edvertise

edvertise
barmer



बाड़मेर महिलाओं के थाली में भोजन गायब - शम्मा बानो

मोदी सरकार के विरूद्ध महिला कांग्रेस द्वारा थाली बजाओ प्रदर्षन

,09 जनवरी। सोमवार

नोटबंदी भारत के गरीब, किसानों, मजदूरों, दुकानदारों, मध्यमवर्ग, छोटे कारोबारियों एवं महिलाओं पर एक सर्जिकल स्ट्राईक है। नोटबंदी करके 99 प्रतिषत ईमानदार, मेहनतकष भारतीयों पर मुसीबतों का पहाड़ लाद दिया। यह विचार प्रदेष कांग्रेस सचिव शम्मा खान ने अखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी के निर्देषानुसार जिला मुख्यालय पर महिला कांग्रेस द्वारा आयोजित थाली बजाओ प्रदर्षन के कार्यक्रम में व्यक्त किए। उन्होनें कहा कि नोटबंदी से तरक्की का पहिया जाम हो गया है और पूरे देष में आर्थिक अराजकता छा गई है नोटबंदी के कारण महिलाओं द्वारा की गई छोटी-छोटी बचत को बैंकों में जमा करा दिया जिसके कारण उनकी थाली का भोजन गायब हो गया है।

पूर्व मंत्री एवं पीसीसी पर्यवेक्षक अमीन खान ने महिलाओं को संम्बोधित करते हुए कहा कि नोटबंदी के कारण सर्वाधिक प्रभावित महिला वर्ग है। मोदी सरकार ने नोटबंदी करने से पूर्व कोई योजना नहीं बनाई और न ही प्रचलित मुद्रा के बराबर मुद्रा की व्यवस्था की जिसकी बदौलत आम गरीब, किसान, दलित, अल्पसंख्यक एवं महिलाओं को सर्वाधिक तकलीफ का सामना करना पड़ रहा है। महिलाओं को पैसे के लिए कतारों में खड़ा करके उनका अपमान किया जा रहा हैै।

जिला प्रमुख श्रीमती प्रियंका मेघवाल ने कहा कि मोदी सरकार को नोटबंदी से महिलाओं को सबसे ज्यादा चोट पहुंची है मनरेगा और दिहाड़ी में जाने वाली महिलाओं के लिए रोजगार का बड़ा संकट पैदा हो गया है उनके पास रोजी-रोटी एवं जीवनयापन के लिए दर-दर भटकना पड़ रहा है। सरकार केवल पूंजीपतियों एवं अमीर वर्गो का कर्जा माफ कर रही है गरीबों के हित के बारे में कोई निर्णय नहीं किया जा रहा है।

बाड़मेर विधायक मेवाराम जैन ने कहा कि नोटबंदी का फैसला आमजन के हित में नहीं है मोदी सरकार ने जनहितकारी योजनाओं बंद कर दी आमजन को रोजगार पानी बिजली स्वास्थ्य जैसी मूलभूत सुविधाओं से वंचित कर दिया है। नोटबंदी के कारण देष में बड़े स्तर पर घोटाला हुआ है इसकी निष्पक्ष जांच होनी चाहिए।

जिला महिला कांग्रेस अध्यक्ष मृदुरेखा चैधरी ने सभी का धन्यवाद ज्ञापित करते हुए कहा कि नोटबंदी के फैसले से सबसे ज्यादा महिला वर्ग प्रभावित हुआ। इसकी छोटी-छोटी, बचत को बैंकों मंे जमा करवा दिया। मोदी सरकार महिला विरोधी सरकार है। सरकार ने भोजन के अधिकार को छीन लिया है। महिलाओं पर अत्याचारों का ग्राफ दिनों दिन बढ रहा है। महिला अपराध के मामले में राजस्थान का दूसरा स्थान है जबकि यहां मुख्यमंत्री महिला है। नोटबंदी स्वतंत्र भारत के इतिहास का सबसे बड़ा घोटाला साबित हुआ है। कमीषन के बदले कालेधन को सफेद करने के गौरखधंधे में सर्वाधिक भ्रष्टाचार हुआ। कांग्रेस भ्रष्टाचार की निष्पक्ष जांच व नोटबंदी के कारण हुए नुकसान का मुआवजा दिये जाने की मांग करती है।

आज के कार्यक्रम को बाड़मेर प्रधान पुष्पा चैधरी, प्रधान भगवती मेगवाल धनाउ, पूर्व प्रधान पनी देवी चैधरी, उदाराम मेघवाल, ब्लाॅक अध्यक्ष दिनेष कुलदीप, प्रमिला खत्री, चन्द्रा जैन, लक्ष्मी जीनगर, भाखरसिंह ने भी संबोधित किया।

कार्यक्रम में महिलाओं ने कलेक्ट्रेट के सामने थाली बजाकर मोदी सरकार के विरूद्ध जोरदार नारेबाजी करते हुए विरोध प्रदर्षन किया गया। तत्पष्चात जिला कलेक्टर को महिला कांग्रेस जिलाध्यक्ष डाॅ. मृदुरेखा चैधरी के नेतृत्व में ज्ञापन सौंपा गया जिसमें पूर्व मंत्री अमीन खान, बाड़मेर विधायक, मेवाराम जैन, जिला प्रमुख श्रीमती प्रियंका मेगवाल, प्रदेष सचिव शम्मा खान, प्रधान पुष्पा चैधरी ,भगवती मेघवाल गेरों देवी चैधरी, पूर्व प्रधान पनी देवी चैधरी, उप जिला प्रमुख सोहनलाल चैधरी, जिला उपाध्यक्ष यज्ञदत जोषी, किसान कांग्रेस जिलाध्यक्ष रूपाराम सारण, एसटी विभाग जिलाध्यक्ष हनुमान भील, जिला कार्यकारिणी सदस्य हुसैन खान, नरेषदेव सहारण, ब्लाॅक अध्यक्ष बच्चू खान, लाछी देवी पूर्व सरपंच, चम्पा देवी, गायत्री राजपुरोहित, केसी देवी, सोनाराम टांक, सोनी, धापू देवी, गवरी, चूनी, निरमा राजपुरोहित, खूमाराम चैधरी, कार्यालय सचिव ओमप्रकाष चैधरी, दीपक परमार, बलवीर माली, गोरधन डूडी, पीराराम गोदारा सहित सैकड़ों की संख्या में महिला कांग्रेस कार्यकर्तागण उपस्थित रहे। कार्यक्रम का संचालन मुकेष जैन ने किया।

0 टिप्पणियाँ:

Post a Comment

 
Top