जोधपुर का इस अंतरराष्ट्रीय पदक विजेता ने युवाओं का भविष्य संवारने को निकाला ये रास्ता


जोधपुर। अपने साथी की सलाह पाकर धावक के रूप में जयनारायण व्यास विश्वविद्यालय को ऑल इंडिया इंटर यूनिवर्सिटी प्रतियोगिता में पहला पदक दिलवाने वाले रजाक मोहम्मद इन दिनों खेलों में युवाओं का कॅरियर संवार रहे हैं। रजाक ने वर्ष 1987 में जेएनवीयू की तरफ से ऑल इंडिया इंटर यूनिवर्सिटी प्रतियोगिता पटियाला में भाग लेते हुए पांच हजार मीटर और 10 हजार मीटर रेस में ब्रांज मैडल जीते। जबकि इनसे पहले विवि ने एक भी मैडल किसी भी अंतर विश्वविद्यालयी प्रतियोगिता में नहीं जीता।

जोधपुर का इस अंतरराष्ट्रीय पदक विजेता ने युवाओं का भविष्य संवारने को निकाला ये रास्ता

इस प्रतियोगिता से पूर्व 1985 में जबलपुर में नेशनल क्रॉस कंट्री दौड़ 5000 मीटर में रजाक नेशनल गोल्ड मैडलिस्ट रहे। राजकीय उमावि जालम सिंह हत्था में शारीरिक शिक्षक के पद पर कार्यरत रजाक इन दिनों स्कूल के अवकाश में भी शाला क्रीड़ा संगम गोशाला मैदान में युवाओं को नि:शुल्क कोचिंग दे रहे हैं। इनसे प्रशिक्षण प्राप्त 5 बच्चे एथलेटिक्स में और चार बच्चे सॉफ्टबाल में नेशनल स्तर पर पहुंच चुके हैं। साथ ही कई बच्चे इनसे प्रशिक्षण लेकर सेना और पुलिस की नौकरियों में अपना कॅरियर बना रहे हैं।

1988 में बने भारतीय टीम का हिस्सा
एथलेटिक्स रजाक साल 1988 में भारतीय टीम का हिस्सा बनें और ऑकलैंड में आयोजित विश्व क्रॉस कंट्री दौड़ (आठ किलोमीटर) में भाग लिया। इस तरह से जयनारायण व्यास विश्वविद्यालय की ओर से प्रथम अंतरराष्ट्रीय खिलाड़ी होने का गौरव प्राप्त किया। इन्होंने दो बार लगातार जयनारायण व्यास विवि का सर्वश्रेष्ठ खिलाड़ी का स्वर्ण पदक प्राप्त किया।

ये हैं उनकी खास उपलब्धियां
- 1985 में जबलपुर में आयोजित जूनियर नेशनल क्रॉस कंट्री में गोल्ड मैडल

- 1986 में पटियाला में आयोजित ऑल इंडिया यूनिवर्सिटी में 5000 मीटर एवं 10 हजार मीटर में कांस्य पदक

- 1987 में जालंधर में आयोजित नेशनल जूनियर एथलेटिक्स चैंपियनशिप में 10 हजार मीटर एवं दो हजार मीटर स्टीपल चेज में कास्य पदक

- 1988 में हैदराबाद में आयोजित नेशनल क्रॉस कंट्री चैंपियनशिप में कास्य

- 1988 में ऑकलैंड (न्यूजीलैंड में आयोजित) वल्र्ड क्रॉस कंट्री चैंपियनशिप में भाग लिया।

- वाईएमसीए नई दिल्ली नेशनल एथलेटिक्स गोल्ड मैडल 10 हजार मीटर दौड़ सन 1988 में

- राजस्थान स्टेट क्रॉस कंट्री गोल्ड मैडल सन 1987 में

- बेस्ट एथलीट ऑफ राजस्थान सन 1987 में

- बेस्ट एथलीट ऑफ जोधपुर विवि दो बार

- ऑल इंडिया विवि टीम का दो बार प्रतिनिधित्व किया।

0 टिप्पणियाँ:

Post a Comment

 
Top