edvertise

edvertise
barmer



बालोतरा.सजने लगा हाट बाजार, पहुंचने लगे पशु,चौकियां स्थापितसजने लगा हाट बाजार, पहुंचने लगे पशु,चौकियां स्थापित
मालाणी नस्ल के घोड़ों की खरीद-फरोख्त के लिए प्रसिद्ध श्री मल्लीनाथ पशुमेला तिलवाड़ा शुभारम्भ से पहले ही सजना शुरू हो गया है। यहां घोड़ों सहित अन्य पशुओं की आवक आरम्भ हो गई है। सोमवार को चौकियां स्थापित होने के साथ ही मेले में रौनक नजर आने लगी है। हाट-बाजार भी सज रहा है। मेले का विधिवत उद्घाटन 24 मार्च को होगा।

तिलवाड़ा पशु मेला में पशुपालक पशु लेकर पहुंचने शुरू हो गए हैं। इस पर पशुपालन विभाग ने सोमवार को चौकियां लगाई। अब तक मेला में चार सौ से अधिक पशु पहुंचने के साथ इनकी आवक जारी है। बड़ी संख्या में लगी दुकानों पर खरीदारी, मनोरंजन के लिए क्षेत्र भर से मेलार्थी पहुंच रहे हैं। मल्लीनपाथ पशुमेला तिलवाड़ा विधिवत रूप से 24 मार्च को झण्डारोहण के साथ प्रारंभ होगा, लेकिन होली मनाने के साथ ही पशुपालक पशु लेकर मेले में पहुंचने शुरू होते हैं। शीतला सप्तमी पर्व बाद पशुओं की आवक अधिक बढ़ जाती है।

मेले में सोमवार शाम तक 250 घोड़े, 80 उंट व कुछ बैल पहुंच चुके थे। पशुओं की आवक जारी थी। मेले में अब तक दो से अधिक दुकानें लग चुकी हैं। अस्थायी होटल, रेस्टोरेंट, पशु शृंगार, लोहा,स्टील सहित अन्य जरूरत के सामान की दुकानें लगने के साथ ही मनोरंजन, खरीदारी के लिए मेलार्थी यहां पहुंच रहे हैं। इस पर सुबह-शाम मेले में रौनक दिखाई देती है।

प्रशासन की ओर से मेले में बिजली, पानी की समुचित व्यवस्था की गई है। मेला स्थल पर बन चुके खड्डों को पाट जमीन को समतल किया गया है। इस पर मेलार्थी अब राहत महसूस कर रहे हैं। आने वाले दो दिनों में पशुओं की आवक बढऩे के साथ ही देश भर से पशु व्यापारी यहां पहुंचेंगे। इनके अलावा शहर व क्षेत्र भर से हजारों लोग यहां पहुंचेंगे। इस पर मेला अपने पूरे परवान पर होगा।

0 टिप्पणियाँ:

Post a Comment

 
Top