BNT

BNT



शहीद मेजर शैतान सिंह, परमवीर चक्र विजेता की

51 वीं पुण्य तिथि पर भावभीनी श्रृद्धांजलि समारोह



जोधपुर शहर ने अपने बहादुर वीर सपूतों में शूरवीर सुपुत्र शहीद मेजर शैतान सिंह परमवीर चक्र को उनकी 51वीं पुण्य तिथि पर आज याद किया। इस वीर सपूत के प्राणों के उत्क्रष्ट लिदान को जोधपुर मिलिट्री सेना संगठन ने जोधपुर शहर के हदय स्थल पावटा सर्किल पर पुष्प हार चढ़ाकर श्रद्धांजलि अर्पित की।


मेजर शैतान सिंह 13 कुमाउ रेजिमेन्ट की एक राइफल कम्पनी की कमान कर रहे थे एवं 1962 की सर्दियों में जम्मू कश्मीर के चुशुल सेक्टर में अगि्रम चौकी पर मोर्चा संभाले हुए थे। इस बहादुर अफसर ने कड़ाके की सर्दी में अदभुत नेतृत्व क्षमता का प्रदर्शन करते हुए, इस चौकी पर हुए चीनी हमले के विरूद्ध अपनी कम्पनी को प्रोत्साहित किया और उनके आक्रमण को विफल कर दिया। बाद में सारी कम्पनी फायर टेंच में मृत पाये गये, अधिकतर शीत के कारण बर्फ में जमे हुए, अपनी हथियारों को हाथ में थामे हुए मजबूत इरादों और बहादुरी को दर्शाते हुए शहीद हो चुके थे।



इस अवसर पर सभी सम्मानित नागरिकों, जिला सैनिक कल्याण अधिकारी जोधपुर, शहीद मेजर शैतान सिंह के परिवारजनों तथा मेजर जनरल आर्इ एस घुमन जीओसी 12 रैपिड, एयर कमोडोर बी साजु, वायु अफसर कमाणिडंग, वायुसेना स्टेशन जोधपुर ने अपनी श्रद्धांजलि अर्पित की। इस मौके पर सेना द्वारा बिगुल ध्वनि के साथ सम्मान गार्ड से अंतिम सलामी दी गयी। इस अवसर पर बड़ी संख्या में कार्यरत व सेवानिवृत सैन्य कर्मी तथा कर्इ नागरिक संस्थाऐं उपसिथत थीं। बड़ी संख्या में शहीद मेजर शैतान सिंह परमवीर चक्र के अध्ययरत विधालय के छात्र-छात्राऐं भी मौजूद थे। शहीद मेजर शैतान सिंह के नजदीकी रिश्तेदार ने भी उन्हें श्रद्धांजलि अर्पित की।

0 टिप्पणियाँ:

Post a Comment

 
Top