बाड़मेर पीडि़त पक्ष को त्वरित न्याय मिलेंःमाथुर

- पचपदरा मंे न्यायिक मजिस्ट्रेट न्यायालय के भवन का लोकार्पण।

बाडमेर, 17 मार्च। राजस्थान उच्च न्यायालय के न्यायाधीश विनीत कुमार माथुर ने रविवार को पचपदरा मंे सिविल जज एवं न्यायिक मजिस्टेªट न्यायालय भवन लोकार्पण किया। इस दौरान जिला एवं सेशन न्यायाधीश मदन गोपाल व्यास, जिला कलक्टर शिवप्रसाद मदन नकाते, पुलिस अधीक्षक डा.गगनदीप सिंगला समेत विभिन्न न्यायिक अधिकारी एवं अधिवक्ता उपस्थित रहे।

इस अवसर पर राजस्थान उच्च न्यायालय के न्यायाधीश विनीत कुमार माथुर ने कहा कि पीडि़त पक्ष को समय पर न्याय मिले, इसके लिए न्यायिक अधिकारी एवं अधिवक्ता सहयोग करें। उन्हांेने न्यायिक व्यवस्था को सरल बनाने की जरूरत जताई, परिवादी को त्वरित न्याय मिल सके। उन्हांेने नवनिर्मित भवन से न्यायिक कार्य संपादित करने मंे सहुलियत होने की उम्मीद जताई। न्यायाधीश माथुर ने बार एवं बेंच के बीच सौहार्दपूर्ण वातावरण बनाए रखने एवं वादकारियों के हितों का ख्याल रखने की बात कही। कार्यक्रम की शुरूआत मंे छात्राआंे ने न्यायाधिपति विनित कुमार माथुर का तिलक लगाकर स्वागत किया। इसके उपरांत उन्हांेने नवनिर्मित भवन का फीता काटकर एवं पटिटका का अनावरण कर लोकार्पण किया। उन्हांेने भवन का अवलोकन करने के साथ पूजा-अर्चना की। इस दौरान जिला एवं सेशन न्यायाधीश मदन गोपाल ने न्यायालय परिसर की रूपरेखा प्रस्तुत की। इसके बाद कोर्ट के सभी कक्षों का निरीक्षण किया गया। शुरूआत मंे पुलिस की टूकड़ी ने गार्ड आफ आनर दिया। समारोह के दौरान मुख्य न्यायिक मजिस्ट्रेट वमीतासिंह, विभिन्न न्यायिक अधिकारी, उपखंड अधिकारी भागीरथ चौधरी ऐसोशिएशन के अध्यक्ष लूणसिंह खारवाल समेत विभिन्न प्रशासनिक अधिकारी एवं गणमान्य नागरिक उपस्थित रहे। कार्यक्रम का संचालन डॉ. जसवंतसिंह मायला ने किया।




0 टिप्पणियाँ:

Post a Comment

 
Top