edvertise

edvertise
barmer



बाड़मेर ।धरना स्थल पर झण्डारोहण कर मनायेगें स्वतंत्रता दिवस

बाड़मेर । जिन्दल साउथ वेस्ट की सहयोगी कम्पनी साउथ वेस्ट माईन्स और बाड़मेर लिग्नाईट माईनिंग काॅर्पोरेषन लि0 के संयुक्त उपक्रम के खिलाफ खनिकों की ओर से दिया जा रहा धरना रविवार को तीसरे दिन बड़ी संख्या में उपस्थित श्रमिकों ने जारी रखा। रविवार का धरना भारतीय मजदूर संघ के संगठन मंत्री जितेन्द्र छंगाणी एवं भारतीय जलदाय मजदूर संघ के उपाध्यक्ष टीमकाराम के नेतृत्व में दिया गया। धरने के दौरान उपस्थित श्रमिकों को सम्बोधित करते हुए छंगाणी ने कहाकि संघर्ष ही जीवन है। सदियों से पंूजीपती वर्ग श्रमिकों का शोषण करता आया है। उन्होंने कहाकि वर्तमान सरकार निजीकरण पर जोर देकर श्रमिकों का रोजगार छीन रही है। जहां औद्योगिक समूहों के सुधार की आवष्यकता है वहंा सरकार श्रम सुधार करके श्रम कानूनों को लचीला और उद्योगपतियों के हितों को ध्यान में रखकर संषोधित कर रही है। केन्द्र और राज्य की निजीकरण की नीति का विरोध करने के लिए आगामी नवम्बर माह में राजधानी दिल्ली में अखिल भारतीय स्तर का आंदोलन प्रस्तावित है। उन्होंने खनिकांे को जमकर डटे रहने तथा प्रषासन और उद्योगपतियों का कड़ा विरोध करने का आव्हान किया। इसके बाद सैंकड़ों की संख्या में उपस्थित श्रमिकों ने कम्पनी और प्रषासन के खिलाफ नारेबाजी करते हुए मुख्यमंत्री के नाम जिला कलेक्टर को ज्ञापन सौंपा। धरने में राजवेस्ट पावर ठेका मजदूर संघ के अध्यक्ष गणेषदान बारहठ के नेतृत्व में पावर प्लांट मजदूरों के प्रतिनिधियों ने सहयोग और समर्थन दिया। धरना स्थल पर किसान भूमि अवाप्ति कमेटी के सदस्य खुमाणसिंह राजपुरोहित ने समर्थन दिया। इसी प्रकार कमठा मजदूर युनियन के जिलाध्यक्ष लक्ष्मण बडेरा ने भी धरना स्थल पर आकर धरनार्णियों की हौसला आफजाई की तथा नेतिक समर्थन का भरोसा दिलाया।

मुख्यमंत्री के नाम कलेक्टर को सौंपे ज्ञापन में साजिष के तहत सेवा से हटाए गए युनियन के सचिव ठाकराराम जाणी को कम्पनी की सेवा में बहाल करने, केन्द्र सरकार के न्यूनतम मजदूरी नोटिफिकेषन दिनांक 19 जनवरी 2017 की पालना करवाने, फौत हो चुके श्रमिकों के आश्रितों को बकाया पीएफ राषि का भुगतान करने, आश्रितों के परिवार के सदस्य को कम्पनी में अनुकम्पा नियुक्ति प्रदान करने, उपार्जित अवकाष की व्यवस्था पुनः आरंभ करने, गत वर्ष अकारण कम्पनी की सेवा से बेदखल किए गये 8 श्रमिकों को पुनः कम्पनी की सेवा में नियुक्ति प्रदान करने की मांग की गई है। यह जानकारी खान मजदूर संघ के कार्यकारी अध्यक्ष रामसिंह बिषाला ने दी। भारतीय मजदूर संघ के संयुक्त मंत्री भीखसिंह राजपुरोहित ने बताया कि आगामी 15 अगस्त को सभी धरनार्णी ध्वजारोहण के बाद एक दिन का सामुहिक उपवास करेंगे। उन्होंने बताया यदि प्रषासन की ओर से श्रमिकों की समस्याओं का समाधान नहीं किया जाता है तो आगामी स्वतंत्रता दिवस धरना स्थल पर झण्डारोहण कर मनाया जाएगा। सोमवार कोे राजवेस्ट पावर ठेका मजदूर संघ के जिलाध्यक्ष गणेषदान बारहठ एवं भारतीय जलदाय मजदूर संघ के जुगतसिंह की अगुवाई में दिया जायेगा।

गृहमंत्री कटारिया ने दिया आष्वासन:- रविवार को बालोतरा में प्रवास पर आए राज्य के गृह मंत्री गुलाबचंद कटारिया से वार्ता कर कपूरड़ी खान युनियन के सचिव ठाकराराम और सवाईराम ने 9 सूत्रीय ज्ञापन सौंपकर कम्पनी के तानाषाही रवैये से अवगत करवाया। गृह मंत्री ने जिला प्रषासन को निर्देष देकर समस्याओं के त्वरित समाधान का आष्वासन दिया।

0 टिप्पणियाँ:

Post a Comment

 
Top