edvertise

edvertise
barmer



बाडमेर जिला मुख्यालय सहित सभी पंचायत समिति

मुख्यालयों पर आधार नामांकन हेतु लगी मशीनें, निःशुल्क बनेंगें आधार


बाडमेर, 6 जनवरी। भारत के प्रत्येक नागरिकों को प्रारंभिक चरण में पहचान प्रदान करने एवं प्राथमिक तौर पर प्रभावशाली जनहित सेवाऐं उपलब्ध कराने के उद्देश्य से जिला मुख्यालय सहित सभी पंचायत समिति मुख्यालयों पर अटल सेवा केन्द्रों पर आधार नामांकन का कार्य निःशुल्क होगा।

जिला कलक्टर सुधीर शर्मा ने बताया कि आधार संख्या प्रत्येक व्यक्ति की जीवनभर की पहचान हैं। आधार संख्या से बैंकिंग, मोबाईल फोन कनेक्शन और सरकारी एवं गैर सरकारी सेवाओं की सुविधाएं प्राप्त करने में सुविधा होगी। आधार के जरिये किफायती एवं सरलता से ऑनलाइन विधि से सत्यापन किया जा सकेगा। यह सरकारी एवं निजी डाटाबेस में से डुप्लीकेट एवं नकली पहचान को बड़ी संख्या में समाप्त करने में अनूठा एवं ठोस प्रयास होगा। उन्होने बताया कि वर्तमान में पोश मशीनों से राशन, माइक्रो एटीएम मशीनों से भुगतान एवं नकद हस्तांतरण आदि लेन-देन, बैंक में केवाईसी पहचान के तौर पर, स्कूलों के आवेदन, छात्रवृति आदि कई जरूरी कार्यों तथा सुविधाओं के लिए आधार जरूरी दस्तावेज बन गया हैं।

निःशुल्क बनेंगे आधार :

सूचना प्रौद्योगिकी एवं संचार विभाग उप निदशक देवेन्द्र माथुर ने बताया कि बाड़मेर जिले में जिला मुख्यालय सहित सभी पंचायत समितियों के अटल सेवो केन्द्रों में विभाग के द्वारा आधार की मशीन लगा दी गयी हैं, जहॉ कोई भी व्यक्ति अपना आधार कार्ड बना सकता हैं जिसका कोई शुल्क नहीं लिया जायेगा।

सुधार के लिए देना होगा शुल्क :

बायोमेट्रिक और डेमोग्राफिक अपडेट करवाने के 25 रूपये, आधार ढूॅढना, आधार कलर प्रिंट करना ।4 शीट के 20 रूपये तथा ब्लेक एडं व्हाइट प्रिंट के 10 रूपये शुल्क निर्धारित हैं जो आवेदक द्वारा देय होंगे। कोई भी संस्था आधार कैम्प लगवाने के लिए सूचना प्रौद्योगिकी एवं संचार विभाग, बाड़मेर में सर्म्पक करें।

-0-डिजिटल भुगतान के संबंध में प्रशिक्षण सम्पन्न
बाडमेर, 6 जनवरी। ग्रामीण क्षेत्रों में नकद रहित हस्तान्तरण हेतु ग्राम सचिवों, पटवारियों, कनिष्ठ लिपिकों, महिला स्वयं सहायता समूह प्रतिनिधि एवं ग्राम रोजगार सहायकों का एक दिवसीय प्रशिक्षण पंचायत समिति सभागार में शुक्रवार को सम्पन्न हुआ।

इस अवसर पर कार्यक्रम अधिकारी पंचायत समिति बाडमेर नवलाराम चौधरी ने ग्रामीण क्षेत्रों में डिजिटल भुगतान के संबंध विस्तृत जानकारी देते हुए इसके फायदों पर विस्तार पूर्वक जानकारी कराई। उन्होने बताया कि डिजिटल भुगतान के जरिये पानी, बिजली इत्यादि बिलों का भुगतान आसानी से हो सकेगा तथा बिल जमा कराने हेतु लाईन में नहीं खडा रहना पडेगा। साथ ही नकदी की चोरी होने तथा लुटपाट होने का भय भी नहीं रहेगा। उन्होने कैशलेस भुगतान प्रक्रिया को अपनाने तथा इस संबंध में अधिकाधिक लोगों को प्रेरित करने का कहा। उन्होने बताया कि आगामी दिनों में कैशलेस भुगतान ही मुख्य धारा से जुड जाएगा तथा कैशलेस भुगतान से मुद्रा का विनिमय खातों के माध्यम से होगा जिससे टेक्स भुगतान में पारदर्शिता आएगी।

प्रशिक्षण के दौरान आईसीआईसीआई बैंक के मृदुल सक्सेना तथा एचडीएफसी बैंक के अंकुर ने डिजिटल भुगतान संबंधी एप्स पेटीएम, ई वालेट, रूपे के बारे में विस्तार से जानकारी कराई। लेखा सहायक ललित छाजेड एवं एमआईएस मैनेजर विनोद कुमार ने बताया कि इस संबंध में 9 जनवरी को समस्त ग्राम पंचायत मुख्यालयों पर ग्रामीणों में जागरूकता हेतु कार्यशाला का आयोजन किया जाएगा।

-0-जिला कलक्टर शर्मा ने किया ई मित्र केन्द्र का औचक निरीक्षण
बाडमेर, 6 जनवरी। जिला कलक्टर सुधीर शर्मा ने शुक्रवार प्रातः कलेक्ट्रेट स्थित अटल सेवा केन्द्र पहुंच वहां स्थापित ई मित्र एवं आधार नामांकन केन्द्र का औचक निरीक्षण किया तथा संपादित कार्यो की जानकारी ली।

उन्होने ई मित्र संचालक से प्रतिदिन बनने वाले दस्तावेजों तथा आधार कार्डो की जानकारी ली। जिला कलक्टर शर्मा ने बताया कि जिला मुख्यालय पर सूचना केन्द्र में आधार नामांकन मशीन लगाई जाएगी जहां प्रातः 8.00 बजे से सायं 8.00 बजे तक आधार नामांकन का कार्य सम्पादित किया जाएगा ताकि आम जन अपनी सुविधा अनुसार इसका लाभ ले सकेंगे।

-0-

0 टिप्पणियाँ:

Post a Comment

 
Top