edvertise

edvertise
barmer

कत्ल कर FB पर बताते थे पीछे की कहानी, घिरे तो तीनों ने किया सुसाइड!

कत्ल कर FB पर बताते थे पीछे की कहानी, घिरे तो तीनों ने किया सुसाइड!
बठिंडा (अमृतसर ).पंजाब पुलिस के ऑपरेशन में घेराबंदी में आए तीन गैंगस्टरों ने खुद को गोली मारकर सुसाइड कर लिया। हालांकि पुलिस की बताई हुई इस कहानी पर सवाल भी उठाए जा रहे हैं। हरियाणा के डबवाली में एनकाउंटर किए गए दंविंदर बंबीहा गैंग के तीनों गैंगस्टर्स का कनेक्शन लुधियाना जेल में बंद गैंगस्टर शरणजीत सिंह शरणी से था। वह मोबाइल के जरिए फरार गैंगस्टर बंटी ढिल्लों और जंपी डॉन के संपर्क में था। शरणजीत सेसेवाला कत्लकांड में सजा काट रहा है। बता दें कि आरोपी गैंगस्टर कत्ल के बाद फेसबुक आईडी अपडेट कर उसकी जिम्मेदारी लेते थे और कारण भी बताते थे। मौसी के नए घर पर रूकवाया था गैंगस्टरों को...




- शरणजीत सिंह ने अपनी मौसी परमजीत कौर के घर में डबवाली के गांव अबूबशहर की ढाहनी के पास इन्हें शरण दिलाई थी।

- कुछ महिने पहले ही परमजीत कौर व उसके बेटे सुखपाल ने ढाहनी में कोठी बनाई थी और उसमें शिफ्ट हुए थे।

- गैंग के सदस्यों पर कत्ल और लूटपाट के कई मामले दर्ज हैं। हर वारदात के बाद ये लोग नई गाड़ी गनप्वाइंट पर लूटते थे और फरार हो जाते थे।

- वारदात में इंपोर्टेड वैपन इस्तेमाल करते थे। कत्ल के बाद फेसबुक आईडी अपडेट कर उसकी जिम्मेदारी लेते थे और कत्ल के पीछे की कहानी भी बताते थे।

नेता के कत्ल में हरियाणा पुलिस को बंटी की थी तलाश

- कुछ महीने पहले हरियाणा के चौटाला में स्थित कीनू प्रोसेसिंग फार्म में इनेलो नेता समेत दो लोगों का गोलियां मार कत्ल कर दिया था।

- हरियाणा पुलिस ने मास्टरमाइंड छोटू भाट को पिछले दिनों गिदड़बाहा से पकड़ लिया था लेकिन बंटी ढिल्लों फरार था।

- इसे पकड़ने के लिए हरियाणा पुलिस पंजाब-राजस्थान में रेड कर रही थी। मगर बंटी अपने साथी जंपी डॉन और निशान के साथ डबवाली में छुपा हुआ था।

आरोपी जंपी घर का आखिरी चिराग था ढिल्लों का परिवार घर से गायब

- गैंगस्टर जंपी डॉन गांव रोड़ीकपूरा का रहने वाला था उसने घर आना ही छोड़ दिया था। जंपी के माता-पिता की पहले मौत हो चुकी है।

- वह घर का आखिर चिराग था, बताया जा रहा है कि 2012 में उनका जमीन को लेकर गांव के ही कुछ लोगों से झगड़ा हुआ था।

- इस पर परिवार ने गैंगस्टर रणजीत की मदद ली थी। उधर बंटी ढिल्लों हिम्मतपुरा बस्ती का था। पूरा परिवार घर पर ताला लगा कहीं चला गया।

सवाल- लोडेड पिस्टल में अटकी गोली, फिर छाती में कैसे लगी?

1. एनकाउंटरके बाद जो फोटो पहले आए उसमें बंटी और जंपी की लाश के पास ताजा खून था, मगर उनके पास वैपन नहीं दिखा। जब मीडिया पहुंचा तो जो फोटो सामने आए, उसमें बंटी की लाश के पास रिवाल्वर थी। जंपी के पास पिस्टल पड़ा था, जिसे लोड तो किया गया, मगर गोली चली नहीं। फिर जंपी को गोली किसने मारी?

2.निशान की छाती पर गोली लगी है, कोई भी व्यक्ति आत्महत्या के लिए छाती पर गोली कैसे मार सकता है?

3.गैंगस्टरआत्महत्या क्यों करेंगे, जब उनके पास 150 जिंदा कारतूस, 4 आटोमेटिक पिस्टल रिवाल्वर और 315 बोर राइफल थी। फिर 7 राउंड चलाने के बाद आत्महत्या क्यों की?

0 टिप्पणियाँ:

Post a Comment

 
Top