जिले के समस्त आहरण-वितरण अधिकारीगण 23 मार्च तक संबंधित पारित
योग्य विपत्र कौषालय में अवष्यमेव प्रस्तुत करें



जैसलमेर, 18 मार्च। कोषाधिकारी जैसलमेर सुषील कुमार भाटिया ने जिले के समस्त आहरण एवं वितरण अधिकारियों से एक प्रेसनोट जारी कर आग्रह किया है कि वे चालु वित्तीय वर्ष की समाप्ति को देखते हुए माह मार्च, 2018 के अंतिम तीन दिवसों में राजकीय अवकाष होने के कारण वित वर्ष 2017-2018 से संबंधित पारित योग्य विपत्र कोषालय और उप कौषालय में 23 मार्च, 2018 तक आवष्यक रुप से प्रस्तुत करना सुनिष्चित करावें ताकि सीमित कार्यावधि में उनके वित्तीय लेन-देन पूर्ण करने में कोई कठिनाई नहीं हो सकें। उल्लेखनीयष् है कि इस कार्य को सभी विभागीय अधिकारी अत्यंत गंभीरता से लेते हुए समय रहते कार्यवाही करें।

-----000----



जैसलमेर,  राजस्थान स्थापना दिवस पर परम्परागत खेलों के

आगाज में कबड्डी रहा आकर्षण का केन्द्र

जैसलमेर ,18 मार्च।राजस्थान सरकार के युवा मामले एवं खेल विभाग एवं राजस्थान राज्य क्रीड़ा परिषद व जिला प्रषासन के संयुक्त तत्वाधान में पर्यटक विभाग, जिला खेलकूद प्रषिक्षण केन्द्र व नगर परिषद के सहयोग से आयोजित होनें वाले परम्परागत खेलो को जिला कलक्टर कैलाषचन्द मीणा के निर्देषानुसार राजस्थान स्थापना दिवस के उपलक्ष में आज 18 मार्च रविवार को शहीद पूनम सिंह स्टेडियम में पुरूष वर्ग के सतोलिया, रस्सा-कस्सी एवं कबड्डी की परम्परागत खेल प्रतियोगिता आयोजित हुई, जिसमें परम्परागत खेलों की आयोजन समिति के अध्यक्ष कन्हैयालाल स्वामी अतिरिक्त जिला कलक्टर के मार्गदर्षन में जिले के युवा खिलाड़ियों नें खेल प्रतियोगिताओं में लगभग 200 खिलाड़ियों नें बढचढ कर भाग लिया। प्रतियोगिता के दौरान षुभारम्भ में जैसलमेर नगर के खेल के क्षेत्र में सबसे अधिक उम्र दराज खिलाड़ी परमानन्द गोयल नें सतोलिया पर गेंद फेंक कर शुभारम्भ किया। अतिथि के रूप में झब्बर सिंह आयुक्त नगरपरिषद, आषाराम सिन्धी अध्यक्ष सिन्धु षिक्षा समिति जैसलमेर चुन्नीलाल माली योग प्रषिक्षक, नत्थु सिंह चैहान उपस्थित थे। अतिथियों नें लुप्त हो रहे परम्परागत खेलो को पुनः जीवित करनें के लिये राज्य सरकार द्वारा किये जा रहे प्रयासों की सराहना की।

पुरूष वर्ग में सतोलिया में 9 टीमों नें भाग लिया जिसमें धम क्लब विजेता, राजपूताना क्लब उप-विजेता एवं आईनाथ क्लब तृत्तीय स्थान पर रही। कबड्डी प्रतियोगिता में जिला खेलकूद प्रषिक्षण केन्द्र नें संघर्शपूर्ण सेमीफाईनल मुकाबले में राजपूताना क्लब को 34-21 के अन्तर से पराजित कर फाईनल में प्रवेष किया एवं पूनम क्लब नें डाईट को 25-12 के अन्तर से पराजित किया एवं फाईनल मुकाबले में जिला खेल केन्द्र के विकास व आकाष नें षानदार खेल का प्रदर्षन करते हुए पूनम क्लब को 20-16 के अन्तर से पराजित कर खिताब पर कब्जा किया। रस्सा-कस्सी के जोर अजमाईस मुकाबले में राजपूताना क्लब के रिडमल सिंह, लोकेन्द्र सिंह, समुन्द्र सिंह, भरतपाल सिंह एवं सरदार सिंह नें अपने दमखम से एक तरफा मुकाबले में आईनाथ क्लब को 2-0 से पराजित कर खिताब अपनें नाम किया।

जिला खेल अधिकारी लक्ष्मण सिंह तंवर नें बताया कि इस प्रतियोगिता में राकेष बिष्नोई बास्केटबाॅल प्रषिक्षक खेल केन्द्र नें प्रतियोगिता के प्रभारी के रूप में सहयोग दिया एवं निर्णायक के रूप में मांगीलाल, एवं कोजाराम सतोलिया, व षिक्षा विभाग के नरपत सिंह, सत्यनारायण भार्गव, जुगल किषोर, ष्याम कवॅर, अराधना व कमल सिंह ने कबड्डी एवं रस्सा कस्सी में निर्णायक के रूप में रहे। इस दोरान खिलाड़ियों की हौसला अफजाई के लिये सैना से सेवा निवृत प्रयाग सिंह, राजेन्द्र सिंह चैहान, महेन्द्र सिंह, देवकीनन्दन षर्मा आदि खिलाड़ी उपस्थित रहे।

उल्लेखनीय है कि 19 मार्च को प्रातः 07ः00 बजे इसी मैदान पर महिला वर्ग की परम्परागत खेल कबड्डी, सतोलिया,रूमाल झपट्टा एवं रस्सा-कस्सी की प्रतियोगिता आयोजित की जायेगी। जिसमें पुलिस विभाग, डाईट, समाज कल्याण महिला छात्रावास, बालिका महाविधालय व नगर के महिला खेल क्लब व नर्सिंग महिला स्टाॅफ की टीमें विषेषश्रूप से भाग लेगी एवं जिले की 15 से 25 वर्ष आयु वर्ग की कोई भी महिला खिलाड़ी भाग ले सकती है।

---000--

0 टिप्पणियाँ:

Post a Comment

 
Top