भीनमाल । 
दस का सिक्‍का लेने से किया इंकार तो जाएंगे जेल

--- माणकमल भण्डारी ---

दस रुपए का सिक्का लेने से इंकार करने वाले व्यक्ति को अब जेल की हवा खानी पड़ सकती है। लगातार आ रही शिकायतों के बाद पुलिस ने इसकी तैयारी कर ली है। इसी क्रम में अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक ने स्पष्ट किया है कि अफवाहों के बहकावे में आकर जो दुकानदार या व्यक्ति दस रुपए का सिक्का नहीं लेंगे, उनके खिलाफ भारतीय मुद्रा के अपमान का मामला दर्ज किया जाएगा। इसकी मॉनिटरिंग के लिए जल्द ही पुलिस एक विशेष दल का गठन करेगा। दल में शामिल पुलिस अधिकारी व कर्मचारी सादा कपड़ों में बाजार में घूमकर दुकानों पर नजर रखेंगे। इलाके में इन दिनों अफवाह है कि दस रुपए का सिक्का बंद हुआ है। इस अफवाह के चलते लोग दस रुपए का सिक्का लेने में आनाकानी करते हैं। इससे बाजार में खरीददारी करने पहुंच रहे लोगों को खासी परेशानी होती है। हकीकत जानने के लिए बाजार में कुछ दुकानों पर दस रुपए का सिक्का देकर सामान खरीदने का प्रयास किया तो दुकानदारों ने सिक्का लेने से स्पष्ट इंकार कर दिया। इसके बाद स्टेट बैंक के अधिकारियों से चर्चा की तो तथ्य सामने आया कि दस रुपए का सिक्का बंद होने जैसे कोई आदेश नहीं है। यह केवल अफवाह है जिस कारण लोग सिक्का लेने से परहेज कर रहे हैं। यह पूरा मामला एएसपी के समक्ष रखा गया तो उन्होंने ऐसे दुकानदारों के खिलाफ अभियान चलाने की हामी भरी।




दुकानदार नहीं लेते




मैं सामान खरीदने बाजार गई तब पता चला कि दस रुपए का सिक्का कोई ले ही नहीं रहा है। मैंने सामान खरीदते समय दो-तीन दुकानों पर दस रुपए का सिक्का दिया, लेकिन सभी ने मना कर दिया। मोहल्ले के दुकानदार भी बच्चों से यह सिक्का नहीं ले रहे हैं।




कमला , गृहिणी




ग्राहक खुद ही करते हैं इनकार




हम ग्राहकों से दस रुपए का सिक्का ले लेते हैं, लेकिन जब हम सेल्समैन या ग्राहकों को ही दस रुपए का सिक्का वापस करते हैं तो वह इनकार कर देते हैं। हमारे यहां कई सिक्के एकत्रित हुए हैं। इन्हें कोई नहीं ले रहा, इसलिए मजबूरी में हमें भी दस रुपए का सिक्का लेने से परहेज करना पड़ रहा है।




धर्मेन्द्र , दुकानदार,




लेन-देन से इनकार करने पर होगी कार्रवाई




जो दुकानदार या ग्राहक दस रुपए का सिक्का लेने से इंकार करेंगे। उनके खिलाफ भारतीय मुद्रा का अपमान किए जाने का मामला दर्ज किया जाएगा। इसके लिए जल्द ही अभियान चलाया जाएगा।




अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक,




अफवाह के बहकावे में आ रहे हैं लोग




दस रुपए का सिक्का बंद होने जैसी कोई बात नहीं है। यह सिक्का चालू है। लोग बेवजह अफवाहों के बहकावे में आकर दस रुपए का सिक्का लेने से इनकार कर रहे हैं। लोगों को ऐसा नहीं करना चाहिए। क्योंकि ऐसा करने से उन पर कार्रवाई भी हो सकती है।




शाखा प्रबंधक, स्टेट बैंक ऑफ इण्डिया

0 टिप्पणियाँ:

Post a Comment

 
Top