BNT

BNT

जयपुर। राजधानी जयपुर के पॉश इलाके मानसरोवर से सोमवार को पुलिस ने वेश्यावृत्ति के अड्डे का पर्दाफाश किया। पुलिस ने वेश्यावृत्ति के अड्डे से तीन युवतियों समेत नौ को पकड़ा है। इस गोरखधंधे का मुख्य आरोपी एक 75 वर्षीय बुजुर्ग है। एसीपी मानसरोवर सरिता शत्रुघ्न ने बताया कि वेश्यावृत्ति के अड्डे के बारे में रविवार को सूचना मिली थी।पॉश इलाके में बुजुर्ग के सेक्स अड्डे का भंडाफोड़

सूचना के अनुसार मानसरोवर स्थित स्वर्ण पथ के पास एक मकान में वेश्यावृत्ति कराई जा रही थी। सूचना की तस्दीक के लिए एक कांस्टेबल को बोगस ग्राहक बनाकर भेजा गया था। एक हजार रूपए में सौदा तय होने के बाद एसीपी ने मय जाप्ते दबिश दी। एसीपी ने बताया कि आरोपी विश्वनाथ ने घर पर ही वेश्यावृत्ति का धंधा चला रखा था।

मौके से अग्रवाल फार्म निवासी रेखा (28), कोलकाता निवासी पिया (20) और हीरापुरा बाइपास निवासी सुमन (28) को गिरफ्तार किया गया है। जबकि ग्राहक बजरंगलाल सोनी , कमलेश जांगिड़ , भरत कुमार, श्याम अग्रवाल और जहुर मोहम्मद को भी गिरफ्तार किया है। एसीपी ने बताया कि गिरफ्तार दलाल विश्वनाथ की उम्र 75 साल है और वह पिछले लंबे समय से इसी कार्य में लिप्त है।

आरोपी बुजुर्ग वेश्यावृत्ति के लिए लड़कियां बाहरी राज्यों से मंगाता था। ग्राहक से एक हजार रूपए में सौदा तय करता था। इसके बाद आधे रूपये खुद रख लेता जबकि आधे युवती को दे देता। पुलिस इस मामले में आरोपी से पूछताछ कर रही है।

0 टिप्पणियाँ:

Post a Comment

 
Top