जयपुर।फिर एक पांच साल की मासूम बनी हैवानियत का शिकार, आरोपी फरार


पिलानी से आई सात साल की बच्ची का जेके लॉन अस्पताल में ऑपरेशन हो रहा था और राजधानी के सांगानेर थाना इलाके में एक और पांच साल की मासूम हैवान के चंगूल में पहुंच गई। रोते हुए उसने हैवानियत की दास्तान लोगों को बताई तो मामले का खुलासा हुआ, लेकिन आरोपी इस बीच फरार होने में कामयाब हो गया।




बच्ची का मेडिकल के बाद हो रहा है अस्पताल में उपचार

पुलिस की माने तो रामसिंहपुरा कच्ची बस्ती में पड़ोसी युवक ने ही ये करतूत की है। पुलिस आरोपी को तलाश रही है। उधर, बच्ची का मेडिकल कराने के बाद उसका उपचार जेके लॉन अस्पताल में किया जा रहा है।




बस्ती की मासूम के साथ दुष्कर्म की जानकारी आने पर लोगों में आक्रोश हो गया। उन्होंने आरोपी के काम करने वाली फैक्टरी के बाहर जमकर नारेबाजी की।




मौके पर डीसीपी और पुलिसकर्मी तलाश रहे आरोपी को

मौके पर डीसीपी कुंवर राष्ट्रदीप पहुंचे और पीड़ित बच्ची से बात की। बताया जाता है कि बिहार निवासी 25 वर्षीय विकास पीड़िता के नजदीक मकान में किराए से रहकर फैक्टरी में काम करता था।




दोपहर को करीब ढ़ाई बजे मौका देख बच्ची को अपने पास बुलाया और उसके साथ ज्यादती की। रोते हुए बच्ची बाहर निकली तो लोगों ने पूछा। बच्ची के खून निकलते देख लोग परिजनों के पास ले गए, इस बीच आरोपी फरार हो गया।




विरोध प्रदर्शन कर रहे लोगों ने बताया कि पहले बच्ची को पान मसाला लाने के लिए बुलाया और उसको अंदर ले गया। वहां पर उसने उसके साथ गलत काम किया और किसी को नहीं बताने के लिए दस रुपए दिए। लेकिन बच्ची दर्द के मारे बाहर निकलते ही रोने लगी और आरोपी पहले ही भांप गया था इसलिए मौका देख फरार हो गया।

0 टिप्पणियाँ:

Post a Comment

 
Top