edvertise

edvertise
barmer



बाड़मेर हड़ताली कार्यवाही निरस्त करने की मांग को लेकर सौपा ज्ञापन
प्रदेश व्यापी आव्हान पर प्रतिनिधि मंडल जिला कलेक्टर व अधीक्षण अभियंता को दिया ज्ञापन, नववर्ष की दी शुभकामनाएं
बाड़मेर, 02 जनवरी।

राजस्थान विद्युत तकनीकी कर्मचारी एसोसिएशन के प्रदेश व्यापी आव्हान पर जिला शाखा बाड़मेर द्वारा सोमवार को मुख्यमंत्री व उर्जा मंत्री के नाम जिला कलेक्टर एवं अध्यक्ष व प्रबंध निदेशक डिस्काॅम्स जयपुर व जोधपुर डिस्कॉम की प्रबंध निदेशक के नाम अधीक्षण ज्ञापन बाड़मेर को ज्ञापन सौपा गया।

यह जानकारी देते हुए प्रदेश प्रवक्ता रमेश पंवार ने बताया कि सोमवार को अधीक्षण अभियंता बाड़मेर को नव वर्ष की शुभकामनाए देते हुए मुठ मीठा कराया एवं उसके बाद ज्ञापन सौपकर हड़ताली कर्मचारियों के विरूद्ध की गई कार्यवाही को निरस्त करने की मांग की गई। इस पर अधीक्षण अभियंता गोपाराम सिरवी पर कर्मचारियों को नववर्ष की शुभकामनाए देते हुए उक्त ज्ञापन निगम उच्चाधिकारियों को आज ही भेजने के साथ ही कार्यवाही निरस्त करने की अनुशंषा भी करने का आश्वासन दिया। इसके बाद जिला कलेक्टर को मुख्यमंत्री व उर्जा मंत्री राजस्थान सरकार को ज्ञापन दिया।

यह हैं पूरा मामलाः

प्रदेश प्रवक्ता रमेश पंवार ने बताया कि राजस्थान विद्युत तकनीकी कर्मचारी एसोसिएशन के बैनर तले 8 दिसंबर 2015 को संगठन के आव्हान पर ग्रेड पे 2400 की मांग को लेकर टूल डाउन हड़ताल की थी। हड़ताल के दौरान निगम द्वारा दर्ज की गई एफआईआर, कर्मचारियों का निलंबन करने के साथ ही स्थानान्तरण किए गए थे। साथ ही कर्मचारियों की दी गई चार्जशीट का प्रतित्युतर दिया गया था। इस संबंध में मई 2016 को मुख्यमंत्री से मुलाकात की गई थी जिस पर उन्होने निगम प्रशासन को कार्यवाहियां निरस्त करने के निर्देश दिए थे, लेकिन अब तक उक्त कार्यवाही निरस्त नहीं हुई। इसके अभाव में कर्मचारियों को विभिन्न परिलाभ नहीं मिल रहे हैं। साथ ही तीन कर्मचारी अभी तक निलंबित चल रहे हैं। इसलिए उक्त तीनों कर्मचारियों को बहाल करने, हड़ताल के दौरान मुकमदे वापस लेने, की गई अनुशासनात्मक कार्यवाही निरस्त करने की मांग के साथ ही 8 सूत्री मांगे पूरी करने की मांग की। इस अवसर पर राजेन्द्र चैधरी, नरेन्द्रसिंह, धनराजसिंह, गणपत प्रजापत, राजेन्द्र सोनी, गोविन्दसिंह, रूगसिंह, राजेन्द्र गुर्जर, लिखमाराम चैधरी, हरीराम चैधरी, विजय कुमार, हेमंत राठौड़, कन्हैयालाल, मूलसिंह सहित कई कर्मचारी उपस्थित थे।

0 टिप्पणियाँ:

Post a Comment

 
Top