बाड़मेर चोहटन में जो 70 साल में नही हुआ वह अब हुआ
है। चौहटन विधायक तरूणराय कागा ने शनिवार को सर्किट हाउस मंे आयोजित

पत्रकार वार्ता के दौरान पिछले चार वर्षाें की उपलब्धियांे की विस्तार से

जानकारी देते हुए यह बात कही।

चौहटन विधायक तरूणराय कागा ने कहा कि उनके विधानसभा क्षेत्र मंे पहाड़ी,

रेतीले इलाके के साथ साथ बहुत बड़ा भूभाग रण का इलाका हैं, ऐसे में यहाँ

काम और विकास किसी चुनोती से कम नही है। इस चुनोती को स्वीकार करते हुए

हमने अपने काम को सरहद के अंतिम छोर पर बसे गाँव के बाशिंदे तक पहुँचाया

है। बीते चार साल में चौहटन में दो नवीन पँचायत समितियां धनाऊ और सेड़वा

का गठन किया गया। 19 नवीन ग्राम पंचायतों का गठन किया गया। नर्मदा नहर

आधारित सिंचाई परियोजना से 29 गाँवो 23 हजार 455.70 हैक्टर भूमि को

लाभान्वित किया गया। नर्मदा नहर पेयजल परियोजना से 188 और 141 गाँवो तक

पानी पहुचाने के लिए 1 हजार करोड़ रुपये स्वीकृत हुए साथ ही अधीक्षण

अभियंता कार्यालय को चौहटन में मंजूरी दी गई। धनाऊ को नवीन तहसील का

दर्जा दिया गया । चौहटन में शिक्षा को लेकर कई कार्य हुए जिसमे चौहटन

मुख्यालय पर महाविद्यालय खोलने को हरी झंडी,और यह महाविद्यालय इस

शैक्षणिक सत्र में शुरू हो जाएगा। उन्हांेने बताया कि सेड़वा और धनाऊ में

बीईओ कार्यालय, 82 ग्राम पंचायतों में आदर्श और उत्कृष्ट विद्यालय की

स्वीकृति के साथ साथ 70 ग्राम पंचायतों उच्च माध्यमिक विद्यालयों को

खुलवाया गया है। विधुत के क्षेत्र में चौहटन विधानसभा में 80 करोड़ का

बजट स्वीकृत किया गया। स्वास्थ्य की पायदान पर चौहटन विधानसभा में चौहटन

सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र में आयुर्वेदिक चिकित्सक का पद सृजित किया

गया। धनाऊ में प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र का सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र

में क्रमोन्नत के साथ साथ विभिन्न चिकित्सको के रिक्त पदों को भरकर चौहटन

को बीमारू विधानसभा से बाहर निकालने का अनुकरणीय कार्य इन 4 साल में किये

गए। चौहटन का बहुत बड़ा इलाका पशुपालक वर्ग से है उनके हितों को ध्यान

में रखते हुए धनाऊ में प्रथम श्रेणी पशु चिकित्सालय और 14 जगह पर पशु

चिकित्सा उप केंद्र की स्थापना एवम तारातरा मठ उपकेंद्र को क्रमोन्नत

करने का काम किया गया। बाबा रामदेव मन्दिर रामदेवरा, त्रिपुरा सुंदरी

मन्दिर की तर्ज पर चालकना माता मंदिर के पैनोरमा के लिए स्वीकृति दे दी

गई है और काम शुरू हो गया है। चौहटन बाईपास को एज्युकेशन हब के तौर पर

तैयार किया गया है। उन्हांेने कहा कि यहाँ स्वामी विवेकानन्द मॉडल स्कूल,

आईटीआई केंद्र , सावित्री बाई फुले छात्रावास , देवनारायण छात्रावास और

अल्पसंख्यक छात्रवास बन चुके है और कोटा के बाद चौहटन इकलौती जगह है जहाँ

इतने शैक्षिणक संस्थान एक ही सड़क पर है। महानुभवों विधानसभा के हर सत्र

में मैने चौहटन की बात को पुरजोर तरीके से रखा है। उन्होंने कहा कि सड़क,

चिकित्सा, बिजली, शिक्षा, पेयजल, सिंचाई के आधार पर चौहटन विधानसभा

क्षेत्र ने आतिशी प्रगर्ति की है। बेटी पढ़ाओ बेटी बचाओ के नारे को

बुलन्द करने के लिए एक विद्यालय के कार्यक्रम में उनकी ओर से विद्यालय

में अव्वल आने वाली बेटियो को हवाई यात्रा करवाने का वादा किया गया था,

वह वादा पूरा करते हुए चौहटन विधानसभा की तीनों पँचायत समिति के तीन

विधालयो में कक्षा 12 में टॉपर रही तीन बालिकाओ को बाड़मेर से दिल्ली की

निजी व्यय पर हवाई यात्रा करवाई। चौहटन के गाँवो के समग्र विकास के लिए

स्मार्ट विलेज के तौर पर 29 गाँवो को कुछ से कोहिनूर बनाने का काम

प्रगर्ति पर है। उन्होंने कहा कि सड़क, चिकित्सा, बिजली, शिक्षा, पेयजल,

सिंचाई के आधार पर चौहटन विधानसभा क्षेत्र ने आतिशी प्रगति की है और यह

चार साल चौहटन के लिए बेमिसाल रहे है।




0 टिप्पणियाँ:

Post a Comment

 
Top