edvertise

edvertise
barmer



अजमेर राजकीय आवासों को खाली करने के लिए दिए नोटिस

वसूला जाएगा जुर्माना


अजमेर, 02 जनवरी। अजमेर शहर में राजकीय आवासों में स्थानान्तरण अथवा सेवा निवृति के पश्चात काबिज कार्मिकों एवं अधिकारियों को राजकीय आवास खाली करने के लिए न्यायालय के माध्यम से नोटिस जारी किए गए है।

जिला सम्पदा अधिकारी एवं उपखण्ड मजिस्ट्रेट जय नारायण ने बताया कि राजकीय आवासों पर काबिज व्यक्तियों को आवास खाली करवाने के लिए प्रथम चरण में 10 व्यक्तियों को नोटिस जारी किए गए है। स्थानानन्तरण अथवा सेवा निवृति की निर्धारित अवधि के पश्चात आवास में रहने वालों को अनाधिकृत माना जाएगा तथा इन पर राजस्थान लोक परिसर (अनाधिकृत रहने वालों की बेदखली) अधिनियम 1964 के अन्तर्गत कार्यवाही की जाएगी। सेशन कोर्ट के कनिष्ठ लिपिक चन्दन सिंह, जिला न्यायालय के कनिष्ठ लिपिक संजय गोयल, सार्वजनिक निर्माण विभाग से सेवानिवृत जसवंत सिंह, आयुर्वेद विभाग के ओमप्रकाश शर्मा एवं ईरशाद अली, हरिश चन्द्र माथुर राजस्थान राज्य लोक प्रशासन संस्थान में प्रशासनिक अधिकारी मोडु दान देथा, पुलिस निरीक्षक मौहम्मद अनवर एवं पारसमल पंवार, सिविल कोर्ट केकड़ी में कार्मिक रमेश चन्द चैरसिया तथा सेशन कोर्ट के कर्मचारी किरण सिंह के नाम नोटिस जारी किए गए है।

उन्होंने बताया कि इनके अलावा अन्य कर्मिको एवं अधिकारियों के विरूद्ध भी प्रकरण न्यायालय में दर्ज किए जाएंगे। राजकीय आवास खाली करवाने के संबंध में सार्वजनिक निर्माण विभाग द्वारा की गई कार्यवाही तथा संबंधित से नियमानुसार जुर्माना वसूलने के संबंध में सार्वजनिक निर्माण विभाग नगर खण्ड के अधीशाषी अभियंता को भी नोटिस जारी किए गए है।




तनाव मुक्ति एवं ध्यान की आॅनलाईन कक्षाएं 4 जनवरी तक

केन्द्रीय रैल मंत्राी श्री सुरेश प्रभु ने की सराहना


अजमेर, 02 जनवरी। हार्टफुलनेस पद्धति से आन्तरिक प्रसन्नता प्राप्त की जा सकती है। इसके लिए संस्थान द्वारा किए गए प्रयास सराहनीय है। केन्द्रीय रैल मंत्राी श्री सुरेश प्रभु ने यू टयूब पर जारी वीडियो में यह बात कही।

उन्होंने कहा कि पुराने समय के मुकाबले वर्तमान जीवन बहुत भिन्न है। हमारा शरीर और शारीरिक संरचना में बड़ा बदलाव नही आया है। तकनीकी विकास के कारण मानव ने खुशी के नए-नए तरीके खोजे है। इनसे बाहरी खुशी तो प्राप्त हो रही लेकिन आन्तरिक खुशी कंही खो गई है। इस आन्तरिक प्रसन्नता को प्राप्त करने के लिए अपने अन्दर झांककर आत्म विश्लेषण करना होगा। श्री रामचन्द्र मिशन एवं हार्टफुलनेस संस्थान ध्यान के माध्यम से इस कार्य को आगे बढ़ा रहे है। यह प्रसन्नता का विषय है। ध्यान के माध्यम से उस स्थिति को प्राप्त किया जा सकता है जब मानव के रूप में यात्रा आरम्भ की गई थी। तनाव मुक्त होकर जीवन जीने तथा ध्यान की आॅनलाईन निःशुल्क कक्षाएं 2 से 4 जनवरी तक आयोजित की जा रही है।

हार्टफुलनेस संस्थान के अजमेर केन्द्र समन्वयक भगवान सहाय शर्मा ने बताया कि इस ध्यान पद्धति से ध्यान करने के लिए केन्द्रीय रैल मंत्राी सुरेश प्रभु ने भी आह्वान किया है। संस्थान के मार्गदर्शक एवं अन्तर्राष्ट्रीय प्रशिक्षक श्री कमलेश डी.पटेल (दाजी) द्वारा 3 दिवसीय आॅनलाईन मास्टर क्लासेस का आयोजन किया जा रहा है। इसके माध्यम से समग्र कुशलक्षेम एवं कल्याण के लिए तनाव मुक्ति, ध्यान तथा मन का निर्मलीकरण करने का कार्य किया जा रहा है। इसमें हृदय पर ध्यान करके प्राणाहुति (प्राणस्य प्राणः) का अनुभव प्राप्त किया जा रहा है। मास्टर क्लासेस में बतायी गई शुद्धिकरण की प्रक्रिया को अपनाकर व्यक्ति का मन निर्मल होकर सरल विचारवान बन जाता है। व्यक्ति अपने अन्र्तमन की अनुभतियों का अवलोकन कर सकता है। इस पद्धति को अपनाने से व्यक्ति को आन्तरिक मजबूती प्राप्त होती है। जिससे व्यक्ति जीवन में विवके पूर्ण निर्णय ले सकता है।

उन्होंने बताया कि हार्टफुलनेस अभ्यास मूल रूप से तनावमुक्ति, ध्यान एवं आत्मिक विकास के लिए एक प्रभावकारी तथा व्यवहारिक दृष्टिकोण प्रदान करता है। यह हमारे अन्दर नेकख्याली को पोषित करता है। इससे अन्तर्निहित शक्ति विकसित होती है, जो कि आज के तनाव एवं चिन्ताओं से ग्रस्त विश्व के लिए एक प्राथमिक आवश्यकता है। प्रथम सत्रा सोमवार 2 जनवरी को आयोजित हुआ। इसमें तनावमुक्ति एवं चेतना के विकास के लिए हृदय में प्रकाश के स्त्रोत पर निर्देशित तरीके से ध्यान करना एवं शरीर को आरामदायक स्थिति में रखना सिखाया गया। मंगलवार को द्वितीय सत्रा में दिन की समाप्ति पर मन को तनाव एवं भावनात्मक उलझनों से मुक्त कर जीवन को सरल एवं ऊर्जावान बनाए रखने के लिए सरल तरीके से अभ्यास करवाया जाएगा। इसी प्रकार बुधवार को तृतीय एवं अन्तिम सत्रा में अपने हृदय की आवाज सुनकर अपनी नियति का निर्माण स्वयं करना सिखाया जाएगा।

उन्होंने बताया कि मास्टर क्लासेस सम्पूर्ण विश्व में इन्टरनेट पर एक आॅनलाईन आयोजन है। इसमें 15 वर्ष से अधिक आयु के व्यक्ति भाग ले सकते है। हार्टफुलनेस संस्थान की वैबसाइट एवं फेसबुक पेज पर मास्टर क्लासेस लिंक के माध्यम से जिज्ञासु व्यक्ति अपना पंजीयन करवा सकते है। पंजीयनकर्ता को पंजीयन के पश्चात वैब लिंक उपलब्घ करवाया जाएगा। इसका उपयोग करके जिज्ञासु मास्टर क्लास का उपयोग ले सकता है। इस लिंक को अन्य व्यक्तियों को फाॅरवर्ड करके उन्हें भी आॅनलाईन शामिल करने का मौका दिया जा सकता है। 2 से 4 जनवरी तक आयोजित मास्टर क्लास की अवधि 40 से 60 मिनट की होगी। इसमें कोई भी व्यक्ति अपने सुविधाजनक समय पर कम्प्यूटर अथवा स्मार्ट फोन के माध्यम से भाग ले सकता है। इस संबंध में टोल फ्री नम्बर 18001037726 पर भी सम्पर्क किया जा सकता है।




प्रभुलाल सैनी का यात्रा कार्यक्रम

अजमेर, 02 जनवरी। कृषि, पशुपालन, मत्स्य एवं कृषि विपणन विभाग मंत्राी प्रभुलाल सैनी मंगलवार 3 जनवरी को प्रातः 11 बजे किशनगढ़ विजयलक्ष्मी विहार में सावित्राी बाई फुले जयन्ती एवं प्रतिभा सम्मान समारोह में भाग लेंगे। इसके पश्चात दोपहर 1.30 बजे ब्यावर में तथा 4.30 बजे मनुहार समारोह स्थल ओवर ब्रिज के पास नसीराबाद रोड अजमेर में सावित्राी बाई फुले जयन्ती समारोह में भाग लेंगे।

0 टिप्पणियाँ:

Post a Comment

 
Top