edvertise

edvertise
barmer


जैसलमेर ‘‘आॅपरेशन मिलाप‘‘ के तहत कार्यवाही करते हुए 03 बाल मजदूरांे को करवाया मुक्त
‘‘आॅपरेशन मिलाप‘‘ के तहत पुलिस अधीक्षक जिला जैसलमेर गौरव यादव के निर्देशानुसार कस्बा जैसलमेर में जिला मानव तस्करी यूनिट के सदस्य हैड कानि. शैलेन्द्रसिंह, कानि. भवानीसिंह, महावीरसिंह पुलिस थाना सदर के बाल कल्याण अधिकारी केवलदास मय स्टाॅफ द्वारा होटल, रेस्टोरेंट, धर्मशाला, रेल्वे स्टेशन, बस स्टेण्ड एवं निर्माण कार्य क्षेत्रों को चैक किया गया दौराने चैकिंग टीमों द्वारा निरज होटल के सामाने स्थित स्वागत रेस्टोरेंट को चैक किया गया तो एक नाबालिक बच्चे को मजदूरी करते हुए देखा गया तो इस पर पुलिस थाना कोतवाली का सुचित करने पर अशोक कुमार उप निरीक्षक मय स्टाॅफ होटल पर पहॅूचे तथा नाबालिक बच्चे को अपने साथ लेकर गये। बाद चैंिकग करते हुए रिको ऐरिया में पहॅूचे तो तमन्ना इलेक्ट्रोनिक पर नाबालिक बच्चों से मजदूरी करवाई जा रही थी। जिस पर कोतवाली स्टाॅफ द्वारा 02 नाबालिक बच्चों को लेकर बाल कल्याण समिति पहॅूच, बच्चों को बाल कल्याण समिति सदस्य कंवराजसिंह को तीनों नाबालिक बच्चों को सूपूर्द कर 02 नियूक्ताओं के विरूद्ध पुलिस थाना कोतवाली में अलग-अलग प्रकरण दर्ज कर जाॅच प्रारम्भ की गई। इस प्रकार आॅपरेशन मिलाप के तहत जिला पुलिस की मानव तस्करी यूनिट एवं थानों द्वारा ऐसे व्यक्तियों के विरूद्ध कार्यवाही की गई जो नाबालिक बच्चों के भविष्य को खराब करते हुए उन्हे मजबूरन मजदूरी में धकेलने के प्रयास करते है उनके विरूद्ध कार्यवाही की गई।

बालश्रम के संबंध में जिला पुलिस द्वारा आमजन एवं विभिन्न प्रतिष्ठानों से बार-बार अपील करने के बावजूद भी लोगों द्वारा नाबालिक बच्चों से मजदूरी करवाई जा रही है तथा लगातार पुलिस द्वारा अलग-अलग जगहों से कार्यवाही भी अमल में लाई जा रही है फिर भी कुछ लोग बालश्रम करवा रहे है। आईन्दा इस प्रकार की कोई सुचना मिलती है तो बालश्रम करवाने वालों के खिलाफ ओर कठिन कार्यवाही अमल में लाई जावेगी।

0 टिप्पणियाँ:

Post a Comment

 
Top