बाड़मेर, रात्रि चौपाल मंे हुआ आमजन की समस्याआंे का समाधान

-जिला कलक्टर ने सरहदी गांव हाथला मंे सुनी आमजन की समस्याएं

बाड़मेर, 10 मार्च। जिला कलक्टर शिवप्रसाद मदन नकाते ने शनिवार को हाथला ग्राम पंचायत मुख्यालय आयोजित रात्रि चौपाल के दौरान आमजन की समस्याएं सुनी। उन्हांेने सार्वजनिक निर्माण विभाग के अधिकारियांे को जर्जर विद्यालय के भवन का निरीक्षण करने एवं दो परिवादियांे के गलत म्यूटेशन को दुरस्त करने के निर्देश दिए।

रात्रि चौपाल के दौरान जिला कलक्टर शिवप्रसाद मदन नकाते ने राज्य सरकार की विभिन्न जन कल्याणकारी योजनाआंे की विस्तार से जानकारी दी। उन्हांेने भाईचारे एवं शांति व्यवस्था बनाए रखने की अपील करते ग्रामीणांे से जागरूक होकर सरकारी योजनाआंे से लाभांवित होने की बात कही। इस दौरान ग्रामीणांे की ओर से विद्यालयांे के भवन जर्जर होने के बारे मंे अवगत कराने पर जिला कलक्टर ने सार्वजनिक निर्माण विभाग के अधिकारियांे को तत्काल मौका मुआयना करने के निर्देश दिए। ग्रामीणांे ने हैंडपंप की होरिएंटल खुदाई करने की जरूरत जताई ताकि मीठे पानी मिल सके। इसी तरह ग्रामीणांे की ओर से मनरेगा मंे बेरियांे की खुदाई के कार्य स्वीकृत करने की मांग रखने पर जिला कलक्टर ने तीन-तीन के प्रस्ताव भिजवाने के निर्देश दिए। इस दौरान दो परिवादियांे के नाम गलत म्यूटेशन भरे जाने के मामले मंे तत्काल दुरस्तीकरण के निर्देश दिए गए। रात्रि चौपाल के दौरान चिकित्सा विभाग, पशुपालन विभाग, डिस्काम, शिक्षा विभाग के अधिकारियांे ने विभागीय योजनाआंे एवं मुख्यमंत्री जल स्वावलंबन अभियान के बारे मंे विस्तार से जानकारी दी। रात्रि चौपाल के दौरान शिक्षकांे की कमी, राशन की दुकान नजदीक खोलने एवं विद्युतापूर्ति सुचारू करवाने की मांग की गई। इस दौरान जिला परिषद के मुख्य कार्यकारी अधिकारी एम.एल.नेहरा, महिला एवं बाल विकास विभाग के उप निदेशक जीतेन्द्रसिंह नरूका, उपखंड अधिकारी भूपेन्द्र यादव, विकास अधिकारी किशनलाल, सहायक अभियंता हनुमानराम चौधरी समेत विभिन्न विभागीय अधिकारी उपस्थित रहे।




बाड़मेर मंे रविवार को 570 बूथांे पर पिलाई जाएगी पोलियो की दवा
बाड़मेर, 10 मार्च। राष्ट्रीय टीकाकरण अभियान के तहत रविवार को बाड़मेर जिले में 570 बूथों एवं टीमांे के जरिए 0 से 5 वर्ष तक के बच्चों पोलियो की दवा को पिलाई जाएगी।

जिला कलक्टर शिवप्रसाद मदन नकाते ने बताया कि पल्स पोलियो कार्यक्रम के दौरान चिकित्सा, महिला एवं बाल विकास विभाग तथा अन्य विभागीय कार्मिकांे को अपनी डयूटी का निर्वहन करते हुए पोलियो की दवा पिलाने के निर्देश दिए गए है। इस दौरान पूर्व की भांति जिन विद्यालयों में बूथ स्थापित है वे अवकाश के दिन भी खुले रहेंगे। उन्हांेने बताया कि चिकित्सा विभाग के अधिकारियांे को प्रभावी मोनेटरिंग करने के निर्देश दिए गए है ताकि कोई भी बच्चा पोलियो की दवा से वंचित नहीं रहे।

0 टिप्पणियाँ:

Post a Comment

 
Top