edvertise

edvertise
barmer



बाड़मेर,  सिलिकोसिस से प्रभावित खान श्रमिकांे को 25 लाख की आर्थिक सहायता स्वीकृत
बाड़मेर, 01 अगस्त। सिलिकोसिस बीमारी से ग्रसित खान श्रमिकांे अथवा उनके आश्रितांे को आर्थिक सहायता उपलब्ध कराने के लिए 25 लाख की वित्तीय स्वीकृति जारी की गई है।

जिला कलक्टर शिवप्रसाद मदन नकाते ने बताया कि देवरिया निवासी बालाराम पुत्र जोगाराम, गंगावास निवासी वालाराम पुत्र शेराराम, पाबुपुरा रोडवा निवासी खरताराम पुत्र हीराराम, गंगावास निवासी थानाराम पुत्र नेनाराम, बाणियावास निवासी ईशाराम पुत्र धीगड़राम, रामदेपुरा मंडली निवासी नराराम पुत्र जोगाराम, रोड़़वा खुर्द निवासी गंगाराम पुत्र मेघाराम, कुड़ी निवासी किशनाराम पुत्र इगाराम, मेघवालांे का वास कल्याणपुर निवासी वगताराम पुत्र पुरखाराम, बागथल निवासी मानाराम पुत्र मोतीराम, खोखसर पूर्व निवासी गोकलराम पुत्र मोडाराम एवं रामाराम पुत्र वेहनाराम निवासी बैरड़पुरा को एक-एक लाख रूपए की आर्थिक सहायता स्वीकृत की गई है। जिला कलक्टर नकाते ने बताया कि भीलो का वास नागाणा निवासी तुलचो पत्नी स्व.भंवराराम, तेजाराम पुत्र रूगाराम निवासी मेघवालों का वास,मंजल, श्रीमती लीला पत्नी प्रतापराम निवासी रबारियांे की ढाणी, श्रीमती रूखीदेवी पत्नी नेनाराम निवासी हुकमाणी खोथो का ढाणी को वैधिक उत्तराधिकारी का दावा प्रस्तुत करने पर तीन-तीन लाख रूपए की आर्थिक सहायता स्वीकृत की गई है। इसमंे मृतक खान श्रमिक के विधिक उत्तराधिकारी को एक लाख पचास हजार रूपए नकद एवं एक लाख पचास हजार रूपए सावधी जमा के रूप मंे दिए जाने है।

25 अगस्त तक किसान करवा सकंेगे फसल बीमा

बाड़मेर, 01 अगस्त। प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना खरीफ वर्ष 2017 की संशोधित अधिसूचना के अनुसार ऋणी एवं अऋणी कृषक 25 अगस्त तक फसल बीमा करवा सकते है। जो किसान 25 अगस्त तक फसली ऋण लेंगे, उनका फसल बीमा स्वतः हो जाएगा।

जिला कलक्टर शिवप्रसाद मदन नकाते ने बताया कि बटाईदार कृषक भी अपना बीमा करवा सकते है। लेकिन बटाईदार कृषक को खातेदार कृषक से लिखित मंे यह शपथ पत्र प्राप्त कर बैंक को देना होगा कि खातेदार की ओर से बीमित कृषक को जमीन बटाई पर दी गई है। फसल बीमा के लिए आवश्यक अभिलेख आधार कार्ड, जमीन की जमाबंदी, गिरदावरी, पासबुक इत्यादि बैंक मंे देने होंगे। कृषक अपना फसल बीमा सभी वाणिज्यिक बैंकांे, कापरेटिव बैंक एवं सीएससी से करा सकते है। बाड़मेर जिले के लिए बजाज एलाइंज जनरल इश्योरेंस कंपनी लिमिटेड को अधिकृत किया गया है। अधिक से अधिक किसान फसल बीमा करवाकर जोखिम से छूट पा सकते है।

अतिवृष्टि क्षेत्रांे मंे तात्कालिक सहायता के लिए दलांे का गठन
बाड़मेर, 01 अगस्त। जिला कलक्टर शिवप्रसाद मदन नकाते ने अतिवृष्टि, बाढ़ से प्रभावित धोरीमन्ना, गुड़ामालानी, सेड़वा, सिवाना एवं समदड़ी मंे जल भराव, जल मग्न अथवा संपर्क मार्ग से कटे हुए गांवांे के प्रभावित लोगांे एवं पशुआंे को मौके पर तात्कालिक सहायता उपलब्ध करवाने के लिए दलों का गठन किया है।

जिला कलक्टर शिवप्रसाद मदन नकाते ने एक आदेश जारी कर धोरीमन्ना उपखंड के लिए तहसीलदार धोरीमन्ना, गुड़ामालानी के लिए उपखंड अधिकारी गुड़ामालानी, सेड़वा के लिए तहसीलदार सेड़वा एवं सिवाना के लिए उपखंड अधिकारी सिवाना को दल प्रभारी नियुक्त किया है। इनके साथ चिकित्सा एवं स्वास्थ्य विभाग, पशुपालन विभाग, रसद विभाग, एसडीआरएफ,आरएसी, संबंधित पटवारी एवं ग्रामसेवक राहत दल मंे शामिल रहेंगे।

जिला कलक्टर की अगस्त माह मंे आयोजित होने

वाली रात्रि चौपालांे का कार्यक्रम घोषित


बाड़मेर, 01 अगस्त। जिला कलक्टर शिवप्रसाद मदन नकाते की अगस्त माह मंे आयोजित होने वाली रात्रि चौपालांे का कार्यक्रम घोषित कर दिया गया है। इसके तहत चार अगस्त को राणासर ग्राम पंचायत मुख्यालय पर रात्रि चौपाल का आयोजन होगा।

जिला कलक्टर शिवप्रसाद मदन नकाते ने बताया कि निर्धारित कार्यक्रम के अनुसार 4 अगस्त को खानियानी एवं राणासर कलस्टर के लिए राणासर ग्राम पंचायत, 11 अगस्त को आलपुरा एवं बांटा कलस्टर के लिए आलपुरा, 18 अगस्त को आरंग एवं चोचरा कलस्टर के लिए आरंग, 25 अगस्त को मेली एवं गोलिया कलस्टर के लिए मेली ग्राम पंचायत, कुड़ी एवं नेवरी कलस्टर के लिए नेवरी ग्राम पंचायत मुख्यालय पर 30 अगस्त को रात्रि चौपाल का आयोजन होगा। निर्धारित तिथियांे को ग्राम पंचायत मुख्यालय पर आयोजित होने वाली रात्रि चौपाल के दौरान आमजन की समस्याएं सुनेंगे। रात्रि चौपाल मंे संबंधित ग्राम पंचायत के ग्रामीणांे की समस्याआंे एवं अभियोगांे का मौके पर ही निपटाने के लिए संबंधित अधिकारियांे को आवश्यक रूप से उपस्थित होने के निर्देश दिए गए हैं। ताकि इसका लाभ प्रत्येक ग्रामीण को मौके पर मिल सके। रात्रि चौपाल मंे प्रत्येक ग्रामवार समस्याआंे पर चर्चा की जाएगी। चौपाल की समाप्ति पर खुली चौपाल मंे जन सुनवाई का आयोजन होगा। इसमंे किसी भी प्रकार की मौसमी बीमारी, पशुआंे मंे बीमारी होने पर उसके उपचार, पेयजल एवं विद्युत व्यवस्था की स्थिति, राशन एवं पोषाहार वितरण के संबंध मंे समस्या होने पर जन सुनवाई की जाएगी।

एयर फील्ड एनवायरमेंट मैनेजमेंट समिति की बैठक कल
बाड़मेर, 01 अगस्त। एयर फील्ड एनवायरमेंट मैनेजमंेट समिति की बैठक गुरूवार को प्रातः 11.30 बजे जिला कलक्टर शिवप्रसाद मदन नकाते की अध्यक्षता मंे कलक्टर कार्यालय मंे रखी गई है।

अतिरिक्त जिला कलक्टर ओ.पी.बिश्नोई ने बताया कि संबंधित अधिकारियांे को आवश्यक सूचनाआंे के साथ उपस्थित होने के निर्देश दिए गए है।

मृतकांे के आश्रितांे को आर्थिक सहायता स्वीकृत

बाड़मेर, 01 अगस्त। सड़क हादसांे मंे मौत होने पर उनके आश्रितांे को मुख्यमंत्री सहायता कोष से 50-50 हजार रूपए की आर्थिक सहायता स्वीकृत की गई है।

जिला कलक्टर शिवप्रसाद मदन नकाते ने एक आदेश जारी कर भूरटिया निवासी धनाराम पुत्र भेराराम, मजल निवासी हड़मतसिंह पुत्र चेनसिंह, गादेवी निवासी खुमानसिंह पुत्र नाथूसिंह की सड़क हादसे मंे मौत होने पर उनके आश्रितांे को 50-50 हजार रूपए की आर्थिक सहायता स्वीकृत की है।

प्रभारी सचिव ने लिया राहत प्रबंधांे का जायजा

बाड़मेर, 01 अगस्त। प्रभारी सचिव राजीवसिंह ठाकुर ने मंगलवार को धोरीमन्ना एवं गुड़ामालानी क्षेत्र मंे अतिवृष्टि प्रभावित इलाकांे का दौरा कर राहत प्रबंधांे का जायजा लिया। उन्हांेने प्रशासनिक अधिकारियांे को प्रभावित लोगांे को हरसंभव मदद करने के निर्देश दिए।

प्रभारी सचिव राजीवसिंह ठाकुर ने मंगलवार को धोरीमन्ना पंचायत समिति क्षेत्र की अरणियाली, पुरावा, आलेटी एवं गांधव क्षेत्र मंे राहत प्रबंधांे का जायजा लिया। उन्हांेने प्रभावित लोगांे को भरोसा दिलाया कि राज्य सरकार की ओर से उनको हरसंभव सहायता दिलाई जाएगी। प्रभारी सचिव ने ग्रामीणांे से मौजूदा स्थिति के बारे मंे जानकारी ली। इसके उपरांत उन्हांेने गुड़ामालानी क्षेत्र मंे ग्रामीणांे से रूबरू होकर उनकी समस्याएं जानी। साथ ही विभिन्न इलाकांे मंे लूनी नदी मंे पानी के बहाव की स्थिति का जायजा लिया। इस दौरान जिला परिषद के मुख्य कार्यकारी अधिकारी एम.एल.नेहरा, धोरीमन्ना उपखंड अधिकारी विजयसिंह नाहटा एवं गुड़ामालानी उपखंड अधिकारी नाथूसिंह, अतिरिक्त जिला कार्यक्रम समन्वयक सुरेश कुमार दाधीच समेत विभिन्न विभागीय अधिकारी उपस्थित रहे।

 

भामाशाह रोजगार सृजन योजना में चार प्रतिशत ब्याज

अनुदान, ऑनलाईन ऋण आवेदन की सुविधा

बाड़मेर, 01 अगस्त। राज्य के बेरोजगार युवक-युवतियों को भामाशाह रोजगार सृजन योजना में चार प्रतिशत ब्याज अनुदान पर ऋण आवेदन के लिए राज्य सरकार के पोर्टल ूूूण्ेेवण्तंरंेजींदण्हवअण्पद पर ऑनलाईन आवेदन की सुविधा उपलब्ध कराई गई है।

उद्योग आयुक्त एवं सीएसआर सचिव कुंजी लाल मीणा ने बताया कि भामशाह रोजगार सृजन योजना में राज्य के बेरोजगार युवक-युवतियों को सेवा एवं व्यापार क्षेत्र में अधिकतम पांच लाख रुपए तक और उद्योग लगाने के लिए 10 लाख रुपए तक की ऋण सुविधा दी जा रही है। उन्होंने बताया कि इन ऋणों पर राज्य सरकार द्वारा ऋणियों को चार प्रतिशत का अनुदान दिया जा रहा है। भामाशाह रोजगार सृजन योजना में अधिकतम 50 वर्ष तक की आयु सीमा के राजस्थान के मूल निवासी ऋण के लिए आवेदन कर सकते हैं। ऋणी आवेदक के परिवार की वार्षिक आय 6 लाख रुपए से अधिक नहीं होनी चाहिए और गत पांच वर्षों में राजकीय रोजगार मूलक अनुदान योजना में लाभान्वित नहीं होना चाहिए। आवेदक को ऑन लाईन आवेदन में परियोजाना रिपोर्ट के साथ भामाशाह और आधार कार्ड की प्रति, आवेदक का फोटो, पंजीकृत बेरोजगारों के लिए रोजगार कार्यालय का पंजीयन प्रमाण पत्र, अनुसूचित जाति, जनजाति, दिव्यांग होने की स्थिति में संबंधित प्रमाण की प्रति आदि आवश्यक दस्तावेज प्रस्तुत करने होंगे। इस व्यवस्था को पारदर्शी व बेरोजगार युवक-युवतियों की सुविधा के लिए इस योजना में ऋण आवेदन ऑनलाईन होने की व्यवस्था की गई है। इस सम्बन्ध में विस्तृत जानकारी उद्योग विभाग की वेबसाइट पर देखी जा सकती है। गौरतलब है कि प्रदेश के अन्य क्षेत्रों के निवासी भी भामाशाह रोजगार सृजन योजना में ऑनालईन आवेदन कर ऋण सुविधा का लाभ प्राप्त कर सकते हैं।




युवा विकास संवाद स्पर्धा आयोजित

बाड़मेर, 01 अगस्त। युवाओं की विकासशील सोच को गवर्नेस में समाहित करने के उद्देश्य से राज्य भर में युवा विकास संवाद स्पर्धा का आयोजन किया जा रहा है। बाड़मेर जिले में जिला स्तर पर युवा विकास संवाद स्पर्धा का आयोजन राजकीय महाविद्यालय हुआ। इसमंे चयनित दो प्रतिभागी राज्य स्तरीय स्पर्धा में बाड़मेर जिले का प्रतिनिधित्व करेंगे।

आर्थिक एवं सांख्यिकी विभाग के सहायक निदेशक जसवंत कुमार गौड़ ने बताया कि इस स्पर्धा में राजेश कुमार ने प्रथम तथा दलजीत सिंह ने द्वितीय स्थान प्राप्त किया। जो राज्य स्तरीय प्रतियोगिता में भाग लेंगे। युवा विकास प्रेरक गिरीश गौतम , कपिल देव और मनोज सिंह ने युवा विकास संवाद स्पर्धा का आयोजन करवाया। निर्णायक मंडल में महाविद्यालय के पांचाराम चौधरी और आदर्श किशोर ने प्रतिभागियों का चयन किया।

इन्द्रधनुष अभियान के तहत 90 फीसदी टीकाकरण सुनिश्चित करेंः गोयल

बाड़मेर, 01 अगस्त। चिकित्सा एवं स्वास्थ्य विभाग की ओर से शिशु मृत्यु दर को कम करने के लिए सघन मिशन इन्द्रधनुष टीकाकरण कार्यक्रम चलाया जाएगा। इस अभियान के तहत वर्ष 2018 तक 90 प्रतिशत टीकाकरण लक्ष्य निर्धारित किया गया है। जिला स्वास्थ्य भवन मंे मंगलवार को इन्द्रधनुष अभियान के सफल क्रियान्वयन के लिए आयोजित एक दिवसीय कार्यशाला के दौरान मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी हेमराज सोनी ने यह बात कही।

इस अवसर पर मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डा. हेमराज सोनी ने कहा कि प्रदेश के 11 जिलों में चलने वाले इस अभियान के तहत बाडमेर जिले में विभाग की ओर से व्यापक स्तर पर तैयारियां की जा रही है। इस दौरान जिला प्रजनन एवं शिशु स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. प्रीत मोहिन्द्र सिंह ने बताया ककि यह अभियान 7 अक्टूबर 2017 से शुरू होगा। यह अभियान अक्टूबर, नवंबर,दिसंबर एवं जनवरी माह की 7 तारीख से शुरू कर सप्ताह के अंत तक चलेगा। इस दौरान नियमित टीकाकरण से वंचित रहे 2 वर्ष तक के बच्चों एवं गर्भवती महिलाओं को टीके लगाए जाएंगे। इसकी प्रधानमंत्री स्तर से समीक्षा की जाएगी और कार्यक्रम की मॉनिटरिंग हर स्तर से की जाएगी। कार्यक्रम की सफलता के लिए शिक्षा, महिला एवं बाल विकास विभाग, यूथ अफेयर मत्रालय, सेना मत्रांलय के माध्यम से एनसीसी कैडेट्स व एनएसएस के स्वयंसेवकों का भी सहयोग लिया जाएगा। इस संबध में सभी बीसीएमओ, चिकित्सा अधिकारी प्रभारियों को भी निर्देश दिए गए है। जिला प्रजनन एवं शिशु स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. प्रीत मोहिन्द्र सिंह ने कहा कि नियमित टीकाकरण कार्यक्रम को प्राथमिकता देकर प्रत्येक लाभार्थी को टीकाकरण शामिल करने के शत-प्रतिशत प्रयास करने होंगे। उन्होेनें कहा कि सघन मिशन इन्द्रधनुष कार्यक्रम ब्लॉकवार जनसंख्या के हिसाब से कार्यक्रम की माईको्रप्लानिंग बनाई जाएगी। उन्हांेने हैडकांउट सर्वे के अनुसार कवरेज बढाने की गतिविधियों की जानकारी दी। जिला आशा समन्वयक राकेश भाटी ने कहा कि इस अभियान को सफल बनाने के लिए आशाआंे एवं एएनएम की अहम भागीदारी रहेगी। अभियान के बारे में आम जन को जागरूक करने के लिए विभाग की ओर से होर्डिग्स, बैनर, रेली एवं नुकड नाटक के माध्यम से व्यापक प्रचार-प्रसार किया जाएगा। ताकि आम जन को अभियान की जानकारी देकर अधिक से अधिक बच्चों एवं गर्भवती महिलाओं को अभियान से जोडा जा सके। कार्यशाला में उप मुख्य एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. पी.सी.दीपन, जिला कार्यक्रम प्रबधंक सचिन भार्गव, अनिल स्वामी, डॉ. अकुंर डॉ. अपूर्वा आदित्य अग्निहोत्री डॉ. मुकेश गर्ग खण्ड स्तर से बीसीएमओ, बीएनओ, बीएचएस उपस्थित रहे।

बायतू में पूर्व सैनिकांे एवं आश्रितांे के लिए समस्या समाधान शिविर कल
बाड़मेर, 01 अगस्त। पूर्व सैनिकांे एवं उनके आश्रितांे के लिए पंचायत समिति बायतू मंे 3 अगस्त को प्रातः 11 बजे समस्या समाधान शिविर का आयोजन किया जाएगा।

जिला सैनिक कल्याण अधिकारी कमांडर हरदत्त शर्मा ने बताया कि इस दौरान पूर्व सैनिकांे एवं आश्रितांे की पेंशन संबंधित समस्या, पूर्व सैनिकांे के बच्चांे का भाग-दो आदेश, केन्द्र एवं राज्य सरकार की ओर से जारी नये आदेशांे की जानकारी दी जाएगी। साथ ही रिलेश प्रमाण पत्र, पीपीओ मंे पत्नी का नामांकन, केन्द्र एवं राज्य सरकार से विभिन्न प्रकार की सहायता राशि की जानकारी देने के साथ पूर्व सैनिकांे एवं विधवाआंे के परिचय पत्र जारी किए जाएंगे। उन्हांेने पूर्व सैनिकांे एवं आश्रितांे को सेना की डिस्चार्ज बुक, पीपीओ, आधार कार्ड, बैंक पास बुक के साथ शिविर मंे उपस्थित होने के निर्देश दिए है।

0 टिप्पणियाँ:

Post a Comment

 
Top