edvertise

edvertise
barmer



जालोर में 6 लोग बहे, एक का शव मिला, प्रशासन ने बाढ़ग्रस्त क्षेत्रों में गिराए भोजन पैकेट, स्कूलों में आज भी छुट्‌टी की घोषणा
जालोर में 6 लोग बहे, एक का शव मिला, प्रशासन ने बाढ़ग्रस्त क्षेत्रों में गिराए भोजन पैकेट, स्कूलों में आज भी छुट्‌टी की घोषणा

कलेक्टर एलएन सोनी की अपील : अफवाहों पर नहीं दें ध्यान, नदी तथा बहाव क्षेत्र से रहे दूर रहने का आह्वान

सांचौर-भीनमाल में बारिश थमी, जालोर में शुरू

मानसून| सांचौरभीनमाल में बारिश थमने से लोगों ने ली राहत की सांस, पानी उतरने पर घरों मकानों में नजर रहे बर्बादी के निशान, कई गांवों में अब भी पानी का भराव

डांवल गांव में पानी से घिरा मकान

जालोर







जिलेमें पानी भराव वाले क्षेत्रों में बुधवार को जिला प्रशासन ने हेलीकॉप्टर के जरिए भोजन के पैकेट गिराए। दिनभर अधिकारियों ने जिलेभर में हवाई सर्वे कर जिले की स्थिति का जायजा लिया। अभी सांचौर क्षेत्र में हालात विकट है, देर शाम को जालोर मुख्यालय सियाणा क्षेत्र में बारिश शुरू होने से यहां फिर से नाले नदियों में उफान गया। वहीं दूसरी ओर अलग-अलग तीन स्थानों पर नदियों में बहे तीन जनों में से एक का शव मिल गया है। जबकि, एक महिला एक युवक की तलाश जारी है। जिला मुख्यालय पर बुधवार देर शाम को फिर से करीब बीस मिनट तक तेज बारिश हुई। उसके बाद से रिमझिम का दौर जारी रहा। इधर, दांतीवास गांव में भी दो लोग बह गए।

आकोलीनदी में बहे युवक का एनडीआरएफ टीम ने निकाला शव : आकोलीनिवासी बीस वर्षीय युवक नैनाराम पुत्र पदमाराम देवासी मंगलवार को नदी देखने गया था। पैर फिसलने से वह नदी में गिर गया। तत्काल प्रभाव से लोगों ने उसकी तलाश की, लेकिन नहीं मिला। बुधवार सुबह एनडीआरएफ टीम के गोताखोरों ने तलाश शुरू की और कुछ ही दूरी पर युवक का शव बरामद किया। पोस्टमार्टम करवाकर शव परिजनों को सुपुर्द किया। जालोर विधायक अमृता मेघवाल भी कोमता के लिए रवाना हो गई, लेकिन पोषणा नदी में पानी होने पोषणा नदी पर रुकना पड़ा।

हरजी में नदी में नहा रहा बालक बहा

हरजी. कस्बेसे 4 किमी दूर हरजी-पचानवा मार्ग पर स्थित जवाई नदी की रपट पर नहाते हुए एक बालक पानी में बह गया। दोपहर करीब 3 बजे पचानवा निवासी कैलाश (10)पुत्र नारायणलाल मेघवाल अपने साथियों के साथ नदी की रपट पर बहते पानी में नहा रहा था। इस दौरान उसका पैर फिसल गया और वह नदी में गिर जाने से बह गया। जानकारी के अनुसार कैलाश अपनी मां के देहांत के बाद से दादी के पास रहता था।

चार लोग किलवा में फंसे, रेस्क्यू नहीं हो पाया

सांचौरक्षेत्र में नर्मदा नहर टूट जाने के बाद बाढ़ से घिरा किलवा ग्राम में चार लोग फंसने की जानकारी है, लेकिन प्रशासन ने अभी तक वहां पहुंचकर बाहर निकालने का रेस्क्यू ऑपरेशन जारी नहीं किया है। परिजनों के अनुसार पानी एक दम ज्यादा मात्रा में गया था जिससे घर के कई सदस्य तो ऊपरी इलाके में चले गए एवं 4 सदस्य वहां फंस गये। उसके बाद उनसे कोई संपर्क नहीं हो पाया है, वहीं प्रशासन भी अभी तक विकट हालात होने के बाद कुछ नहीं कर पा रहा है।

प्रशासन ने बाढ़ प्रभावित क्षेत्रों में हेलिकॉप्टर से गिराई राहत सामग्री

जालोरजिले के बाढ़ प्रभावित क्षेत्रों में बुधवार को इंडियन एयर फोर्स के हेलिकॉप्टर की ओर विभिन्न ग्रामों में खाद्य सामग्री के पैकेट डाले गए। जिला कलेक्टर एल.एन. सोनी ने बताया कि बुधवार को वायुसेना के हेलिकॉप्टर ने भीनमाल, रानीवाड़ा एवं सांचौर क्षेत्र के बाढ़ प्रभावित क्षेत्रों में विभिन्न चक्कर काट कर खाद्य सामग्री के पैकेट डाले। जालोर उपखण्ड अधिकारी राजेन्द्रसिंह सिसोदिया ने बताया कि जिला नियंत्रण कक्ष को सूचना मिली कि धुम्बडिय़ा माताजी के थान स्कूल में 40 बालक पानी से घिरे हुए हैं। उनके लिए वे इंडियन एयरफोर्स के हेलिकॉप्टर द्वारा खाद्य सामग्री लेकर रवाना हुए, लेकिन स्कूल की लोकेशन नहीं मिलने पर एक ग्रामीण को हेलीकॉप्टर में बैठाया तथा सही लोकेशन मिलने पर रस्सी के सहारे उतर कर वहां खाद्य सामग्री तथा आवश्यक बचाव कार्य किया।

कोमता में नदी में नहाने गया युवक डूबा, हेलिकॉप्टर से तलाश की, हीं मिला

सायलाके निकट कोमता नदी में बुधवार को नहाने गया युवक नदी में डूब गया। सूचना मिलते ही उसकी तलाश शुरू की, लेकिन नहीं मिला। जानकारी के अनुसार कोमता निवासी मदनलाल (25) पुत्र होसाराम घांची बुधवार प्रात: ग्रामीणों के साथ गांव की नदी में नहाने गया था। उस दौरान पैर फिसलने से वह नदी में गिर गया। जिससे युवक नदी में डूब गया। जिसकी सूचना ग्रामीणों ने प्रशासन को दी। सूचना पर सायला उपखण्ड अधिकारी केशव मिश्रा, तहसीलदार ताराचंद वेंकट, थानाधिकारी अरविंद कुमार कोमता के लिए रवाना हुए। साथ ही जिला कलेक्टर लक्ष्मीनारायण सोनी को जानकारी दी, लेकिन पोषाणा में नदी में पानी के चलते आगे नहीं बढ़ पाए। बाद में जिला कलेक्टर सोनी जालोर उपखण्ड अधिकारी राजेन्द्रसिंह सिसोदिया हेलिकॉप्टर से कोमता पहुंचे। जहां पर हेलिकॉप्टर से नदी में युवक की तलाश की, लेकिन युवक नहीं मिला। बाद में गोताखोरों की सहायता से युवक की तलाश की, लेकिन युवक का पता नहीं लगा। उधर, पोषाणा में नदी के कारण सेना की टीम अन्य तैराकों को भी नहीं भेजा जा सका।

नदी देखते गिरी महिला, नहीं मिली

जालोर-पहाड़पुराके बीच चलने वाली जवाई नदी में एक महिला बह गई। प्रशासनिक अधिकारियों की मौजूदगी में कई घंटों तक गोताखोर शव को ढूंढ़ते रहे, लेकिन महिला नहीं मिली। पुलिस जानकारी के अनुसार सुमेरगढ़ खेडा निवासी कनकादेवी (65) पत्नी पूनमाराम चौधरी ग्यारह बजे के करीब नदी में डूब गई। प्रत्यक्षदर्शियों के अनुसार यह महिला नदी देख रही थी कि अचानक इसका पांव फिसल गया। और नदी में बह गई। जानकारी पर जालोर एएसपी प्रभुदयाल धानिया, सीआई राजेंद्रसिंह, पुलिस एसआई दानाराम, दीपाराम आरआई भंवरसिंह देवल पटवारी तेजाराम बालोत, गोताखोर टीम के साथ मौके पर पहुंचे गए। साढ़े ग्यारह बजे से खोजबीन शुरू की लेकिन शाम साढ़े पांच बजे तक शव को नहीं निकाल पाए। इस दौरान बिशनगढ़ ग्राम सेवा सहकारी समिति अध्यक्ष स्वरूपसिंह बालावत, कल्याणसिंह पडिय़ार, गोपालसिंह बालावत, जग्गुसिंह बिशनगढ़ आदि जनों ने शव को ढूंढ़ने में सहायता की, लेकिन शाम तक महिला नहीं मिली।

0 टिप्पणियाँ:

Post a Comment

 
Top