edvertise

edvertise
barmer

   जैसलमेर संभागीय आयुक्त ने रामदेवरा मेले की व्यवस्थाओ की बैठक ली 

रतन लोहाटी आई.ए.एस. सम्भागीय आयुक्त जोधपुर द्वारा आगामी बाबा रामदेवरा मेला 2017 की व्यवस्थाओं को लेकर ग्राम पंचायत रामदेवरा के सभागार में बैठक ली गई जिसमें सभी विभागों के प्रतिनिधियों ने भाग लिया।


दशर्नाथियो की सुरक्षा हेतू किया पेम्पलेट व आॅडियो सीडी का विमोचन


इस अवसर पर जिला पुलिस जैसलमेर द्वारा बाबा रामदेवरा की यात्रा पर आने वाले यात्रियों की सुरक्षा, दुर्धटनाओं की रोकथाम एंव यातायात नियमों की पालना को लेकर बनाये गये ओडियों सी.डी. व पेम्पलेट का विमोचन श्रीमान रतन लोहाटी आई.ए.एस. सम्भागीय आयुक्त जोधपुर एंव श्रीमान हवासिंह घुमरीया आई.पी.एस. महानिरीक्षक पुलिस जोधपुर रेन्ज जोधपुर द्वारा किया गया। इस अवसर पर श्रीमान कैलाशचन्द्र मीणा आई.ए.एस जिला कलेक्टर, श्रीमान डाॅ. रविकुमार सूरपूर, जिला कलक्टर जोधपुर, श्रीमान गौरव यादव आई.पी.एस. जिला पुलिस अधीक्षक जैसलमेर, श्रीमान डाॅ. रवि आई.पी.एस. जिला पुलिस अधीक्षक जोधपुर ग्रामीण, श्रीमान जयनारायण मीणा आर.पी.एस. अति0 पुलिस अधीक्षक जिला जैसलमेर, श्री नानकसिंह आर.पी.एस. वृताधिकारी वृत पोकरण, श्री पारस सोनी प्रशिक्षु आरपीएस व अमरसिंह उ.नि. थानाधिकारी पुलिस थाना रामदेवरा उपस्थित रहे।

श्रीमान रतन लोहाटी आई.ए.एस. सम्भागीय आयुक्त जोधपुर एंव श्रीमान हवासिंह घुमरीया आई.पी.एस. महानिरीक्षक पुलिस जोधपुर रेन्ज जोधपुर, श्रीमान कैलाशचन्द्र मीणा आई.ए.एस जिला कलेक्टर, श्रीमान डाॅ. रविकुमार सूरपूर, श्रीमान डाॅ. रवि आई.पी.एस. जिला पुलिस अधीक्षक जोधपुर ग्रामीण द्वारा जिला पुलिस जैसलमेर के उक्त सराहनीय कार्य की प्रंशसा की गई व पुलिस अधीक्षक जैसलमेर को धन्यवाद दिया।


जय बाबेरी रामदेवाय नमः

सुरक्षित रामदेवरा यात्रा

आपका सुरक्षित हो हर पल, यह है पुलिस की एक पहल।



दर्शन कर हर दशनार्थी पहॅुचे सुरक्षित अपने घर, यह जिमा है हमारे ऊपर।।

सुरक्षित हो हर दर्शनार्थी हमारा, यही है हमारा नारा।।


पैदल यात्री

 पैदल यात्रियों के लिए राजस्थान सरकार द्वारा नवीन पैदल पथ बनाया गया ह,ै उसी का उपयोग ले।

 रात्री के समय बैग, शर्ट व हाथों पर रेडीयम लगाकर चले, ताकि पीछे से आने वाले वाहन से बच सके।

 पैदल चलते वक्त मोबाईल से बात करते पूर्ण सतर्कता रखे,ताकि अंजाने में आप कही रोड पर ना जावे।


दुपहिया वाहन

 सिर है सबसे नाजुक, हेलमेट लगाकर बने जागरूक, क्योकि मजबूत हेलमेट से सर की सुरक्षा रहती है।

 मोटर साईकिल पर दो ही काफी, अधिक से हो माफी, क्योकि लम्बें सफर में बैठने में आसानी होती है।

 मत करो इतनी मस्ती, जिन्दगी नहीं है सस्ती,क्यांे कि मस्ती करने से ध्यान भटकता है।दुर्घटना होती है।

 परिवार के सम्पर्क में रहो, पर वाहन चलाते वक्त मोबाईल का उपयोग ना करो,कोई इंतजार कर रहा है।

 मोबाईल है कीमती, पर जिन्दगी से ज्यादा नहीं, क्योकि काॅल आने पर मोबाईल तुरंत उठानाहै खतरनाक।




चैपहिया वाहन

 सुरक्षा हेतु ओवरलोड /मालवाहक वाहन में जोखिम भरी यात्रा नहीं करें, सवारी वाहन का उपयोग करे।

 दुर्घटना से बचने के लिए वाहन के चारो तरफ रेडीयम लगावें, ताकि वाहन दूर से दिखाई दे जावे।

 दुर्घटना से बचाव, शराब का त्याग, क्योकि वाहन चलाते वक्त शराब पीने से सावधानी नहीं रहती है।

 स्पीकर का शोर, दुर्घटना की ओर, क्योंिक ज्यादा शोर से वाहन चालक का ध्यान भटक जाता है।

 वाहन नियन्त्रित गति में रखे, लेन में चले, सीट बेल्ट लगाकर सुरक्षित यात्रा करें,क्योंकि आप हो अनमोल।

 वाहन चलाते समय मोबाईल पर बात करना, दुर्घटना को न्यौता देना, वाहन खडा कर ही बात करे।

 एक भुल करें नुकसान, छीने रोजी, रोटी और मुस्कान, क्योंकि हर एक छोटी भूल कीमत मांगती है।

अन्य सावधानियाॅ

 वाहन चोरी से बचने के लिए निर्धारित पार्किग में वाहन खड़ा कर रसीद प्राप्त करे, परेशानी से बचें।

 जेबकतरों, लपकों, संदिग्ध व्यक्तियों से सावधान रहे, तुरन्त पुलिस को सूचना देवें, तुरंत होगी कार्यवाही।

 आप किसी भी परेशानी में हो तो 100 नम्बर पर सूचना दें, क्योकि यह आमजन हेतू निःशुल्क उपलब्ध है।

 भण्डारें सड़क से 100 मीटर दूरी पर लगावें, होने वाली सम्भावित दुर्घटना से यात्रियों को बचावें।

 जो सुरक्षा से दोस्ती तोड़ेगा वह एक दिन दुनिया भी छोड़ेगा, सुरक्षित अपनो से जूडे, दूर्घटना से दूर रहे।

 दुर्घटनाओं पर लगेगा ताला,जब पहनोंगें सुरक्षा की माला, यह तब होगा जब सब नियमों का पालन होगा।




आपकी लापरवाही के कारण आप या अन्य व्यक्ति दर्शनों से वंचित ना रहे:-







‘‘यदि आपकी वजह से कोई भक्त बाबा के दर्शनों से वंचित रहेगें।

तो बाबा के दरबार में आप उसके दोषी होगें।‘‘




निर्देशन:- महानिरीक्षक पुलिस, जोधपुर रेन्ज जोधपुर। विनित:- जिला पुलिस अधीक्षक, जैसलमेर (राज.)

ओडियो कैसेट:- ‘‘ खम्मा घणी सा ‘‘:ः जय बाबे री सा:ः समस्त श्रदालुओं का बाबा की नगरी में पुलिस विभाग की तरफ से हार्दिक अभिनंदन, बाबा के दशनार्थ आते वक्त अपनी एवं अपने परिवार की सुरक्षा हेतु विशेष बातो का ध्यान रखे तथा सुरक्षा हेतु पुलिस के नियमों का पालन करे व नियमों से अंजान को समझाईश करे -




 पैदल यात्रियों के लिए पैदल पथ बना है उसी मे चलें, सुरक्षित यात्रा करें।

 पैदल यात्री रात्री के समय बैग, शर्ट व हाथों पर रेडीयम लगाकर चलें।

 मोटर साईकिल चालक सिर में हेलमेट लगाकर यात्रा करें।

 मोटर साईकिल पर दो से अधिक यात्रा ना करे।

 वाहन में तेजगति से स्पीकर ना बजावें।

 वाहन चालक कानों में ईयरफोन लगाकर वाहन ना चलावें।

 यात्री अपनी सुरक्षा के लिए ओवरलोड वाहनों में यात्रा ना करे।

 अपनी सुरक्षा हेतु, वाहन की छत पर बैठकर यात्रा ना करे।

 यात्री मालवाहक वाहन में जोखिम भरी यात्रा ना करें।

 दुर्घटना से बचने के लिए वाहन के चारों तरफ रेडियम लगावें।

 शराब पीकर वाहन ना चलावें।

 वाहन नियत्रित गति मंे चलावें।

 वाहन चलाते समय सीट बेल्ट लगाकर वाहन चलावें।

 वाहन अपनी लेन में चलावें तथा आगे के वाहन से प्रर्याप्त दूरी बनायें रखे।

 वाहन चलाते समय मोबाईल पर बात ना करें।

 वाहन चोरी से बचने के लिए निर्धारित पाॅर्किग मंे वाहन खड़ा कर रसीद प्राप्त करे,परेशानी से बचे।

 जेब कतरों, लपकों व उठाईगिरों से सावधान रहे।

 संदिग्ध व्यक्ति व संदिग्ध वस्तु दिखाई देने पर तुरन्त 100 नम्बर पर पुलिस को सूचना देवें।

 भण्डारें सड़क से 100 मीटर दूरी पर लगावें, सम्भावित दुर्घटना से यात्रियों को बचावें।

 प्लास्टिक का उपयोग नहीं करें।

 गन्दगी नहीं फैलावें।

 तालाब मंें नहाते समय अपने सामान का पूर्ण ध्यान रखें।

 यात्री बाबा के दर्शन लाईन मंे लगकर करें, लपकों से बचें।

 तालाब में गन्दे कपड़े उतार कर नहीं छोड़े।

 जो सुरक्षा से दोस्ती तोड़ेगा वह एक दिन दुनिया भी छोड़ेगा।

 दुर्घटनाओं पर लगेगा ताला, जब पहनोगें सुरक्षा की माला।

 मोबाईल है कीमती, पर जिन्दगी से ज्यादा नहीं।

 मेले में अपनों का हो साथ, तब हो कोई बात।

 मेले में छोटे बच्चों का विशेष कर ध्यान रखे।

 मेले में सामान, रिश्तेदार को रखे ज्ञात, तब हो कोई बात।

 आपकी सजकता ही आपकी सुरक्षा है।

 पुलिस के नियमों का पालन, सुरक्षा की गारंटी।

 स्वच्छ मेला प्रागण हो, जैसा अपना आगण हो।

 मेले में स्वच्छता का नारा, सुरक्षित हो हर दशनार्थी हमारा।

‘‘

0 टिप्पणियाँ:

Post a Comment

 
Top