बाड़मेर,अगस्त माह में आयोजित होने वाली बैठकांे का कार्यक्रम निर्धारित

बाड़मेर, 03 अगस्त। अगस्त माह मंे जिला कलक्टर की अध्यक्षता मंे आयोजित होने वाली बैठकांे का कार्यक्रम निर्धारित किया गया है। इस दौरान संबंधित अधिकारियांे को आवश्यक सूचनाआंे के साथ उपस्थित होने के निर्देश दिए गए है।

जिला कलक्टर शिवप्रसाद मदन नकाते ने बताया कि जिला स्तरीय जन सुनवाई एवं सतर्कता समिति की बैठक का आयोजन माह के द्वितीय गुरूवार 10 अगस्त को अटल सेवा केन्द्र मंे होगा। माह के द्वितीय सोमवार 14 अगस्त को प्रातः 10 बजे बीस सूत्री कार्यक्रम क्रियान्वयन समिति एवं दोपहर 12.30 बजे कलेक्ट्रेट कांफ्रेस हाल मंे जिला परिषद की ओर से संचालित समस्त विकास योजनाआंे की प्रगति संबंधित समीक्षा बैठक रखी गई है। इसी तरह 17 अगस्त को प्रातः 11.30 बजे जिला स्तरीय बंधक श्रमिक सतर्कता समिति, दोपहर 3 बजे जिला स्वास्थ्य समिति एवं जिला स्तरीय क्वालिटी एश्योरेंस समिति की बैठक आयोजित होगी। जिला कलक्टर नकाते ने बताया कि 21 अगस्त को प्रातः 11.30 बजे बागवानी विकास समिति आत्मा एवं कृषि विकास, दोपहर 3 बजे जिला पैरोल सलाहकार समिति, सांय 4.30 बजे कौशल विकास एवं आजीविका मिशन के लिए गठित टास्क फोर्स की बैठक, सांय 5.30 बजे जिला क्रीड़ा परिषद की बैठक आयोजित होगी। माह के चतुर्थ मंगलवार 22 अगस्त को प्रातः 11.30 बजे राष्ट्रीय पोषाहार योजना, सर्व शिक्षा अभियान, राष्ट्रीय माध्यमिक शिक्षा अभियान समीक्षा बैठक एवं दोपहर 3 बजे सिटी मोनेटरिग कमेटी बाड़मेर एवं बालोतरा की बैठक आयोजित होगी। इसी तरह 24 अगस्त को प्रातः 11.30 बजे आतंरिक सुरक्षा संबंधित बैठक, दोपहर 3 बजे जिला स्तरीय शांति समिति की बैठक, सांय 5 बजे जिला औद्योगिक सलाहकार समिति एवं जिला स्तरीय सर्वाधिकार समिति की बैठक आयोजित होगी। उन्हांेने बताया कि 28 अगस्त को दोपहर 3 बजे नवजीवन योजना समिति एवं पालनहार योजना समिति, सांय 4.30 बजे वन अधिकार अधिनियम समिति, जिला पर्यावरण समिति, परिसंकटमय अपशिष्टांे के व्ययन स्थल के चयन के लिए गठित समिति की बैठक एवं सांय 5.30 बजे आबकारी समिति की बैठक आयोजित होगी।

बाड़मेर मंे आपदा प्रबंधन मंे ड्रोन का इस्तेमाल
बाड़मेर, 03 अगस्त। अतिवृष्टि से प्रभावित इलाकांे मंे आपदा प्रबंधन मंे बाड़मेर जिला प्रशासन पहली मर्तबा आपदा प्रबंधन मंे ड्रोन की मदद ले रहा है। इसके जरिए प्रभावित इलाकांे मंे अतिवृष्टि से हुए नुकसान का आकंलन किया जा रहा है।

आमतौर पर ड्रोन का नाम आते ही आसमान मंे फोटोग्राफी करने का अंदाजा लगाया जाता है। लेकिन बाड़मेर जिला प्रशासन ने ड्रोन के जरिए आपदा प्रबंधन करने की अनूठी पहल की है। बाड़मेर में ऐसे स्थान पर जहां कार्मिक नहीं पहुंच पा रहे है वहां ड्रोन के जरिए सर्वे किया जा रहा है। जिला कलक्टर शिवप्रसाद मदन नकाते के मुताबिक बाड़मेर जिले के धोरीमन्ना एवं गुड़ामालानी मंे अतिवृष्टि प्रभावित गांवांे मंे ड्रोन के जरिए पहली बार प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना के तहत मुआवजे के लिए सर्वे किया जा रहा है। इसके अलावा सड़कांे की स्थिति, अतिवृष्टि से हुए नुकसान का भी आकंलन किया जा रहा है। उनके मुताबिक ड्रोन से सर्वे राजस्व कार्मिकांे के लिए काफी मददगार साबित हो रहा है। इससे प्रभावित इलाकांे मंे पानी मंे फंसे पशुआंे का पता लगाने के साथ अतिवृष्टि से हुए नुकसान के आकंलन मंे खासी मदद मिल रही है।

स्वतंत्रता दिवस समारोह तैयारियों की समीक्षा बैठक 9 को
बाड़मेर, 03 अगस्त। स्वतंत्रता दिवस समारोह के अवसर पर जिला मुख्यालय पर आयोजित किये जाने वाले विभिन्न कार्यक्रमों की तैयारियों की समीक्षा बैठक जिला कलक्टर शिवप्रसाद मदन नकाते की अध्यक्षता में 9 अगस्त को दोपहर 3.00 बजे कलक्ट्रेट कांफ्रेन्स हॉल में आयोजित की जाएगी।

अतिरिक्त जिला कलक्टर ओ.पी. बिश्नोई ने संबंधित अधिकारियों को उन्हें सौपे गये कार्यो की प्रगति रिपोर्ट के साथ निर्धारित समय पर बैठक में उपस्थित होने के निर्देश दिए है।

अतिरिक्त जिला कलक्टर की अगस्त माह में आयोजित

होने वाली रात्रि चौपालांेे का कार्यक्रम निर्धारित

बाड़मेर, 03 अगस्त, अतिरिक्त जिला कलक्टर ओ.पी.बिश्नोई की अगस्त माह मंे आयोजित होने वाली रात्रि चौपालांे का कार्यक्रम निर्धारित किया गया है। इस दौरान संबंधित विभागीय अधिकारियांे को आवश्यक रूप से उपस्थित होने के निर्देश दिए गए है।

अतिरिक्त जिला कलक्टर ओ.पी.बिश्नोई ने बताया कि निर्धारित कार्यक्रम के अनुसार 9 अगस्त को चौहटन कलस्टर की केरनाडा, तारातरा मठ, आंटिया एवं गोलिया ग्राम पंचायत के लिए ग्राम पंचायत आंटिया, 17 अगस्त को रामसर कलस्टर की रामसर, भाचभर एवं तामलियार ग्राम पंचायत के लिए ग्राम पंचायत भाचभर, 22 अगस्त को हरसाणी कलस्टर की हरसाणी, बंधडा, रतरेडी कलां ग्राम पंचायत के लिए ग्राम पंचायत हरसाणी तथा 24 अगस्त को हाथला कलस्टर की भलगांव, गिडा, नवापुरा एवं लकडासर ग्राम पंचायत के लिए लकडासर ग्राम पंचायत मुख्यालय पर रात्रि चौपाल का आयोजन होगा। उन्हांेने बताया कि प्रत्येक रात्रि चौपाल मंे संबंधित ग्राम पंचायत के ग्रामीणांे की समस्याआंे एवं अभियोगांे का मौके पर ही निपटाने के लिए ग्रामीण विकास विभाग, जन स्वास्थ्य अभियांत्रिकी विभाग, डिस्काम, चिकित्सा एवं स्वास्थ्य विभाग, सार्वजनिक निर्माण विभाग, पशु पालन, कृषि विभाग, शिक्षा, सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता विभाग, रसद विभाग के साथ संबंधित उपखंड अधिकारी, तहसीलदार, नायब तहसीलदार, विकास अधिकारी एवं भू अभिलेख निरीक्षक, पटवारी एवं ग्रामसेवकांे को आवश्यक रूप से उपस्थित होने के निर्देश दिए गए हैं। संबंधित तहसीलदार एवं विकास अधिकारियांे को चौपाल कार्यक्रम का अधिकाधिक प्रचार एवं प्रसार करने के निर्देश दिए गए है। ताकि इसका लाभ क्षेत्र के प्रत्येक ग्रामीण को मौके पर मिल सके। उन्हांेने बताया कि चौपाल मंे प्रत्येक ग्रामवार समस्याआंे पर चर्चा की जाएगी। चौपाल की समाप्ति पर खुली चौपाल मंे जन सुनवाई का आयोजन होगा। इसमें किसी भी प्रकार की मौसमी बीमारी, पशुआंे मंे बीमारी होने पर उसके उपचार, पेयजल एवं विद्युत व्यवस्था की स्थिति, राशन एवं पोषाहार वितरण के संबंध मंे समस्या होने पर जन सुनवाई की जाएगी।

0 टिप्पणियाँ:

Post a Comment

 
Top