BNT

BNT

*स्वामी प्रतापपुरी ख़ुद को भावी मुख्यमंत्री प्रमोट करने में जुटे*

*रेगिस्तान के मखमली धोरों से इस बार चुनावी बिसात साम्प्रदायिक सद्भाव की जगह कट्टरता की बिछाई है भाजपा ने।भाजपा ने पोकरण विधानसभा क्षेत्र से बाडमेर तारातरा मठ के गादीपति स्वामी प्रतापपुरी को मैदान में उतारा।।जब मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे ने पोकरण से प्रतापपुरी का नाम चलाया तो उन्होंने काफी ना नुकर किया।।इसी बीच कर्नल सोनाराम चौधरी ने प्रतापपुरी को शिव विधानसभा से उम्मीदवार बनाने की मांग रख दी।।गजेंद्र सिंह शेखवत और अमित शाह ने प्रतापपुरी को बुलावा भेजा।।उनसे चर्चा की गई।।सूत्रों की माने तो प्रतापपुरी ने अमित शाह से लोकसभा क्षेत्र बाडमेर जैसलमेर से संसदीय चुनाव में टिकट की मांग की।अमित शाह ने उनकी मांग को मानते हुए पहले पोकरण बिधानसभा चुनाव लड़ने को कहा तब वो राजी हुए।प्रतापपुरी ने पोकरण में नामांकन दाखिल करने के बाद जनता के बीच जाने और उनके अनुयाइयों द्वारा कभी स्वामी विवेकानन्द तो कभी योगी आदित्य नाथ से तुलना में लग गए। प्रतापपुरी ने अपना जीवन बाडमेर में गुजरा है सेवा करनी थी तो बाडमेर से करते ।वहां से चुनाव लड़ते।।यह सवाल क्षेत्र की जनता भी पूछ रही।।खैर समर्थकों की हौसला अफजाई से प्रतापपुरी जी सूबे के मुख्यमंत्री की तरह जनता से पेश आने लगे ।उनकी आई टी सेल उनके सोसल मीडिया पेज पर धड़ले से प्रतापपुरी को अगले मुख्यमंत्री के रूप में पेश कर रहे है।।लगातार पोस्ट के जरिये प्रतापपुरी योगी की तरह मुख्यमंत्री बनने की लालसा जगा बेठे है।कई मीटिंगों में खुद प्रतापपुरी कह चुके है कि वो मुख्यमंत्री बने या बिधायक आपके बीच रहूंगा।यह बात वसुंधरा राजे को पता चल गई तो प्रतापपुरी की राजनीति का क्या होगा यह वो खुद शायद नही जानते।।गजेंद्र सिंह शेखवत पोकरण से ही दावेदार थे मुख्यमंत्री के चक्कर मे पत्ता कट गत्य।।

0 टिप्पणियाँ:

Post a Comment

Note: Only a member of this blog may post a comment.

 
Top