edvertise

edvertise
barmer

सोहराबुद्दीन एनकाउंटर मामले में बरी हुए IPS दिनेश एमएन

सोहराबुद्दीन एनकाउंटर मामले में बरी हुए IPS दिनेश एमएन

जयपुर.सोहराबुद्दीन एनकाउंटर मामले में राजस्थान पुलिस IPS दिनेश एमएन बरी हो गए हैं। मुंबई कोर्ट ने दिए आदेश। बता दें कि दिनेश इस केस में 7 साल की जेल पहले ही काट चुके हैं। फिल्हाल वे आईजी एसओजी है। क्या है सोहराबुद्दीन एनकाउंटर मामला
- सीबीआई के आरोप पत्र के अनुसार 26 नवंबर 2005 को अहमदाबाद सर्किल और विशाला सर्किल के टोल प्वाइंट पर सोहराबुद्दीन की हत्या हुई। - सुबह तड़के 4 बजे इस सड़क पर अचानक कई चेहरे प्रकट हुए। गुजरात एटीएस के चीफ डीजी वंजारा के साथ राजस्थान पुलिस के सुपरिटेंडेंट एम एन दिनेश आए।
- कांस्टेबल अजय परमार से कहा गया कि वो एटीएस दफ्तर के पीछे पड़ी एक हीरो होंडा मोटरसाइकिल लेकर आए। सोहराबुद्दीन शेख को भी वहां लाया गया।
- राजस्थान पुलिस का एक सब इंस्पेक्टर मोटरसाइकिल पर बैठा और थोड़ी दूर जाकर अचानक नीचे कूद गया। उसी वक्त सोहराबुद्दीन को भी चलती कार से नीचे धक्का देकर सड़क पर गिरा दिया गया।
- नतीजा दोनों को चोट लगी, और उसी के साथ चार पुलिस इंस्पेक्टरों ने अपने सर्विस रिवॉ़ल्वर से सोहराबुद्दीन पर आठ गोलियां दाग दीं। वंजारा ने कांस्टेबल परमार से सोहराबुद्दीन के निर्जीव शरीर को सिविल अस्पताल ले जाने को कहा।
ऐसा रहा करियर
- बता दें कि दिनेश एमएन 1995 बैच के आईपीएस अधिकारी हैं। मूल रूप से कर्नाटक के रहने वाले हैं और इलेक्ट्रॉनिक्स और टेलिकम्युनिकेशन में बीई हैं।
- सबसे पहले वर्ष 2000 में करौली एसपी रहे। इसके बाद सवाई माधोपुर और झूंझुनू, उदयपुर और अलवर एसपी रहे।
- 26 नवंबर 2005 में अंबाजी के पास हुए सोहराबुद्दीन एनकाउंटर को फर्जी मानते हुए दिनेश एमएन को 24 अप्रैल 2007 को गिरफ्तार कर लिया गया था। इसके बाद सात साल तक वो जेल में रहे।


 

0 टिप्पणियाँ:

Post a Comment

 
Top