BNT

BNT



नई दिल्ली. आईपीएल में फिक्सिंग को लेकर एक चैनल के स्टिंग ऑपरेशन के बाद बीसीसीआई ने अब बेहद कड़ा फैसला लिया है। स्टिंग ऑपरेशन में दिखे खिलाड़ियों पर बीसीसीसीआई ने आजीवन से लेकर एक साल तक का प्रतिबंध लगाया है।
 
समाचार चैनल इंडिया टीवी ने स्टिंग ऑपरेशन कर पांच खिलाड़ियों को आईपीएल सीजन 5 में स्पॉट फिक्सिंग की बात करते हुए दिखाया था। बीसीसीआई ने फिक्सिंग की जांच की घोषणा की थी।


शनिवार को बीसीसीआई ने आोरपी खिलाड़ियों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई करते हुए टीपी सुधींद्र पर आजीवन प्रतिबंध लगा दिया। वहीं शलभ श्रीवास्तव पर पांच साल औरमोहनीश मिश्रा, अभिनव बाली और अमित यादव पर एक-एक साल का प्रतिबंध लगाया गया है।


पूर्व क्रिकेटर और युवराज सिंह के पिता योगराज सिंह का कहना है कि पांचों खिलाड़ियों पर बीसीसीआई को आजीवन प्रतिबंध लगाना चाहिए था। लेकिन ऐसा लगता नहीं है कि इस सजा से बाकी खिलाड़ी सबक लेंगे। अजहरउद्दीन पर प्रतिबंध लगा था लेकिन क्या फिक्सिंग रुक गई। यह सजा नाकाफी है। बोर्ड को और भी कड़ी सजा देनी चाहिए थी और कानूनी तौर पर भी इन खिलाड़ियों को सजा मिलनी चाहिए।

0 टिप्पणियाँ:

Post a Comment

Note: Only a member of this blog may post a comment.

 
Top