जोधपुर.आनंदपाल एनकाउंटर: सीकर के बाद अब जोधपुर भी भड़का, शांत शहर में समर्थक यूं मचा रहे तबाही
प्रदेश के कुख्यात गैंगस्टर आनंदपाल सिंह के एनकाउंटर को लेकर जोधपुर में राजपूत समाज से जुड़े संगठनों में विरोध के स्वर गुरुवार को एेसे फूटे कि युवक बेकाबू हो गए। वाहन रैली निकाल रहे युवकों ने शहर के जालोरी गेट से टाउन हॉल तक के रास्ते में जम कर तोड़ फोड़ की। इनमें कई दुकानों, शो रूम और मॉल के कांच तोड़ दिए गए।




आपको बता दें कि मारवाड़ राजपूत सभा, राष्ट्रीय राजपूत करणी सेना, रावणा राजपूत युवा मंच व विभिन्न सामाजिक संगठन आनंदपाल के एनकाउंटर को लेकर सीबीआई जांच की मांग कर रहे हैं। इसी क्रम में वे वाहन रैली निकाल रहे थे। अचानक ये लोग भड़क गए और दुकानों पर पत्थरबाजी कर दी। मौके पर फिलहाल पुलिस जाप्ता पहुंचा है। लाठियां फटकार कर उन्हें खदेडऩे की कोशिश की जा रही है।




इससे पहले इन लोगों ने बुधवार शाम नई सड़क चौराहे के पास राज्य सरकार के खिलाफ प्रदर्शन किया और मुख्यमंत्री का पुतला भी जलाया। मारवाड़ राजपूत सभा के अध्यक्ष हनुमान सिंह खांगटा ने बताया कि आनंदपाल सिंह का एनकाउंटर एक षड्यंत्र व राजनीतिक हत्या है। समाज में उपजे रहे आक्रोश को देखते हुए राज्य सरकार को बिना विलम्ब पूरे प्रकरण की सीबीआई से जांच की अनुशंषा करवानी चाहिए। उन्होंने मालासर निवासी श्रवण सिंह के परिवार के सदस्यों को तत्काल रिहा करने की मांग भी की। रावणा राजपूत युवा मंच के संयोजक रविन्द्र सिंह परिहार, कुड़ी सरपंच देवी सिंह, कर्मचारी नेता ओम सिंह, करणी सेना के अध्यक्ष रविपाल सिंह सरेचा, हरिद्वार ट्रस्टी जब्बर सिंह, कुड़ी अध्यक्ष इन्द्र सिंह, पूरणनाथ ट्रस्ट अध्यक्ष गोविंद सिंह आदि ने प्रदर्शन के बाद समाज के लोगों को संबोधित कर एनकाउंटर को फर्जी करार देते हुए सीबीआई जांच की मांग की।

0 टिप्पणियाँ:

Post a Comment

 
Top