रात 10 बजे कलेक्टर ने देखे शहर में पानी निकासी के हालात


गुरुवारशाम शुरू हुई बारिश के रात दस बजे बंद होने के बाद शहर में पानी के भराव वाले स्थानों और इलाकों का दौरा किया। शहर के फेल ड्रेनेज सिस्टम को सुधारने के लिए कलेक्टर प्रयास कर रहे हैं। जिला कलेक्टर शिवप्रसाद मदान नकाते गुरुवार रात 10 बजे जब बारिश थम गई तो नगर परिषद के आयुक्त श्रवण विश्नोई, एसडीएम चेतन त्रिपाठी, पटवारी ओमप्रकाश के साथ शहर के निरीक्षण पर निकल पड़े। कलेक्टर ने शास्त्रीनगर, चामुंडा मंदिर, विष्णु कॉलोनी, गांधीनगर, रीको, कृषि उपज मंडी, शहीद चौराहा, अहिंसा सर्किल, कलेक्टर कार्यालय का निरीक्षण किया। इस दौरान पानी निकासी के इंतजाम और प्लानिंग को लेकर अधिकारियों काे आवश्यक निर्देश दिए। शहीद चौराहे पर पानी निकासी के लिए सिणधरी रोड के दोनों ओर नाले बनाने और हाइवे के नीचे से पानी निकासी की व्यवस्था को लेकर निर्देश दिए गए। कृषि उपज मंडी के सामने बंद पड़े नाले को खोलने और रीको के अंदर से पानी निकासी की व्यवस्था किए जाने को लेकर भी आवश्यक निर्देश दिए। इस दौरान शहीद चौराहे पर रात में भी जेसीबी लगाकर बरसाती पानी को नाले में डालने का काम शुरू करवाया। कलेक्टर ने आयुक्त को ड्रेनेज सिस्टम को लेकर पूरा मास्टर प्लान तैयार किए जाने के निर्देश दिए।

0 टिप्पणियाँ:

Post a Comment

 
Top