edvertise

edvertise
barmer



जालोर राजस्व अधिकारी फ्लैगशिप योजनाओं की भी पूर्ण जानकारी रखें- सोनी

जिला कलक्टर ने राजस्व अधिकारियों को बैठक में दिये आवश्यक निर्देश



जालोर 11 जून - जिला कलक्टर एल.एन. सोनी ने राजस्व अधिकारियों को निर्देशित किया कि वे राजस्व कार्यो के अतिरिक्त राज्य सरकार द्वारा संचालित सभी फ्लैगशिप योजनाओं की भी पूर्ण जानकारी रखते हुए जरूरतमंद व्यक्तियों को लाभाविन्त करने के महत्ती कार्य में अपनी सक्रिय भूमिका निभायें।

जिला कलक्टर एल.एन. सोनी ने कलेक्ट्रेट सभा कक्ष में रविवार को राजस्व, लेखा विधि, भू. अभिलेख एवं विभिन्न योजनाओं की आयोजित समीक्षा बैठक अधिकारियों को निर्देशित किया कि राजस्व अधिकारी अपने अधिकारों का उपयोग करते हुए अधिकाधिक जरूरतमंद लोगों को राज्य सरकार द्वारा संचालित फ्लैगशिप योजनाओं में लाभाविन्त करें। उन्हांेने उपखण्ड अधिकारियों को कहा कि वे अपने-अपने क्षेत्रा में राजस्व प्रकरणों की प्रभावी माॅनिटरिंग करने के अतिरिक्त जनकल्याणकारी योजनाओं एवं विकास कार्यो पर भी पूर्ण ध्यान रखते हुए राज्य सरकार की मंशा के अनुरूप सभी योजनाओं व कार्यो में यथेष्ट प्रगति को बनायें। उन्होनें कहा कि उपखण्ड अधिकारी सकारात्मक सोच व खुले दिमाग के साथ अपने-अपने क्षेत्रा में चल रहे राजकीय व निजी अस्पतालों में भामाशाह स्वास्थ्य बीमा एवं राजश्री योजना की पूर्ण जानकारी मय पात्राता एवं देय राशि आदि के सम्बन्ध में सूचना पट्ट लगवानें सुनिश्चित करें ताकि अस्पतालों में आने वाले रोगियों एवं परिजनों को जानकारी मिल सकें वही चिकित्सालयों का प्रभावी निरीक्षण भी करें।

उन्होनें राजस्व अधिकारियों को निर्देशित किया कि वे अपने-अपने क्षेत्रा में राष्ट्रीय, राज्य एवं मुख्य मार्गों पर संचालित व्यवसायिक गतिविधियों पर भी नजर रखे तथा जहां पर भी कृषि भूमि का रूपान्तरण किये बिना कोई गतिविधि चल रही है तो उनके विरूद्व आवश्यक कार्यवाही कर चैक लिस्ट के तहत रिपोर्ट भिजवायें। उन्होनें अधिकारियों को कहा कि वे अपने अधीनस्थ राजस्व कार्मिकों को भी सख्त निर्देश दे कि वे अपने क्षेत्रों में निरन्तर निगरानी रखे तथा जहां पर भी अतिक्रमण हुआ है उसकी तत्काल सूचना भिजवायें साथ ही अतिक्रमी के विरूद्ध तत्काल कार्यवाही की जायें। उन्होनें समीक्षा के दौरान विकास अधिकारियों को कहा कि क्षेत्रा में ग्रामीण गौरव पथ के तहत निर्माणाधीन सड़कों के दोनों तरफ नालियों की सुनिश्चिता करें एवं सडक निर्माण के तहत डामर पर सोल्डर कार्य है या नही इसकी भी जांच कर रिर्पोट भिजवायें। उन्होनें कहा कि अन्नपूर्णा भंडारों पर अवधिपार सामग्री नही बिकनी चाहिए वही भंडार पर स्वच्छता भी दिखनी चाहिए।

जिला कलक्टर ने बैठक में अधिकारियों को निर्देशित कि आदर्श विधालय योजना के तहत क्षेत्रा में स्थित आदर्श व उत्कृष्ठ विद्यालयों में निर्धारित मापदण्डों का भी निरीक्षण करने के अतिरिक्त आईसी लेब की कार्य विधि यथा कम्प्यूटरों व आवश्यक सामग्री का निरीक्षण एवं बच्चों को सिखाये जा रहे कार्यो आदि के सम्बन्ध में भी पूछताछ करें। उन्होनें कहा कि जब भी निरीक्षण करने जायें तब सर्वप्रथम शौचालय आदि का अवलोकन करें तथा शौचालयों में स्वच्छता एवं पानी की टंकी व नल, बाल्टी, मग व हाथ धोने के लिए साबुन आदि की भी उपलब्धता को देखें।

बैठक में मुख्य कार्यकारी अधिकारी हरिराम मीना ने स्वच्छ भारत मिशन एवं अतिरिक्त जिला कलक्टर नरेश बुनकर ने भामाशाह स्वास्थ्य बीमा योजना पर पाॅवर पाॅईन्ट प्रजेटेशन के माध्यम से प्रजेटेशन दिया वही जालोर उपखण्ड अधिकारी राजेन्द्र सिंह ने भामाशाह योजना, आहोर उपखण्ड अधिकारी प्रकाशचन्द्र अग्रवाल ने ग्रामीण गौरव पथ योजना, सायला उपखण्ड अधिकारी केशव मिश्रा ने कौशल एवं आजीविका विकास योजना, सांचैर उपखण्ड अधिकारी अदिति पुरोहित ने मुख्यमंत्राी राजश्री योजना, बागोडा उपखण्ड अधिकारी रेणु सैनी ने न्याय आपके द्वार कार्यक्रम, भीनमाल उपखण्ड अधिकारी दौलतराम चैधरी ने अन्नपूर्णा भंडार योजना एवं रानीवाडा उपखण्ड अधिकारी हनुमानसिंह राठौड ने आदर्श विद्यालय योजना पर पाॅवर पोईन्ट प्रजेटेशन के माध्यम से योजनाओं की जानकारी दी।

बैठक में विभिन्न बकाया राजस्व मामले, विभिन्न राजस्व न्यायालयों में लम्बित प्रकरण, सीमाज्ञान के मामले, नामान्तरकरण, नकल प्रतिलिपियाँ सहित कलेक्ट्रेट के विभिन्न अनुभागों से सम्बन्धित लम्बित मामलों की भी समीक्षा की गई। बैठक में जिले के सभी उपखण्ड अधिकारी, तहसीलदार, विकास अधिकारी एवं नायब तहसीलदार आदि उपस्थित थें।

----000----

जिला कलक्टर ने सामान्य प्रक्रिया से हटकर ली बैठक


जालोर 11 जून - जिला कलक्टर एल.एन. सोनी ने राजस्व अधिकारियों की बैठक सामान्य रूटीन से हटकर ली तथा दो चरणों में आयोजित बैठक में राजस्व मामलों की समीक्षा के अतिरिक्त प्रशासनिक अधिकारियों की योजनाओं व विकास गतिविधियों पर कितनी पकड है इसकी भी जांच की।

रविवार को कलेक्ट्रेट सभा कक्ष में प्रातः 10.30 बजे प्रथम चरण की बैठक प्रारभ्भ हुई जिसमें पूर्व निर्धारित कार्यक्रम के तहत प्रशासनिक अधिकारियों ने फ्लैगशिप योजनाओं पर अपना-अपना प्रस्तुतिकरण दिया तत्पश्चात प्रस्तुतीकरण में रही कमियों को जिला कलक्टर एल.एन. सोनी ने स्पष्ट किया तथा उसके पश्चात् उपस्थित अधिकारियों की जिज्ञासाओं व प्रश्नों का भी समाधान किया गया। दोपहर बाद द्वितीय चरण की बैठक शाम तक चली जिसमें राजस्व मामलों की विस्तार से समीक्षा की गई तथा आवश्यक निर्देश दिये गयें। द्वितीय चरण की बैठक में कलेक्ट्रेट के विभिन्न अनुभागों के प्रमुख कार्मिक आदि भी उपस्थित थें।

-----000----

0 टिप्पणियाँ:

Post a Comment

 
Top