edvertise

edvertise
barmer



बाड़मेर, राजस्व विभाग के कार्मिकांे की मांगांे को लेकर राज्य सरकार गंभीरःचौधरी

-राजस्व राज्य मंत्री अमराराम चौधरी ने की राजस्व कार्मिकांे से काम पर लौटने की अपील

बाड़मेर, 21 जून। राजस्व कार्मिकांे की मांगांे को लेकर राज्य सरकार गंभीर है। राजस्थान राजस्व सेवा परिषद की ओर से दिए गए ज्ञापन मंे उल्लेखित मांगांे को संबंधित विभाग को भिजवाते हुए प्रभावी कार्यवाही करने के निर्देश दिए गए है। राज्य सरकार समस्त मांगांे पर सहानुभूतिपूर्वक विचार कर रही है। राजस्व राज्य मंत्री अमराराम चौधरी ने बुधवार को बाड़मेर प्रवास के दौरान यह जानकारी दी।

राजस्व राज्य मंत्री अमराराम चौधरी ने बताया कि राजस्व कार्मिकांे को जनहित विशेषकर किसानांे के हित को देखते हुए काम पर लौटना चाहिए। राज्य सरकार की ओर से राजस्व कार्मिकांे की मांगांे को यथाशीघ्र निस्तारित करने के प्रयास किए जा रहे है। उन्हांेने बताया कि पटवारी पद का पे-ग्रेड 3600, भू-अभिलेख निरीक्षक का 4200, तहसीलदार का 5400 ग्रेड पे करने तथा राजस्थान प्रशासनिक सेवा के बाकी पे-ग्रेड का उचित निर्धारण करने के संबंध मंे वित विभाग को 8 मई 2017 को अर्द्व शासकीय टीप के जरिए अनुरोध किया गया है। इसी तरह पटवारियांे को पूर्ण कालिक सहायक की नियुक्ति के संबंध मंे प्रति माह 2500 की दर से दस माह तक प्रतिहारी भत्ता दिए जाने के संबंध मंे पत्रावली 9 मई को प्रमुख शासन सचिव वित विभाग को भेजी गई है। राजस्व विभाग के तीन संवर्गाें को देय दोहरा कार्य भत्ता मूल वेतन मंे जोड़े जाने एवं बहुआयामी भत्ता देने के संबंध मंे पत्रावाली अर्द्व शासकीय टीप के जरिए 9 मई को वित विभाग को भिजवाई गई है। पटवार घर एवं भू-अभिलेख निरीक्षक के भवनांे को कार्यालय घोषित किए जाने एवं समान मकान किराया दिए जाने के संबंध मंे संशोधित प्रस्ताव तैयार करके प्रशासनिक अनुमोदन प्राप्त किया गया है। यह पत्रावली वित विभाग से सहमति के लिए 9 जून को भिजवाई गई है। यह समस्त प्रकरण वित विभाग मंे विचाराधीन है।

राजस्व राज्य मंत्री चौधरी ने बताया कि पटवारी एवं भू-अभिलेख निरीक्षक पद की वरिष्ठता के संधारण के लिए विभाग स्तर पर विशिष्ट शासन सचिव राजस्व की अध्यक्षता मंे एक समिति का गठन किया गया है। इसमंे जिला कलक्टर जयपुर एवं निबंधक राजस्व मंडल राजस्थान अजमेर को शामिल किया गया है। इस समिति ने राजस्थान भू-राजस्व नियम 1957 के नियमांे के संशोधन के प्रस्ताव तैयार कर लिए है। इसको राजस्व विभाग की वेबसाइट पर अपलोड कर 16 जून तक आपत्तियां मांगी गई थी। आपत्तियांे के निस्तारण के बाद अग्रिम कार्यवाही की जा सकेगी। उन्हांेने बताया कि भू-अभिलेख निरीक्षक की वरिष्ठता सूची के संबध मंे माननीय राजस्थान उच्च न्यायालय जोधपुर से स्थगन आदेश वेकेट होने के बाद ही राजस्व मंडल स्तर से कार्यवाही की जा सकेगी। इसी तरह एसबी सिविल रिट पिटीशन सत्यनारायण वर्मा बनाम राजस्थान राज्य एवं अन्य मंे पारित आदेश का समुचित लाभ दिए जाने के संबंध मंे राजस्थान उच्च न्यायालय जोधपुर से स्थगन आदेश वेकेट होने के बाद राजस्व मंडल स्तर से कार्यवाही की जा सकेगी।

राजस्व राज्य मंत्री चौधरी ने बताया कि उप पंजीयक का पेनल मंडल की वेबसाइट पर अपलोड कर दिया गया है। इसी तरह डीबीसी स्पेशल अपील पूनाराम एवं अन्य बनाम राजस्थान सरकार की पालना के संबंध मंे राजस्थान उच्च न्यायालय जोधपुर से स्थगत आदेश वेकेट होने के बाद राजस्व मंडल स्तर से कार्यवाही की जा सकेगी। पटवारी से भू-अभिलेख निरीक्षक की वरिष्ठता के लिए नियमांे मंे संशोधन संबंधित प्रक्रिया के बारे मंे 16 जून तक प्राप्त हुई आपतियांे के निस्तारण के बाद बाद कार्यवाही की जा सकेगी। उन्हांेने बताया कि राजस्व अधिकारी द्वारा किए जाने वाले न्यायिक, अर्द्व न्यायिक एवं प्रशासनिक कार्याें के संबंध मंे अपराधिक प्रकरण दर्ज नहीं किए जाने के संबंध मंे विशिष्ट शासन सचिव गृह विभाग से प्राप्त हुई चर्चा अनुसार इस संबंध मंे परिपत्र जारी किया जाना प्रक्रियाधीन है। इसी तरह राजस्व अधिकारियांे की ओर से किए जाने कार्याें के संबंध मंे अपराधिक प्रकरण दर्ज नहीं किए जाने के संबंध मंे प्रकरण संयुक्त शासन सचिव कार्मिक विभाग के पास विचाराधीन है। इसी तरह आरटीएस से आरएएस मंे पदोन्नति कोटा 50 फीसदी करने तथा आरएएस से आईएएस की तर्ज पर पदोन्नति, नायब तहसीलदार एवं तहसीलदार के पद पर पदोन्नति मंे अनुभव मंे छूट दिए जाने के प्रकरण संबंधित पत्रावलियां संयुक्त शासन सचिव कार्मिक विभाग स्तर पर परीक्षणाधीन है। उन्हांेने बताया कि भू राजस्व को माफ किए जाने के संबंध मंे उच्च स्तर से नीतिगत निर्णय लिया जाना है। वहीं भू-अभिलेख निरीक्षक की वरीयता के संबंध मंे जारी अधिसूचना 8 अक्टूबर 2014 का भूतलक्ष्यी प्रभाव से लाभ दिए जाने के संबंध मंे पत्रावली 13 जून को विधि विभाग को भिजवाई गई है।

पाक विस्थापितों की समस्याओं के समाधान के लिए

जिला स्तरीय समिति की बैठक कल

बाडमेर, 21 जून। जिले में वास कर रहे पाक विस्थापितों की विभिन्न समस्याओं के समाधान के लिए राज्य स्तरीय उच्चाधिकार समिति द्वारा प्रस्तुत सुझावों की क्रियान्विति सुनिश्चित करने एवं भविष्य में पाक विस्थापितों की समस्याओं के निराकरण के लिए जिला स्तरीय समिति की बैठक जिला कलक्टर शिवप्रसाद मदन नकाते की अध्यक्षता में 23 जून को दोपहर 3 बजे जिला कलक्टर कार्यालय में आयोजित की जाएगी।

अतिरिक्त जिला कलक्टर ओ.पी. बिश्नोई ने संबंधित अधिकारियों को निर्धारित एजेण्डा अनुसार अपने विभाग से संबंधित सूचनाओं के साथ निर्धारित समय पर बैठक में उपस्थित होने के निर्देश दिए है।



आतंरिक सुरक्षा संबंधित बैठक 29 को

बाड़मेर, 21 जून। जिले के महत्वपूर्ण क्षेत्रों में इण्टीग्रेटेड सिक्योरिटी रेसपोन्स मैकेनेजिम स्थापित करने तथा समन्वय बनाये रखने बाबत जिला स्तरीय समिति की बैठक जिला कलक्टर एवं जिला मजिस्टेªट शिवप्रसाद मदन नकाते की अघ्यक्षता में 29 जून को प्रातः 11.30 बजे जिला कलक्टर कार्यालय में आयोजित की जाएगी।



न्यायिक प्रकरणों की समीक्षा बैठक 27 को

बाड़मेर, 21 जून। न्याय विभाग की वेबसाईट लाईट्स पर विभागीय न्यायिक प्रकरणों की प्रविष्टि एवं अपडेशन की नवीनतम प्रगति की समीक्षा बैठक 27 जून को प्रातः 11.00 बजे कलक्ट्रेट कांफ्रेन्स हॉल में आयोजित की जाएगी।

अतिरिक्त जिला कलक्टर ओ. पी. बिश्नोई की अध्यक्षता में आयोजित होने वाली उक्त बैठक में प्रभारी अधिकारी के आदेश लाईट्स सॉफ्टवेयर से जारी करना, प्रभारी अधिकारी के मोबाईल नम्बर एवं ई मेल आईडी इन्द्राज एवं अपडेशन, दर्ज डयु कोर्स में लम्बित प्रकरणों की समीक्षा, मासिक सूचना का इन्द्राज, जवाब दावा के शेष प्रकरणों की समीक्षा, सुनवाई तारीख को अपडेट करने तथा निर्णित प्रकरणों में पालना, अपील की समीक्षा की जाएगी। बिश्नोई ने संबंधित अधिकारियों को उनके विभाग से संबंधित लम्बित प्रकरणों की एजेण्डानुसार सूचना अपडेट कर मासिक रिपोर्ट की प्रति सहित बैठक में उपस्थित होने के निर्देश दिए है।



औद्योगिक समिति की बैठक 29 को
बाडमेर, 21 जून। जिला स्तरीय औद्योगिक समिति की बैठक जिला कलक्टर शिवप्रसाद मदन नकाते की अध्यक्षता में 29 जून को शाम 4.30 बजे जिला कलक्टर कार्यालय में आयोजित की जाएगी।

जिला उद्योग केन्द्र के महाप्रबन्धक घनश्याम गुप्ता ने बताया कि उक्त बैठक में गत बैठक के कार्यवाही विवरण की पुष्टि, गत बैठक में लिये गये महत्वपूर्ण निर्णयों की अनुपालना सहित विभिन्न विभागों में लम्बित प्रकरणों पर चर्चा की जाएगी।

कार्यशाला मंे योग के विविध पहलूआंे से रूबरू कराया
बाडमेर, 21 जून। अन्तर्राष्ट्रीय योग दिवस समारोह की कडी में बुधवार को कलक्ट्रेट कांफ्रेन्स हॉल में योग विषयक कार्यशाला का आयोजन किया गया।

कार्यशाला को सम्बोधित करते हुए जिला आयुर्वेद अधिकारी डा. नरेन्द्र कुमार ने योग से होने वाले फायदों के बारे में विस्तार के साथ जानकारी कराई। उन्होने कहा कि योग केवल व्यायाम ही नहीं है अपितु योग करने से शरीर को ऊर्जा की प्राप्ति होती है। योग से मन मस्तिष्क शांत रहता है। योग लोगों में आत्मविश्वास को जागृत करके तनाव को शांत करता है तथा शान्ति प्रदान करता है। कार्यशाला के दौरान उन्होने नित्य जीवन में योग को अपनाने की अपील भी की।

कार्यशाला के दौरान डा. सुरेन्द्रसिंह एवं डा. भरत सारण ने पॉवर प्रजेन्टेशन के जरिये योग, प्रणायाम एवं विभिन्न आसनों को करने कीे विधि, उससे होने वाले फायदों एवं सावधानियों के बारे में विस्तार के साथ जानकारी कराई। कार्यशाला में अग्रणी जिला प्रबन्धक अशोक गींगल, भूराराम प्रजापत, हेमाराम चौधरी सहित गणमान्य नागरिक उपस्थित थे।

योग दिवस समारोह की कडी में बुधवार को राजकीय उच्च माध्यमिक विद्यालय स्टेशन रोड बाडमेर में योग विषयक निबंध प्रतियोगिता एवं व्याख्यान का आयोजन किया गया। इस अवसर पर डा. प्रदीप धनदे ने योग की महत्वता पर व्याख्यान दिया।

0 टिप्पणियाँ:

Post a Comment

 
Top