edvertise

edvertise
barmer



आंगी बांगी गेर कला में बिखरी राजस्थानी छटा -

नो दिवसीय कार्यक्रम का हुआ रंगारंग समापन


जसोल ( बाड़मेर )# मालानी सांस्कृतिक कला केंद्र द्वारा नो दिवसीय होली फ़ाग महोत्सव का समापन समारोह मंगलवार रात्रि में किया गया। होली फ़ाग महोत्सव में लोग कलाकारों ने आंगी-बांगी गेर की धमचक से देर रात तक विभिन्न गेर नृत्यों से समां बांधे रखा। फाग महोत्सव के दौरान लोग गायक जेठाराम माली व् भीमाराम गहलोत ने एक से बढक़र एक फाग गीतों की प्रस्तुतियों से उपस्थित दर्शकों को झूमने पर मजबूर कर दिया। मालानी के इन लोक कलाकारों ने देश प्रदेश में ही नहीं अपितु सात समुद्र पार कई देशों जिसमें लेबनान , ट्यूनेशिया , इटली जैसे देशों में अपनी कला का लोहा मनवाया हैं ,देश प्रदेश के मंचों पर अपनी कला की शानदार प्रस्तुति देकर मालानी कला का जो लोहा मनवाया हैं जिससे जसोल ग्राम को गर्व हैं कला केंद्र के मूलाराम गहलोत व् पारसमल सोलंकी बताते हैं कि होली पर आयोजित कार्यक्रम में होली फ़ाग में अपनी प्राचीन परम्परा को जीवित रखा जा रहा हैं

महोत्सव के तहत रात्रि में रंगारंग सांस्कृतिक कार्यक्रम का भी आयोजन हुआ जिसमें स्थानीय लोक कलाकारों ने अपनी मनमोहक प्रस्तुतियां दी। इस दौरान उपखंड अधिकारी प्रभातीलाल जाट , भाजयुमो जिला प्रवक्ता कांतिलाल राजपुरोहित , सुरेश मेहता ,उप सरपंच भूराराम मेघवाल , नंदुजी मेहता , वार्ड पार्षद विजय जैन , समाजसेवी मेलाराम सोलंकी सहित बड़ी संख्या में लोग मौजूद थे।

0 टिप्पणियाँ:

Post a Comment

 
Top