edvertise

edvertise
barmer



जालोर जिला कलेक्टर सोनी के निर्देशन मे कार्यालयों का औचक निरीक्षण

जालोर 5 जून - जिला कलेक्टर एल.एन. सोनी के निर्देशन में गठित दलों द्वारा सोमवार को जिला एवं ब्लाॅक मुख्यालय के सरकारी कार्यालयों को आकस्मिक निरीक्षण किया गया।

जिला कलेक्टर एल. एन. सोनी ने बताया कि सरकारी कार्मिकों मे कार्य के प्रति गति लाने और कार्यालय मे अनुपस्थिति पर अंकुश लगाने के उद्देश्य से सोमवार को जिला मुख्यालय एवं ब्लाॅक पर स्थित जनस्वास्थ्य अभियांत्रिकी विभाग एवं चिकित्सा एवं स्वास्थ्य विभाग के कार्यालयों का टीमें गठित कर औचक निरीक्षण किया गया। जिसके तहत जन स्वास्थ्य अभियांत्रिकी विभाग के अधीक्षण अभियंता कार्यालय, अधिशाषी अभियंता कार्यालय , नर्मदा प्रोजेक्ट के विभिन्न कार्यालयों एवं जिले के विभिन्न ब्लाॅकों पर स्थित सहायक अभियंता कार्यालयों समेत कुल 21 कार्यालयों का औचक निरीक्षण किया गया । जिसमे 17 अधिकारी एवं 37 कार्मिकों सहित कुल 54 कार्मिक अनुपस्थित पाये गये।

इसी प्रकार चिकित्सा एवं स्वास्थ्य विभाग के मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी कार्यालय, जिला प्रजनन व शिशु स्वास्थ्य अधिकारी कार्यालय एवं जिले के विभिन्न ब्लाॅकों मे स्थित बी.सी.एम.ओ. कार्यालयों सहित कुल 10 कार्यालयों का टीमों द्वारा औचक निरीक्षण किया गया । जिसमे 4 अधिकारी एवं 45 कर्मचारी सहित कुल 49 कार्मिक अनुपस्थित पाये गये । गठित टीमों द्वारा कार्यालय मे संधारित मूवमेंट रजिस्टर को भी चैक किया गया जिसमे से 10 कार्यालयों मे मूवमेंट रजिस्टर का संधारण नही होना पाया गया । टीम द्वारा जिन विभागों मे मूवमेंट रजिस्टर संधारित नही हो रहे है उन्हे संधारित करने के निर्देश दिये गये।

जिला कलेक्टर सोनी ने कहा कि अनुपस्थित पाये जाने वाले अधिकारी/कार्मिकों के विरूद्ध नियमानुसार विभागीय कार्यवाही अमल मे लाई जायेगी साथ ही उन्होने सभी विभागों के अधिकारियों को मूवमेंट रजिस्टर संधारित करने के सख्त निर्देश दिये । उन्होने कहा कि कार्मिक कार्यालय मे समय पर उपस्थित हो तथा कार्यालय समय मे कार्यालय मे आने वाले आम जन की सहायता को तत्पर रहे। उन्होने कहा कि इसी प्रकार अन्य विभागों मे भी औचक निरीक्षण की कार्यवाही कर जिले की व्यवस्था एवं कार्यप्रणाली मे सुधार लाया जायेगा।

----000---

जिला स्तरीय सम्पर्क समाधान शिविर गुरूवार को

जालोर 5 जून - जिला स्तरीय सम्पर्क समाधान शिविर का आयोजन 8 जून गुरूवार को कलेक्ट्रेट कार्यालय के अटल सेवा केन्द्र में किया जायेगा।

जिला कलक्टर ने बताया कि राज्य सरकार के निर्देशानुसार आम जन की परिवेदनाओं की सुनवाई तथा समस्याओं के त्वरित एवं सकारात्मक समाधान के लिये संपर्क समाधान के तहत 8 जून गुरूवार को अपरान्ह 2 बजे जिला कलेक्ट्रेट कार्यालय के अटल सेवा केन्द्र पर जिला स्तरीय सम्पर्क समाधान शिविर व तत्पश्चात् जिला जन अभाव अभियोग एवं सतर्कता समिति की मासिक बैठक भी सम्पन्न होगी ।

----000----

लाॅटरी के माध्यम से किया पुस्तकें प्राप्ति की तिथि का निर्धारण
जालोर 5 जून - राजस्थान राज्य पाठ्यपुस्तक वितरण केन्द्र जालोर की ओर से सोमवार को लाॅटरी निकालकर पंजीकृत पुस्तक विक्रेताओं के लिए पुस्तकें प्राप्ति की तिथि का निर्धारण किया।

रा.र.पा.प.वितरण केन्द्र के प्रबन्धक मंगलसिंह बालोत ने बताया कि राजस्थान राज्य पाठ्यपुस्तक मंडल राजस्थान-जयपुर के निर्देशानुसार 5 जून सोमवार को उपस्थित 6 विक्रेताओं के समक्ष लाॅटरी निकालकर पंचायत समितिवार पुस्तकें प्राप्त करने की तिथि का निर्धारण किया गया हैं जिसके तहत सायला पंचायत समिति के समस्त पुस्तक विक्रेताओं को 7 जून को, सांचैर के पुस्तक विक्रेताओं को 8 जून को, भीनमाल के पुस्तक विक्रेताआं को 9 जून को, जसवन्तपुरा व आहोर पंचायत समिति के पुस्तक विक्रेताओं को 13 जून को तथा जालोर पंचायत समिति के पुस्तक विक्रेताओं को 14 व 15 जून को बिक्री के लिए पुस्तकें दी जायेगी।

---000----

ई-मित्रा संचालकों की एक दिवसीय प्रशिक्षण कार्यशाला सम्पन्न

जालोर 5 जून - सूचना प्रोद्योगिकी एवं संचार विभाग द्वारा जिले के ग्रामीण व शहरी क्षेत्रों में स्थित ई-मित्रा कियोस्क संचालकों की एक दिवसीय प्रशिक्षण कार्यशाला जालोर पंचायत समिति के अटल सेवा केन्द्र में सम्पन्न हुई।

सूचना प्रोद्योगिकी एवं संचार विभाग राजस्थान-जयपुर के निर्देशानुसार जिले के ग्रामीण एवं शहरी क्षेत्रों में स्थित ई-मित्रा कियोस्क के संचालकों को ई-मित्रा के नए पोर्टल तथा विभिन्न प्रकार की सरकारी एवं गैर सरकारी सेवाओं का प्रशिक्षण दिये जाने के लिए जालोर पंचायत समिति के अटल सेवा केन्द्र में सोमवार को एक दिवसीय कार्यशाला आयोजित हुई जिसमें ई-मित्रा धारको को नये एसएसओ पोर्टल के माध्यम से लाॅगइन करने से लेकर विभिन्न सेवाओं को आमजन तक पहुंचाने की जानकारी दी गई। प्रशिक्षण के दौरान मास्टर ट्रेनर भवानी सिंह व वक्रांगी के ब्लाॅक समन्वयक रतनसिंह ने ई-मित्रा की विभिन्न सेवाओं के रूप में नया भामाशाह नामांकन, भामाशाह संशोधन, श्रमिक पंजीयन, बेरोजगारी भत्ते के लिए आवेदन, राशन कार्ड, पेंशन सत्यापन, जाति-मूल प्रमाण पत्रा, पालनहार नामांकन एवं सत्यापन की विस्तृत जानकारी दी। समाज कल्याण विभाग के कार्मिक लकमाराम भाटी ने दिव्यांग चयन और सहयोग उपहार योजना, विधवा पुत्राी विवाह, छात्रावास फाॅर्म एवं विभिन्न जन कल्याणकारी योजनाओं की जानकारी दी।

इस अवसर पर सीएससी के जिला समन्वयक मगाराम चैधरी ने जानकारी देते हुए बताया कि प्रधानमंत्राी ग्रामीण डिजिटल साक्षरता अभियान के माध्यम से राज्य के ग्राम पंचायत मुख्यालयों पर सीएससी केन्द्रों के माध्यम से डिजिटल साक्षरता का प्रशिक्षण दिया जायेगा जिसमें प्रत्येक सफल अभ्यर्थी को भारत सरकार द्वारा प्रमाण पत्रा एवं केन्द्र संचालक को उचित मानदेय देय होगा। सूचना प्रौद्योगिकी एवं संचार विभाग ब्लाॅक जालोर के सूचना सहायक मनोज कुमार सोयल एवं जगदीश कुमार सिंधल ने कैशलेस क बारे में जानकारी दी तथा सभी ई-मित्रा संचालकों को अपने कियोस्कों पर निर्धारित रेट-लिस्ट लगाने के लिए निर्देश किया। इस दौरान ई-मित्रा धारकों की विभिन्न समस्याओं का समाधान किया गया। कार्यशाला में जालोर ब्लाॅक के शहरी एवं ग्रामीण क्षेत्रों में सभी ई-मित्रा कियोस्क धारकों ने उपस्थित रहकर प्रशिक्षण प्राप्त किया।

0 टिप्पणियाँ:

Post a Comment

 
Top