संरचनाओं के कार्य किए गए जिसमें से 95 प्रतिषत कार्य पूर्ण भी कर दिए गए है।
उप वन संरक्षक डॉ.ख्याति माथुर ने अतिथियों का स्वागत करते हुए वन महोत्सव के बारे में विस्तार से जानकारी दी। नगरीय जिलास्तरीय महोत्सव के दौरान अतिथियों का मुख्य कार्यकारी अधिकारी चारण, अतिरिक्त मुख्य कार्यकारी अधिकारी दाताराम, उप वन संरक्षक डॉ. माथुर, सुदीप कौर, सहायक वन संरक्षक पंकज गुप्ता, बी.एल.यादव ने किया। कार्यक्रम के अन्त में सहायक वन संरक्षक पंकज गुप्ता ने अतिथियों का धन्यवाद ज्ञापित किया एवं कार्यक्रम का संचालन डाईट व्याख्याता बराईदीन सांवरा ने किया। समारोह के दौरान अतिरिक्त जिला कलक्टर के.एल.स्वामी, उपखंड अधिकारी कैलाष चन्द्र शर्मा, विकास अधिकारी धनदान देथा, सुखराम विष्नोई के साथ ही अच्छी संख्या में ग्रामीणजन एवं प्रभूद नागरिक उपस्थित थें।
इस दौरान विधायक जैसलमेर छोटूसिंह भाटी एवं विधायक पोकरण शैतानसिंह राठौड ने संभागियों को अधिक से अधिक वृक्ष लगाने एवं उसकी सुरक्षा करने की शपथ दिलाई।
मुख्यमंत्री जल स्वावलंबन अभियान ग्रामीण के मोडरडी में आयोजित जिलास्तरीय महोत्सव के दौरान अतिथियों का पूर्व सरंपच मोडरडी बालेन्द्रसिंह चारण, हमीराराम, एडवोकेट चन्दनसिंह राठौड,पूर्व सरंपच मोहनसिंह के साथ ही हरीसिंह राठौड, अर्जुनसिंह, चुतरसिंह, श्रीमती रेवन्ती, सरपंच गोमट मन्जूरदीन, सवाईसिंह ने हार्दिक स्वागत किया। इस दौरान उप खण्ड अधिकारी पोकरण मूलसिंह राजावत, तहसीलदार नारायणगिरी, विकास अधिकारी टीकमाराम चौधरी, अधीक्षण अभियंता जलग्रहण गंगासिंह राठौड, सहायक वन संरक्षक बी.एम.गुप्ता के साथ ही अच्छी संख्या में ग्रामीणजन उपस्थित थें।
-----00000-----
ह रित जैहसलमेर अभियान का सर्किट हाउस एवं गडसीसर से पौधारोपण के साथ हुआ भव्य आगाज
जिले के प्रभारी मंत्री एवं प्रभारी सचिव ने पौधारोपण कर हरियाले जैसलमेर कि की शुरूआत
वृक्षारोपण के नाम रहा सावन का पहला सोमवार

जैसलमेर, 10 जुलाई। श्रावण मास के प्रथम सोमवार के पावन पर्व पर जिला कलक्टर कैलाष चन्द मीना के अभिनव प्रोजेक्ट ‘‘ हरित जैसलमेर अभियान- ‘‘ एक घर-एक पेड ‘‘ का सर्किट हाउस एवं गडीसर पर पौधारोपण के साथ शानदार शुरूआत हुई। हरित जैसलमेर अभियानम में जिले के प्रभारी मंत्री एवं राजस्व उप निवेषन राज्यमंत्री अमराराम चौधरी, जैसलमेर विधायक छोटूसिंह भाटी, जिले के प्रभारी सचिव एवं शासन सचिव सहायता हेमन्त गेरा, जिला कलक्टर कैलाष चन्द मीना, पुलिस अधीक्षक गौरव यादव, अपर जिला एवं सत्र न्यायाधीन महेष कुमार, जिला प्रमुख श्रीमती अंजना मेघवाल, नगर परिषद सभापति श्रीमती कविता खत्री, नगर विकास न्यास के अध्यक्ष डॉ.जितेन्द्रसिंह, मुख्य कार्यकारी अधिकारी नारायणसिंह चारण, अतिरिक्त जिला कलक्टर के.एल.स्वामी, उप वन संरक्षक डॉ.ख्याति माथुर, श्रीमती सुदीप कौर ने पौधारोपण कर इसका आगाज किया।
सर्किट हाउस में आयोजित समारोह के दौरान पुजारी घनष्याम ओझा ने प्रभारी मंत्री एवं प्रभारी सचिव को नीम के पौधे की पूजा अर्चना करवाकर पौधारोपण की शुरूआत करवाई एवं सभी अतिथियों ने यहां पौधारोपण किया। जिले के प्रभारी मंत्री चौधरी ने जैसलमेर को हरा-भरा बनाने की इस मुहीम की तारीफ की एवं कहा कि सभी लोग इसमें एक-एक पेड लगाकर आहूति दें ताकि आने वाले वर्षाे में यह मरूस्थलीय जिला हरियाली से आछादीत नजर आवें। इस दौरान उपखंड अधिकारी कैलाष चन्द शर्मा, अतिरिक्त मुख्य कार्यकारी अधिकारी दाताराम, तहसीलदार वीरेन्द्रसिंह, विकास अधिकारी धनदान देथा, सुखराम विष्नोई, समाजसेवी कंवराजसिंह चौहान के साथ ही पार्षदगणों ने यहां पौधारोपण किया। सर्किट हाउस प्रबंधक अनिल माथुर ने बताया कि इस अभियान के तहत सर्किट हाउस में 500 पौधे लगाए जाएगंे। सहायक वन संरक्षक पंकज गुप्ता ने पौधों की पूरी व्यवस्था की।
गडीसर सरोवर पर हुआ पौधारोपण
हरित जैसलमेर अभियान के तहत गडीसर आगौर पर अमृता अटल वाटिका में जिले के प्रभारी मंत्री, प्रभारी सचिव के साथ ही अन्य अतिथियांे नें बड, पीपल, नीम, अषोक का पौधा लगाकर इसकी शुरूआत की। जैसलमेर विकास समिति एवं जिला प्रषासन के संयुक्त तत्वावधान में किए जा रहें पौधारोपण की जानकारी देते हुए समिति के सचिव चन्द्रप्रकाष व्यास ने बताया कि आज इस उप वन क्षेत्र में 500 पौधे लगाए जाएगें वहीं इस वर्ष कुल 5 हजार पौधे विभिन्न प्रजातियों के लगाए जाएगें। प्रभारी मंत्री के साथ ही अन्य अतिथियों ने यहां पूर्व मंे किए गए पौधारोपण का अवलोकन किया एवं उसकी तारीफ की।
आई लव जैसलमेर के सहयोग से हुआ पौधारोपण
हरित जैसलमेर अभियान के तहत गडसीसर के हिंगलाज माता मंदिर के आगे पाल पर भी जिले के प्रभारी मंत्री, प्रभारी सचिव, जैसलमेर विधायक भाटी, जिला कलक्टर के साथ ही अन्य अतिथियों नें भी यहां पौधारोपण कर इसकी शुरूआत की। आई लव जैसलमेर के अध्यक्ष मानवेन्द्रसिंह, उपाध्यक्ष विमल गोपा ने बताया कि आज इस स्थल पर 1100 पौधे विभिन्न प्रजातियों के लगाएं गए है एवं दूसरे चरण में लगभग 10 हजार पौधे लगाने की कार्य योजना है। प्रभारी मंत्री ने आई लव जैसलमेर के इस अभियान में दिए गए सहयोग की तारीफ की। अभियान में विद्यालयी के विद्यार्थियों के साथ ही आई लव के स्वयंसेवकों, पुलिसकर्मीयों, पंचायतीराज, वन विभाग ने पूरा सहयोग प्रदान किया।
----000-----

0 टिप्पणियाँ:

Post a Comment

 
Top