BNT

BNT



बाड़मेर,पंचायतीराज उप चुनाव आज
बाड़मेर, 28 नवंबर। बाड़मेर जिले मंे नगरीय निकाय, पंचायतीराज संस्थाआंे के रिक्त पदांे के लिए मंगलवार को उप चुनाव होगा। इस दौरान संबंधित निर्वाचन क्षेत्रांे मंे आने वाले समस्त विभागांे,संस्थानांे एवं उपक्रमांे मंे सार्वजनिक अवकाश रहेगा।

उप जिला निर्वाचन अधिकारी ओ.पी.बिश्नोई ने बताया कि बाड़मेर नगर परिषद के वार्ड 16, रानीदेशीपुरा ग्राम पंचायत के सरपंच, वार्डपंच संख्या 7 के लिए खेजडि़लायाली एवं सरवड़ी चारणान मंे मंगलवार को उप चुनाव होगा। इसी तरह धनाउ एवं जैसिंधर स्टेशन ग्राम पंचायत मंे उप सरपंच के निर्वाचन के लिए 30 नवंबर को ग्राम पंचायत की बैठक होगी। उन्हांेने बताया कि नगर परिषद के वार्ड 16 मंे सामुदायिक सभा भवन हनुमानजी का मंदिर,शास्त्रीनगर बाड़मेर मंे उप चुनाव के लिए मतदान होगा।

उप चुनाव क्षेत्रांे मंे आज सूखा दिवसः पंचायत उप चुनाव के निर्वाचन क्षेत्रांे एवं उनसे लगते हुए 5 किमी परिधीय क्षेत्रांे मंे 29 नवंबर को मतगणना दिवस की समाप्ति तक सूखा दिवस घोषित किया गया है। इस दौरान उक्त चुनाव क्षेत्र मंे किसी भी प्रकार का मदिरा का विक्रय किया जाना, दिया जाना अथवा वितरित किया जाना पूर्णतःनिषेद्व होगा।

अष्टम् वार्षिक परीक्षा आवेदन की अंतिम तिथि कल
बाडमेर, 28 नवंबर। अष्टम् वार्षिक परीक्षा 2017 अर्थात प्रारम्भिक शिक्षा पूर्णता प्रमाण पत्र परीक्षा 2017 के आवेदन पत्र भरने की अन्तिम तिथि 30 नवंबर है।

डाईट के प्रधानाचार्य खेताराम चौधरी ने बताया कि आवेदन पत्रांे को 3 दिसंबर तक आवश्यक रूप से संबंधित संग्रहण केन्द्र पर जमा कराया जाना है। संग्रहण केन्द्र बाड़मेर, बालोतरा, बायतू, चौहटन, धोरीमन्ना,शिव, सिणधरी,सिवाना, गडरारोड़,धनाउ, सेड़वा, गुड़ामालानी, समदड़ी,कल्याणपुर, पाटोदी,गिड़ा एवं रामसर मुख्यालय के उच्च माध्यमिक विद्यालयांे को निर्धारित किया गया है। संग्रहण केन्द्राधीक्षक समस्त आवेदन पत्र मय सूची 8 दिसंबर तक आवश्यक रूप से डाइट बाड़मेर को प्रेषित करें।

सिक्युरिटी कोर्स संबंधित चयन प्रक्रिया 1 दिसंबर से
बाड़मेर, 28 नवंबर। भारतीय सुरक्षा दस्ता परिषद, नई दिल्ली एवं एस.आई.एस. तथा पसरा एक्ट 2005 के तहत ग्रामीण एवं शहरी शिक्षित बेरोजगार नवयुवकों को सिक्यूरिटी गार्ड एवं सिक्यूरिटी सुपर वाईजर के पद पर चयन के लिए भर्ती परीक्षा कार्यक्रम बाड़मेर जिले मंे तहसील स्तर पर आयोजित किए जाएंगे।

भर्ती अधिकारी महिपाल सिंह ने बताया कि निर्धारित कार्यक्रम के अनुसार 01 दिसंबर को राउमावि पचपदरा, 2 को राउमावि चौहटन, 3 को राउमावि शिव, 4 को राउमावि स्टेशन रोड़ बाड़मेर, 5 को राउमावि बायतू एवं 6 को राउमावि धोरीमन्ना मंे भर्ती चयन परीक्षा आयोजित होगी। इसका समय प्रातः 10 से सांय 4 बजे तक रहेगा। उन्हांेने बताया कि भारतीय सुरक्षा दस्ता परिषद नई दिल्ली द्वारा राजस्थान के 235 युवकों का चयन किया जाना है। आवेदन शिक्षित एवं शारीरिक फिट आयु 18 से 35 वर्ष, 10वीं पास या फेल, लम्बाई 170, एसटी, एससी के लिए 168 सेमी और वजन 55 किलो का मापदण्ड पूरा करता हो। सफल अभ्यर्थियों का रजिस्ट्रेशन भर्ती स्थल पर किया जाएगा। प्रशिक्षण के बाद 65 वर्ष तक स्थाई नौकरी दी जाएगी। इनको भारत सरकार के ऐतिहासिक स्मारकों जैसे दिल्ली लाल किला, कुतुब मीनार, हेमाई टोम का मकबरा, आगरा का लाल किला, फतेहपुर सीकर, बुलन्द गेट, जैसलमेर का किला, औद्योगिक क्षेत्र एवं मल्टीनेशनल क्षेत्र में नौकरी दी जाएगी।

स्वच्छ भारत मिशन मंे जिला संदर्भ समूहांे की भूमिका महत्वपूर्णःनेहरा
बाड़मेर, 28 नवंबर। बाड़मेर जिले को ओडीएफ घोषित करवाने एवं ग्रामीण समुदाय को प्रेरित करने मंे जिला संदर्भ समूह महत्वपूर्ण भूमिका निभाएं। ग्राम पंचायत स्तर पर लोगांे को संगठित एवं जागरूक करके खुले मंे शौच से मुक्त करने का प्रयास करें। जिला परिषद के मुख्य कार्यकारी अधिकारी एम.एल.नेहरा ने सोमवार को जिला मुख्यालय पर जाट चेरिटेबल ट्रस्ट मंे स्वच्छ भारत मिशन के तहत जिला संदर्भ समूह के तीन दिवसीय आवासीय प्रशिक्षण शिविर के शुभारंभ के अवसर पर यह बात कही।

इस अवसर पर मुख्य कार्यकारी अधिकारी एम.एल.नेहरा ने कहा कि बाड़मेर जिला तेजी से ओडीएफ घोषित होने की दिशा मंे अग्रसर है। उन्हांेने कहा कि इस प्रशिक्षण मंे शामिल संभागी प्रशिक्षित होकर बाड़मेर जिले को खुले मंे शौच से मुक्त कराने के लिए समन्वित प्रयास करें। उन्हांेने कहा कि समस्त जिला संदर्भ समूह आमजन को इस तरह से प्रेरित किया जाए कि अपने घर मंे शौचालय निर्माण करवाने के साथ उसका उपयोग करें। उन्हांेने कहा कि सीएलटीएस विधि के जरिए आमजन के व्यवहार मंे परिवर्तन लाने का प्रयास करें, ताकि इस अभियान मंे अधिकाधिक लोगांे की भागीदारी के साथ संबंधित ग्राम पंचायत खुले मंे शौच से मुक्त हो सके। इस अवसर पर स्वच्छ भारत मिशन के जिला परियोजना समन्वयक पुष्पेन्द्रसिंह सोढ़ा ने कहा कि राज्य सरकार के लक्ष्य के अनुरूप बाड़मेर जिले को मार्च 2018 तक खुले मंे शौच से मुक्त कराना है। उन्हांेने कहा कि स्वच्छ भारत मिशन के तहत प्रत्येक घर मंे शौचालय निर्माण के कार्य को चुनौती के रूप मंे लेना होगा। इसके लिए ग्राम पंचायत स्तर पर जन प्रतिनिधियांे, अधिकारियांे, कर्मचारियांे एवं गणमान्य नागरिकांे का सहयोग लिया जाए। उन्हांेने जिले मंे स्वच्छ भारत मिशन के तहत चल रही गतिविधियांे की जानकारी दी। इस दौरान डब्ल्यूएसपी टीम के चेतन अत्रे ने प्रशिक्षक के रूप मंे सेवाएं देते हुए स्वच्छ भारत मिशन एवं आमजन की भागीदारी सुनिश्चित करने की कार्य योजना के बारे मंे विस्तार से जानकारी दी। उन्हांेने कहा कि जिला संदर्भ समूहांे के माध्यम से खुले मंे शौच जाने की आदत से मुक्त कराने के साथ ग्रामीणांे के व्यवहार परिवर्तन की दिशा कार्य किया जाएगा। इसके लिए गांव-गांव एवं ढाणी-ढाणी मंे पहुंचने के साथ निगरानी दलांे का गठन भी किया जाएगा।

इस दौरान डब्ल्यूएसपी के सलाहकार रमेश अग्रवाल ने समुदाय संचालित विधि के जरिए खुले मंे शौच से मुक्ति पर प्रकाश डालते हुए विस्तार से संभागियांे को स्वच्छ भारत मिशन के विविध पहलूआंे से अवगत कराया। जल एवं स्वच्छता कार्यक्रम सलाहकार चेतन अत्रे ने स्वच्छता की उपयोगिता एवं आवश्यकता के बारे मंे जानकारी दी। डब्ल्यूएसपी के सलाहकार ऋषि कुमार ने स्वच्छता के इतिहास एवं प्रगति पर प्रकाश डाला। प्रशिक्षण मंे ब्लाक समन्वयक गोविन्द्रसिंह, दीपसिंह, कपिल दवे, एमआईएस मैनेजर घमंडाराम, प्रहलाद कुमार ने सेवाएं दी।

0 टिप्पणियाँ:

Post a Comment

Note: Only a member of this blog may post a comment.

 
Top