edvertise

edvertise
barmer

नागौर कीटनाशक सेवन से प्रेमी की मौत, प्रेमिका की हालत गंभीर

कीटनाशक सेवन से प्रेमी की मौत, प्रेमिका की हालत गंभीर
नागौर पुलिस के अनुसार युवक-युवती के परिजनों एवं मौके के हालात को देखने के बाद जो स्थिति सामने आई है, उसके अनुसार लाडनूं के धुड़ीला गांव निवासी मंजू एवं पुरखाराम एक-दूसरे से प्रेम करते थे, लेकिन रिश्ते में भाई-बहन होने के कारण परिजनों के सामने जाने की हिम्मत नहीं जुटा पाए। करीब बारह दिन साथ रहने के बाद जब उन्हें कोई रास्ता नजर नहीं आया तो दोनों ने जान देने की ठानी । बुधवार रात को दोनों ने छोटी खाटू स्थिति बीएड कॉलेज के पास पहुंचकर आत्महत्या करने के लिए कीटनाशक का सेवन कर लिया। कीटनाशक सेवन से पुरखाराम अचेत हो गया, जबकि मंजू ने होश में थी। उसने मोबाइल से परिजनों को सूचना दी। सूचना पाकर परिजन लाडनूं थाने पहुंचे तथा पूरी जानकारी दी।

चाचा की लड़की से किया प्रेम

खुनखुना थानाधिकारी हरलाल गुर्जर ने बताया कि मंजू मृतक पुरखाराम के चाचा की लड़की है। मंजू गत 3 दिसम्बर से लापता थी, जिसको लेकर परिजनों ने लाडनूं थाने में उसकी गुमशुदगी भी दर्ज करवाई। बुधवार रात को लाडनूं थाना पुलिस ने खुनखुना थाने में सूचना दी कि छोटी खाटू के पास युवक-युवती ने कीटनाशक का सेवन कर लिया है। सूचना मिलने पर वे कांस्टेबल के साथ मौके पर पहुंचे तथा युवक-युवती को अचेत अवस्था में स्वास्थ्य केन्द्र पहुंचाया, जहां चिकित्सकों ने पुरखाराम को मृत घोषित कर दिया और युवती को डीडवाना रेफर किया।

शाम को पहुंचे युवक के परिजन

गुरुवार को लाडनूं थानाधिकारी नागरमल प्रजापत मय जाब्ते के खाटू पहुंचे तथा पुरखाराम के परिजनों को सूचना देकर मौके पर बुलाया, लेकिन वे दिनभर नहीं आए। गुरुवार शाम करीब छह बजे पुरखाराम के पिता श्रवणराम नायक खाटू पहुंचे। उन्होंने बताया कि पुरखाराम महाराष्ट्र में ट्रेक्टर चलाने का काम करता था, मंजू उसके पास कब पहुंची, इस संबंध में उन्हें कोई जानकारी नहीं है।

0 टिप्पणियाँ:

Post a Comment

 
Top