BNT

BNT

बाड़मेर की अजरक व कशीदे के जयुपर और दिल्ली में छाये रंग
‘द बाड़मेर स्टोरी फैशन शो के रैम्प पर गाॅवों का हुनर ’

बाड़मेर की विश्व प्रसिद्ध अजरक प्रिन्ट के साथ ही यहां कि कलात्मक कशीदाकारी जयपुर और नई दिल्ली में एक साथ शुक्रवार की शाम को ‘द बाड़मेर स्टोरी फैशन शो के रैम्प पर बेहद खुबसुरत अंदाज मंे प्रदर्शित हुई।
ग्रामीण विकास एवं चेतना संस्थान बाड़मेर की अध्यक्ष रूमादेवी के द्वारा नई दिल्ली में व विक्रमसिंह द्वारा जयपुर में अजरक, एप्लिक और सुफवर्क को साड़ी, दुप्पटे, कुरतो सहित वेस्टर्न ड्रेस को उत्कृष्ट कलेक्शन रैम्प पर उतारा गया।
संस्थान अध्यक्ष रूमादेवी ने बताया कि पाकिस्तान से विस्थापित होकर आये परिवारों कि महिला दस्तकारों के हूनर कि खुब सराहना हुयी, इस बाड़मेर कलेक्शन को जिले के गाॅवों से मास्टर क्राफ्टमैन गणेश बोसिया, भोमाराम, लहरोंदेवी, छगनीदेवी व मोहिनीदेवी रैम्प पर सुपर माॅडल मिसेज इंडिया 2018 नित्या तंवर, मिस्टर प्लानेट 2017 दुश्यत कटेवा सहित 30 मेल व फिमेल माडल्स ने रैम्प पर मशहूर कोरियोग्राफर अभिमन्यु सिंह तोमर के निर्देश से उतारा।
इसी तरह जयपुर के डिग्गी पैलेस के आॅपन स्टेज फैशन शो में संस्थान सचिव विक्रमसिंह के नेतृत्व में बाड़मेर के आर्टिजन दमाराम, गौरव, पेम्पोंदेवी, आसुदेवी ने सदियों पुरानी रंगाई-छपाई की तकनीक अजरक प्रिन्ट में फैशन के बदलते अंदाज को अपने कलेक्टशन में पेश किया। यह फैशन शो समावेशी विकास पर केन्द्रित था जिसमें ग्रामीण कशीदा उत्पादों एवम परम्परागत प्रिन्ट में विशेष ध्यान दिया गया।
सचिव विक्रमसिंह ने बताया कि तेजी से वैश्वीकृत हो रही दुनिया में पारम्पारिक डिजायनों और तकनीकों की विशेषता को संरक्षित रखने के लिये कड़ी मेहनत कर रहे थार के रेगिस्तानी हुनरमंद कारीगरों की बेजोड़ कढ़ाई-बुनाई व छपाई को प्रोत्साहित कर गाॅवों में स्थानीय स्तर पर रोजगार के अवसरों को बढाने के लिये ग्रामीण संस्थान की यह पहल नई पीढ़ी को आकर्षित कर रही हैं।
अध्यक्ष रूमादेवी ने निरक्षर व अल्पशिक्षित बहनों द्वारा फैशन शो में रैम्प पर केटवाॅक के लिये उतरने पर हौसला अफजाई की तथा उम्मीद जताई कि महिलाऐं स्वंय अपने हुनर के बल पर आगे बढेगी और अपना नाम कमाने में कामयाब होगी। 

0 टिप्पणियाँ:

Post a Comment

Note: Only a member of this blog may post a comment.

 
Top