edvertise

edvertise
barmer



पाली.पाली में आखिर ऐसा क्या हुआ कि एक मामूली सूचना से कलेक्टर-एसपी समेत पूरे प्रशासन को भागना पड़ा मौके पर


हेमावास बांध में लीकेज हो गया है जल्दी से वहां पहुंचो। जलदाय विभाग, चिकित्सा, पुलिस सहित कई विभागों को गुरुवार सुबह यह सूचना दी गई। जिस पर सभी तत्परता से मौके के लिए रवाना हुए। वहां पहुंचे तो सामने आया कि यह तो मॉक ड्रील हैं। जब जाकर अधिकारियों की जान में जान आई।




आपात स्थिति में जिम्मेदार विभाग के अधिकारी-कर्मचारी कितनी तत्परता से मौके पर पहुंचे है। इसकी परीक्षा लेने के लिए जिला कलक्टर कुमारपाल गौतम के निर्देश पर सुबह हेमावास बांध में लीकेज होने की सूचना विभिन्न विभागों में दी गई। इस पर जिला कलक्टर कुमारपाल गौतम, पुलिस अधीक्षक दीपक भार्गव, एएसपी जयपाल यादव, एसडीएम विशाल दवे, सीओ सिटी नरेंद्र शर्मा, नगर परिषद एक्सईएन केपी व्यास, सदर थानाप्रभारी देरावर सिंह, चिकित्सा सहित कई विभागों के अधिकारी और कर्मचारी पहुंचे।




कुछ पहुंचे तो कुछ नहीं पहुंच पाए

सूचना मिलते ही विभिन्न विभाग के अधिकारी व कर्मचारी मौके लिए रवाना हुए, लेकिन जल संसाधन व कृषि विभाग के अधिकारी काफी देर बाद भी मौके पर नहीं पहुंच सके। इस मौसम में हेमावास बांध के लीकेज होने की सूचना को कुछ विभाग के अधिकारियों मॉक ड्रील ही समझा और मौके पर जाने में तत्परता नहीं बरती।




एक-दूसरे से पूछते रहे क्या हुआ

अचानक हेमावास की तरफ वाहनों का रैला जाते देख शहरवासी भी किसी बड़े हादसे का अंदेशा जताते रहे। कई जने एक-दूसरे से पूछते रहे कि क्या घटना हुई है। इतनी गाडिय़ा कहा जा रही है। बाद में जब लोगों को मॉक ड्रील होने की जानकारी मिली तब जाकर जान में जान आई।

0 टिप्पणियाँ:

Post a Comment

 
Top